4 महीने का बच्चा

Question: Mere bachi ki laar bhut nikalati hain kya karu

2 Answers
सवाल
Answer: Kya karu
Answer: Hii
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Meri bachi sardi hui hain Kya karu
उत्तर: Agar baby 9maah ki hai to.छोटे बच्चे को सर्दी खांसी बहुत ही जल्दी लगती है आप भी बीच में बच्चे की गीली नैपकिन बदलते रहिए। अब बच्चे को सर्दी से संक्रमित व्यक्ति से दूर रखने की कोशिश कीजिए आप उनके कपड़ों को किसी अच्छे एंटीबैक्टीरियल शॉप में धोकर एंटीबैक्टीरियल पानी में डुबोकर धोकर फिर धूप में अच्छे से सुखा कर रखिए और यूज कीजिए। आप बच्चे के सीने में सरसों के तेल में 3... 4 कड़ियां लहसुन की kadka कर तेल को गर्म करके ठंडा करके अच्छे से सीने में मसाज कर सकती इससे बच्चे को सर्दी और खांसी में थोड़ा आराम मिलेगा। आप बच्चे को भाप दे सकती है पर छोटे बच्चों को भाप देने के लिए आप गर्म आप बाथरूम में गर्म पानी टब में ऑन कर दीजिए। थोड़ी देर के लिए बाथरूम को बंद करके रखे जिससे बाथरूम में बाप भर जाएगा और अपने छोटे बच्चे को आप लेकर थोड़ी देर के लिए बैठ जाइये। जिससे उनको सीने में कफ नहीं जमेगा और खांसी और सर्दी में थोड़ा आराम मिलेगा। आप बच्चे का सिर हल्का सा ऊपर रखकर सुलाएं जिससे उन्हें खांसी काम आएंगी सिर का पोजीशन थोड़ा सा ऊपर होना चाहिए इसके लिए आप पतला तकिया कभी यूज कर सकती है। आप उन्हें पीने के लिए उबाल का ठंडा किया गया हल्का गर्म पानी पीने के लिए दीजिए आप उनके भोजन से ठंडी वस्तुएं अभी कुछ दिनों के लिए अवॉइड कीजिए जैसे कि दही आइसक्रीम या फिर केला..ताजे सब्जियों के सूप बनाकर दीजिए इससे बच्चे को एनर्जी मिलेगी और उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ेगी.. ज्यादा तकलीफ है या आपको आराम नहीं मिलता है तो आप डॉक्टर के पास जाइए और बच्चे का इलाज करवाइए बच्चे की खांसी सर्दी देखकर सीने को चेक करके आपको बेहतर सलाह देंगे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri bachi bhut kam khana khati hai vo 15 month ki hai abhi chal na bi nahi sikhi kya karu?
उत्तर: हेलो डियर कुछ बच्चे लेट चलते हैं इसमें कोई इतनी चिंता की बात नहीं है आप अपने बच्चे को अच्छे से डाइट दे और बेबी के पैरों की मसाज अच्छे से करें और बेबी के लिए Chu chu वाले सैंडल्स या शूज लेकर आए इससे बेबी को पहनाकर चलवाए इससे बीपी को चलने का शौक आने लगेगा और अपने बच्चे को ज्यादा से ज्यादा जमीन पर छोड़े धीरे धीरे बच्चा पकड़ पकड़कर चलना शुरू होगा और एक दिन बच्चा बिना सहारे के चलना तो क्या दौड़ने लगेगा थोड़ा समय दीजिये अपने बेबी को बच्चा हर काम अपने टाइम पर करता है घबराई नहीं यदि आपका बच्चा एक्टिव है तो चिंता न करें आप अपने बच्चे का बहुत ही आसानी से वजन बढ़ा सकते हैंआप अपने बेबी को घर का बना पौष्टिक आहार दें जैसे कि सूजी का दूध रागी का हलवा सभी तरह की दालें चावल उबला आलू पनीर पोहा अंडा सूप चाहें तो वेजिटेबल या अगर आप चिकन खाते हैं तो चिकन का सूप दाल के साथ रोटी हरी सब्जियों के साथ रोटी सॉफ्ट परांठा जो कि आप बहुत ही आसानी से बना सकते हैं इसके लिए आप आटे में दूध मिलाकर गुनकर बनाएं इससे बहुत रोटी सॉफ्ट बनती है बच्चा आसानी से खा लेता है बच्चे को अलग अलग वैरायटी ऑफर करें खाने में और बच्चे की डाइट में घी और बटर भी शामिल करें इससे भी बच्चे का वेट बढ़ता है टाइम से पानी भी देते रहे पानी पीने से भी बच्चे को खुलकर भूख लगती हैं बाकी आप अपने बच्चे को अपने दूध के साथ साथ ऊपर का दूध भी दे चिंता नहीं करें डियर बच्चे का ऐक्टिव होना बहुत जरूरी है यदि आपका बच्चा एक्टिव हैं तो आप ज्यादा चिंता नहीं करें बैठ बढ़ जाएगा:)
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Meri bachi ko gass ki problem he... Me kya karu
उत्तर: हैलो डियर-छोटे बच्चे माँ के दूध पर निर्भर होते हैं। माँ कोई गैस बनने वाली या चटपटी और तीखी चीजें खा लेती हैं तो इसका असर बच्चे के उपर पड़ता है।और पेठ में गैस बनता है। (1) बच्चे को गैस से राहत दिलाने के लिए उसे सबसे पहले डकार दिलाएं, क्योंकि इससे बच्चे के पेट का गैस बाहर निकलेगा। डकार दिलाने के लिए बच्चे को अपने कंधे पर सुला कर हाथों से पीठ को सहलाएं इससे बच्चे का डकार निकेगा, और उसे गैस की समस्या से राहत मिलेगी।(2)बच्चे के पेट में गैस को कम करने के लिए बच्चे के पैरों को उठायें और साइकिल जैसा चलायें इससे बच्चे के पेट से गैस निकलने मे सहायता होगी (3)बच्चे के पेट को हल्के गुनगुने सरसों के तेल से मालिश कर सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें