7 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere kamar aur nabhi k nichle wale bhag me halka halka dard hota hai kyu?

1 Answers
सवाल
Answer: देखिए चिंता करने की बिल्कुल जरूरत नहीं है क्योंकि पेट और कमर में दर्द आमतौर पर हल्की असुविधाओं का परिणाम होता है जो गर्भावस्था में होता है प्रेगनेंसी के दौरान पेट और कमर में दर्द होना सामान्य है यदि दर्द तेज और लगातार हो रहा है या आप तीव्रता और रक्षा महसूस कर रहे हैं तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए कुछ ऐसे कारण भी हैं जो चिंताजनक नहीं होते हैं जैसे की राउंड लिगामेंट्स में दर्द जैसे-जैसे यूट्रस बढ़ता है राउंड लिगामेंट्स खिंचाव होता है जिसकी वजह से पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है आमतौर पर कुछ समय बाद गायब हो जाते हैं अगर दर्द ऐसे असहनीय हो तो आप डॉक्टर से कंसल्ट करें गैस और कब्ज गर्भावस्था में प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन का स्तर भर जाता है इसके कारण पेट में गैस और कब्ज की शिकायत हो जाती है अधिक पानी पिएं फाइबर युक्त भोजन खाने और नियमित रूप से व्यायाम करने से आपको इसमें आराम मिल सकता है गर्भाशय का बढ़ना गर्भाशय के बढ़ने की वजह से आपको दर्द का एहसास होता है दर्द अगर ज्यादा हो तो आप अपने डॉक्टर से कंसल्ट कर सकते हैं कुछ घरेलू उपाय भी अपना सकते हैं दर्द वाले हिस्से पर गर्म पानी की बोतल से सिकाई करें या गर्म पानी से स्नान करें खूब सारा पानी या तरल पदार्थ भी है फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ जैसे चोकर फल और सब्जियां खाएं बार-बार लेकिन थोड़ा भोजन करें आराम करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: पेट के निचले भाग में बहुत दर्द क्यों होता है
उत्तर: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय में आपका यूट्रेस बढ़ जाता है जिसकी वजह के पेट कर निचले हिस्से या नाभि के आस पास में दर्द होने लगता है ऐसे में गर्भाशय को सहारा देने वाली मासपेशियो में दर्द होने की वजह से पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है , आपको जब ऐसा दर्द हो तब आप आराम कर ले , खूब पाने पीती रहे ,दर्द होने पर हल्की हल्की गुनगुनी पट्टी से सिकाई कर सकते है प्रेग्नेंसीय में ऐसा दर्द नार्मल होता है अगर ये दर्द असहनीय हो यो आप तुरंत डॉक्टर को दिखाए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pet ke nichle hisse me roj halka ya kbhi tej dard or kamar dard kyu hota h
उत्तर: डियर इस दौरान पीठ में दर्द होना बहुत आम है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि गर्भाशय में गर्भ पल रहा होता है जिससे आगे का भाग काफी भारी हो जाता है. पेट भारी हो जाने की वजह से पीठ में झुकाव आना शुरू हो जाता है. इस वजह से पीठ में लगभग हर रोज दर्द रहने लगता है.एक ही अवस्था में बहुत देर तक बैठने या खड़ी होने से बचें। कामकाजी स्त्रियां ऑफिस में काम करते समय अपने पैरों को ज़मीन पर लटकाने के बजाय उन्हें किसी छोटे स्टूल पर टिकाकर रखें। रात को लेटते समय पैरों के नीचे तकिया रखें। बैक पेन से बचाव के लिए बैठते समय पीठ और कमर को कुशन का सपोर्ट दें। हेलो डियर गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है। गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है। थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे कमर के निचले हिस्से में दर्द क्यों होता है?
उत्तर: कमर और पेट के नीचले हिस्से meदर्द हो ना नॉर्मल है इसलिए आप पर ेशान मत हो ।ऐसा प्रेग्नंसी के दौरान बॉडी मे होने वाले हर्मोनल परिवर्तन की वजह से होता है । जिसकी वजह से कमर और पेट के नीचले हिस्से में दर्द होने लगता है यह हारमोनल परिवर्तन के कारण भी होता है। कमर और पेट दर्द को दूर कर ने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं ज्यादा देर तक एक ही स्थिति में ना बैठे संतुलित और पौष्टिक भोजन लीजिए ज्यादातर देर तक एक ही अवस्था में ना लेटे थोड़ी थोड़ी देर पर करवट बदलते रहे कमर दर्द दूर करने के लिए आप कुछ एक्सरसाइज और योगा भी कर सकती हैं कमर दर्द को दूर करने के लिए आप अपने कमर की मालिश सरसों के तेल से कीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: pet ke nichle bhag me dard hota hai aisa kiyo
उत्तर: हेलो डियर हल्का फुल्का पेट दर्द तो आपकौ पूरी प्रेग्नंसी मे ही होगा ।ऐसा बॉडी मे होने वाले हर्मोनल परिवर्तन की वजह से होता है ।कभी कभी पेट दर्द गैस या कब्ज की वजह से भी होता है। पेट दर्द को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं- आप लगातार एक ही स्थिति में खड़ी ना रहे ,ना ज्यादा देर तक कहीं पर बैठे ।संतुलित और पौष्टिक भोजन ही करें । ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिए । ज्यादा हील वाली च्प्पल ना पहने। तनाव मुक्त रहें । जमीन पर पैरों को मोड़ कर ना बैठे । एक ही स्थिति में ज्यादा देर तक ना सोए। और अगर आपको ज्यादा पेट दर्द हो रहा है तो आप तुरंत ही अपने डॉक्टर से मिलें ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें