9 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere muh ka test bht khrab rhta h m hajmola dal leti hu koi problam to ni h isse mujko ya baby ko

1 Answers
सवाल
Answer: हां आप प्रेगनेंसी में हाजमोला खा सकती है। लेकिन इसे ज्यादा ना ले। इसमें नमक, काला नमक, कालीमिर्च, सेंधा नमक, सोँफ, सुगर, अदरक, नीम्बू ये सब होता है। इसकी ज्यादा मात्रा ना ले।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hlo maam meri tbiyat thoda khrab h plate let km h baby dhud pine wala h to kya me papite ke pttiyo ka jus pi skti hu ya bakri ka dhud ye sb . baby ko koi problam to ni hogi
उत्तर: ha baby k b bhut fayda karega bakri ka dudh...bakri ka dudh toh mai apne bache ko b pilati ti 3mnth ki ti jab
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mujko thiyrod t4 13.69 h isse koi problam to nhi h mam kajur kaha sakti hu
उत्तर: आप प्रेगनेंसी में खजूर खा सकते हैं. हुजूर में काफी मात्रा में आयरन होता है जो आपकी हेल्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद होगा आप इसे दूध के साथ भी ले सकती हैं| खजूर को दूध में उबालकर थोड़ी गाजर डाल कर उसकी खीर बनाकर आप इसे खा सकते हैं नॉर्मल थाइरॉइड स्टिमुलतिनग हार्मोस TSH प्रेग्नेन्सी के समय low रहता है नॉर्मल नोनप्रेगननसी लेवल के . 1st ट्रिमेस्टेर में 2.5 से कम रहता है .रेंज है 0.1 से 2.5 . 2nd ट्रिमेस्टेर में 0.2 से 3.0 तक . अगर प्रेग्नेंसी में थायराइड हो गया है तो परेशानी की कोई बात नहीं है डॉक्टर द्वारा दी गई दवाइयां को समय पर ले. समय-समय पर अपना ब्लड टेस्ट कराएं और ध्यान रखें कि आप डॉक्टर से सलाह करके ही थायराइड में सहायक होने वाले व्यायाम या एक्सरसाइज या कोई प्राणायाम करें. आमतौर पर pregnancy के दौरान थायरॉयड के इलाज में दवाओं के डोज बढ़ा दिए जाते हैं लेकिन बच्चे के जन्म के बाद इसे जरूरत के हिसाब से कम कर दिया जाता है। थायराइड आजकल ऐसी प्रॉब्लम है जो बहुत सी लेडीस को होती है ।परेशान मत होइए। हमारे गले में थायराइड ग्लैंड से होती हैं। जो शरीर से आयोडीन लेकर थाराइड हॉर्मोन्स बनाते हैं। यह हारमोंस शरीर में मेटाबॉलिज्म को बनाए रखने में मदद करते हैं। जब इन हारमोंस की मात्रा बढ़ती है या कम होती है तब थायराइड की प्रॉब्लम हो जाती है। जिससे हमारे शरीर में अंदर बाहर बहुत से बदलाव होते हैं । यह दो प्रकार के होते हैं १।हाइपो थायराइड और २।हाइपर थायराइड। थायराइड होने पर आप इन्हें अपने खाने में जरूर शामिल करें। मशरूम -मशरूम में सेलेनियम होता है । थायराइड को कंट्रोल करता है। अंडा -अंडे में भी सेलेनियम होता है। जो थायराइड कम करने में मदद करता है। आप रोज एक अंडा खाए। नट्स खाने से भी थाराइड हारमोंस में मदद मिलती है। आप नट्स में बादाम और अखरोट खा सकती हैं अगर आपको कोई कैलेस्ट्रोल प्रॉब्लम है तो। दूध -दूध पीने से थायराइड हारमोंस को कंट्रोल करने में बहुत मदद मिलती है ।रोज एक गिलास दूध जरूर पीना चाहिए। साबुत अनाज -साबुत अनाज रोज में खाने से थायराइड के साइड इफेक्ट से आप बच सकते हैं। मेथी -मेथी में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो थायराइड हार्मोन कंट्रोल करते हैं । इन सभी चीजों को अपने रोज के आहार में शामिल करें आपके थायराइड समस्या में बहुत आराम मिलेगा। थायराइड होने पर क्या नहीं खाएं । आयोडीन नमक -ऐसा नमक नहीं है जिस में आयोडीन की मात्रा ज्यादा हो।ऐसा कोई आहार ना ले जिसमें आयोडीन बहुत हो। चाय व कॉफी कम से कम ले । अल्कोहल बिल्कुल भी ना लें। वनस्पति घी या डालडा का प्रयोग ना करें। कैपिंग अपना ध्यान रखें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere gas prblm bhut h kya m hajmola kha skti hu jissemere muh ka test bhi bdl jay
उत्तर: गर्भावस्था में अक्सर गैस बनने की परेशानी होती है जिससे आप घरेलू उपायों द्वारा उपचार कर सकती हैं। 1) अपने मेथी के दानों को भीगा कर सुबह उसका पानी पी लें इससे आपको गैस से राहत मिलेगी 2) गर्भावस्था में अधिक से अधिक पानी पीना गैस की समस्या का निवारण है 3) फाइबर युक्त भोजन और फलों का सेवन करना चाहिए । 4) पानी में अजवाइन डालकर उबाल लें और इसे पूरे दिन थोड़ी थोड़ी मात्रा में पिए इससे आपको गैस से राहत मिलेगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें