गर्भावस्था की तैयारी

Question: mere breast se paani nikal raha hai

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों प्रेग्नेसी में पहली तिमाही के बाद किसी किसी प्रेगनेट महिला को निप्पल से व्हाइट डिसचार्ज होने लगता है जिसे कोलोस्ट्रम कहते हैं इसका मतलब यह है कि आपके ब्रेस्ट दूध बनाने की प्रक्रिया को शुरू कर चुके हैं ये भी प्रेग्नेसी के लक्षणों की तरह है इसलिए आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है .आपके ब्रेस्ट से जो सफेद डिस्चार्ज हो रहा है वह आपके डिलीवरी तक हो सकता है उसके बाद आपके ब्रेस्ट से दूध निकलना शुरू हो जाएंगे जिससे बात अपने बच्चे को ब्रेस्ट फीड करा सकती एक ही अच्छी बात है कि आपका शरीर अपने आप को तैयार कर रहा है जिससे डिलिवरी के बाद आपके बच्चे को ब्रेस्ट फीड करने में कोई तकलीफ ना हो
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere nipple se halka halka paani nikal ra hai ..kya y normal hai
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में नेपाल से पानी आना बहुत ही नॉर्मल होता है प्रेग्न्सी के तीन महीने बाद ही ब्रेस्ट में भूत सारे बदलाव आते है उन्ही में से दूध निकलना भि है आपका ब्रेस्ट आपके आने वाले बेबी के लिए खुद को तैयार कर रहा होता है क्योकि डिलेवरी के बाद यही दूध pani 6 महीने तक बेबी का मुख्य आहार होगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mam im 3 month pregent per mere breast se paani jaisa nikal raha hai koi problem t nhi hai
उत्तर: हल्लो...आप बिल्कुल घबराये नहीं ...आप बिल्कुल ठीक hai...प्रेग्नन्सी में बॉडी में होने वाली हार्मोनल चेंजेस की वजह से आप को अपने बॉडी मई कुछ बदलाव भी नज़र आते है..ये नार्मल है..कभी कभी बोओब्स से पानी aana ..बोओब्स का कला होन,बूब्स मई हल्का pain होना आम बात है..आप जब नहाने जाये तब निप्पल्स को हल्के हाथों से कटतें या मलमल क कपडे से रगडे...esse निप्पल साफ़ होंगे...or बेबी होने पर उसे ब्रेस्ट फीड करने में आसानी होगी... आप निप्पल को साफ़ कर क थोड़ा नारियल तेल या कोई ऑइंटमेंट लगा ले...अपने ब्रैस्ट क दर्द को कम करने क लिए आप ब्रैस्ट पर नारियल तेल से हल्के हाथों से massage कर सकते है...ओर टॉवेल को थोड़ा गर्म पानी में भिगा कर सीक भी कर सकती है..आप को आराम मिलेंगा...Ok...take care...dear
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mere breast se paani kyu nikal rha h
उत्तर: हेलो डियर,, स्तनों से दूध आना या गाढ़ा चिपचिपा पानी सा निकलना कोई घबराने यह चिंता करने की बात नहीं है यह स्तनों में दूध बनने की शुरुआत के कारण होने वाली प्रक्रिया है ताकि आगे जाकर स्तनों में इस प्रक्रिया के आगे दूध का निर्माण होने लगता है इसलिए आपको किसी भी प्रकार की दवाइयां या उपाय करने की जरूरत नहीं है यह एक नेचुरल प्रोसीजर है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें