2 महीने का बच्चा

Question: mere bete roti bhut h .soti bhut kam kya karu

1 Answers
सवाल
Answer: इसका कारन रिफ्लक्स या गैस हो सकता है. छोटे बच्चो में गैस की प्रॉब्लम आम बात है. उसके लिए आप उसे हर बार दूध पिलाने के बाद अच्छे से डकार लगाए. उसे अपने कंधे पे रखकर उसकी पीठ को हलके से थोड़ी देर क लिए थपथपाये. उसे बेड पर लेटकर उसके पैरो को साइकिलिंग जैसे एक्सरसाइज करवाए. और ऐसा करने क तुरंत बाद उसके पैर पेट की और ले जाकर हलके से दबाये. ऐसा करने पर उसे गैस से रहत मिलेगी और उसे अच्छा महसूस होगा.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere bete hoti bhut h .aur soti bhut kam h kya karo
उत्तर: hello अगर आपकी बेबी दिन भर रोती है तो उसको क्या प्रॉब्लम है यह आप समझिए। क्या आपकी बच्ची का पेट नहीं भरता बच्चे अक्सर भूखे होने पर गहरी नींद नहीं ले पाते। आप ध्यान दें कहीं बेबी भूखी तो नहीं है या बच्चे के पेट में गैस बनता है जिसके कारण बच्चे के पेट में दर्द बना रहता होगा और बच्चा रोता होगा। क्या बच्चे को डायपर की वजह से रेसेस हो गए हैं। कभी-कभी बच्चे पॉटी की जगह पर कीड़ा काटने से भी पूरी नींद नहीं ले पाते यह सब कारण बच्चे के रोने और नहीं सोने के हो सकते हैं लेकिन अगर आपका बच्चा कम सोता है और और स्वस्थ है तो घबराने वाली कोई बात नहीं है। आप बच्चे को शाम के समय सोने ना दे जो बच्चे शाम के समय सो जाते हैं वह रात में सोते नहीं हैं।परेशान ना हो । 2 महीने तक के बच्चों को दिन और रात का अंतर पता नहीं होता। 2 महीने के बाद बच्चे अंधेरा होने को रात और रोशनी को दिन समझते हैं। शुरुआती दिनों में बच्चे के सोने के कमरे की रोशनी एकदम कम रखें। बच्चे तेज रोशनी को दिन समझते हैं और सोते नहीं हैं 6 महीने के बाद ही बच्चे दिन और रात का अंतर कर पाते हैं। तब वो रात में सोना शुरू कर देते हैं और दिन में जागना अभी आपका बेबी बहुत छोटा है पेसेंस रखे थे यह सब ठीक हो जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri beti 19 din k8 h...bhut roti h or soti b bhut kam h...kya kru
उत्तर: hello दो-तीन महीने तक छोटे बच्चों को दिन और रात का फर्क नहीं मालूम रहता अंधेरा होने को रात और उजाला को दिन समझते हैं उनकी बॉडी क्लॉक अभी बाहर से एड जस्ट नहीं हुआ रहता। रात में सोते समय बच्चे के कमरे में कम रोशनी रखें और आवाज बिल्कुल ना करें धीरे-धीरे बच्चों को सोने की आदत होने लगेगी। अगर बच्चा रात में सोता नहीं है तो भी कमरे की रोशनी ज्यादा तेज ना करें धीरे-धीरे गोदी में लेकर घूमे या बच्चे को अपना दूध पिलाये। पेट भरने पर और अंधेरा रहने पर बच्चा थोड़ी देर में सो जाएगा। जब तक बच्चा चार-पांच महीने का नहीं हो जाता ऐसी परेशानी झेलनी पड़ती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरी bachchi roti bhut h or soti kam h m kya karu
उत्तर: हेलो डियर छोटे बेबी अक्सर bhunkकी वजह से रोते हैं इसलिए आप अपने बेबी को हर 2 घंटे में अच्छे से 10 से 15 मिनट तक दूध पिलाएं या फिर हो सकता है कि बेबी थकान की वजह से भी रोते हैं इसलिए आप बेबी की अच्छे से रेगुलर मालिश करें दिन में दो से तीन टाइम बेबी की मालिश कर सकते हैं हो सकता है कि बेबी गैस की वजह से रो रहा हो या बेबी के पेट में कोई प्रॉब्लम हो जैसे कि दर्द तो आप उसके लिए डॉक्टर से सलाह लें
»सभी उत्तरों को पढ़ें