12 महीने का बच्चा

Question: mere bete ko bhot sardi or khasi hui h kl se fiver ni utar rha hai btaye mai kya kru

1 Answers
सवाल
Answer: hello dear सामान्य सर्दी जुकाम होने पर आप कुछ घरेलू उपाय द्वारा बच्चे को आराम दिला सकती हैं पर अगर बच्चे को सर्दी खासी अधिक हो और साथ में बुखार भी हो तो आपको कोई भी मेडिसिन बिना डॉक्टर चला कि नहीं देना चाहिए और एक बार डॉक्टर से दिखा लेना चाहिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मैम बेबी को फीवर h नहीं उतर रहा कल से जुकाम खांसी sb क्या करूँ मैम
उत्तर: हेलो बुखार आने पर घरेलू उपचार करना बेहतर होता है छोटे बच्चे काढ़ा या दवाई पीने में नखरे करते हैं, क्योंकि वह कड़वा होता है इसलिए इसके लिए थोड़े पानी में आप तुलसी, मुलेठी, शहद और शक्कर मिलाकर उबाल लें, यह मीठा बनेगा और बच्चे इसे पीने से मना भी नहीं करेंगे। आप शहद, अदरक और पान के रस को बराबर मिलाकर एक रस तैयार कर लें। इसे रोजाना सुबह-शाम थोड़ी-थोड़ी मात्रा में बच्चे को चटाई इससे बुखार कम होता है 8 काली मिर्च, 10 तुलसी की पत्तियां और स्वादानुसार अदरक और दालचीनी को पानी में उबाल लें। इसे थोड़े-थोड़े समय में बच्चे को एक-एक चम्मच पिलाती रहें बुखार काफी तेज हो, तो ठंडे पानी में भिगोई हुई पट्टियां माथे पर रखें। इससे भी बुखार काफी तेजी से गिरता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे बेटे को सर्दी हुई है.नाक से पानी आ रहा है.बहुत चिड़चिड़ा हो रहा है क्या करूँ बहुत रोता है
उत्तर: अब सोते समय बच्चे का सिर थोड़ा सा ऊपर रखें सांस लेने में तकलीफ नहीं होगी डॉक्टर से सलाह लेकर एक नेजल ड्राप ले ले उसकी नाक में डालें ताकी उसकी नाक बंद ना हो, आप  नेज़ल एस्पिरेटर का भी यूज कर सकती हैं इसे आप नाक साफ कर ले प्रॉपर्ली और फिर बच्चे को तब सुलाएं ,ईजी ब्रिथ की कैपस्यूल आती है मार्केट में आपको इजीली आपको मिल जाएगी।इसमे नीलगिरी का तेल होता है बच्चे के कपड़े पर सिर्फ दो ड्रॉप्स  डाले इससे बच्चे को सांस लेने में आसानी होगी , सरसों के तेल में लहसुन डालकर गर्म करें इससे बच्चे की मालिश करें ,आप हमीदीफीएर अपने घर में लगा सकते हैं बच्चे को आराम मिलेगा, बच्चे को भाप दे सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere bete sardi jhukam khasi ho rahe hai kl se kya kru ?
उत्तर: हेलो डियर ,,,बेबी को अपना दूध पिलाते रहिए सरसों तेल में लहसुन की कुछ कलियां डालकर उसे हल्का गर्म करें और इस से बेबी के छाती तलवों पर हल्की हल्की मसाज करें ,अजवाइन की पोटली का यूज बेबी के छाती तलवों पर कर सकती हैं, मौसम के अनुसार बेबी को कपड़े पहनाए बेबी के कान टोपी से ढक कर रखें ,हाथ पैरों में मोजे पहना कर रखें बेबी को सीधे पंखे के नीचे ना सुलाये|
»सभी उत्तरों को पढ़ें