17 महीने का बच्चा

Question: mere bete ko bahut jyada constipation rehti है मेडिसिन b di but koi fark nhi padta kya karun . any home remedy plz

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere bete ko bhot jyada khasi ho gye h so bhi nhi pa rha kya kru abhi med. di to vomit kr di
उत्तर: Khasi ठीक हाॅन मि 2..3 डिन लॅग hi jaate हैं ..छोटे बच्चों को सर्दी खासी बहुत जल्दी लगती है.. आप चिंता ना करें.. Aap अपना दूध पिलाते रहिये. आप अपने बच्चे के कपड़े साफ antibacterial साबुन मे धोकर धूप मे सुखा कर रखे. उसकी गीली नैपकिन समय समय पर बदलते रहे. बच्‍चे को किसी ज़ुकाम से ग्रस्त व्यक्ति के sampark से दूर रखिए .. आप ख़ासी सर्दी ठीक करने के लिए सरसो क तेल में २ से ३काली लह्सुन की भूरी होने तक पका ले फर उसे ठंडा करके बच्चे के सीने में मालिश कीजिए इससे उनको आराम मिलेंगा। आप बच्चे को भाप दे इससे उनके सीने में कफ जमेगी नहीं ।भाप देने के लिए बाथरूम में तब में गर्म पानी निकल कर रख दे जिससे बाथरूम में भाप भर जाये फिर थोड़ी देर अपने बच्चे को लेकर बाथरूम में बैठे।।।इससे उनको बहुत आराम मिलेगा । अगर अराम नही मिल रहा या ज़्यादा तकलीफ़ है तो डॉक्टर को ज़रूर दिखायें ..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे बेबी को कॉन्स्टिपेशन हुई कोई होम रेमेडी बताएं प्लीज कॉन्स्टिपेशन के लिए
उत्तर: हेलो छोटे बेबी को अक्सर कब्ज की प्रॉब्लम हो जाती है और उनको फोटो भी बहुत टाइट आती है जिस वजह से बेबी को तकलीफ होती है मैं आपको कब्ज के कुछ उपाय बताती हूं जिससे कि आपको इसका असर दूसरे दिन ही बेबी में दिखेगा आप बेबी के पेट का मालिश अरंडी के तेल से रेगुलर करें पेट की मालिश आप जिस तरह से घड़ी गोल-गोल घूमती है उसी तरह से आप अपने हाथों से बेबी के पेट में गोल-गोल घुमाते हुए 5 से 10 मिनट तक मालिश करें थे बेबी की पॉटी नॉर्मल हो जाएगी और उसको पॉटी करने में तकलीफ भी नहीं होगी
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere bete ko कॉन्स्टीपेशन की problem rehti है doctors ko bhi dikhaya पर koi aram nahi है
उत्तर: hello dear जब बच्चों को ठोस शुरू होता है, तो उसे रोज पूप करना चाहिये 1 दिन गैप हो जाए तो कोई बात नही लेकिन यह मुश्किल नहीं होना चाहिए क्योंकि यह कब्ज की शुरुआत हो सकती है। आहार में चावल, केले, गाजर आदि जैसे कम फाइबर भोजन की कमी के कारन ऐसा होता है। 1.कुछ दिनों के लिए kheer आदि जैसे अन्य दूध के बने सामान बेबी को ना दें। 2.छिलके के साथ ऐप्पल प्यूरी, और prunes रस के साथ नाशपाती प्यूरी दें। 3.. रात में किशमिश भिगो दें और अगली सुबह उसका पानी दें। 4.. अनार का छिलका पानी में उबालें और वह पानी दें। 5.. ओट्स और बहुत सारे पानी जैसे समृद्ध फाइबर आहार शामिल करें। 6. गर्म तेल के साथ बच्चे के पेट मालिश। 7. गर्म पानी स्नान। 8. बेबी के आहार में दही, सलाद, मक्खन शामिल करें। 9. अधिक तरल आहार।
»सभी उत्तरों को पढ़ें