3 साल का बच्चा

Question: mere bete ke jibh me dana dana sa nikla hua h kaise thik hoga

1 Answers
सवाल
Answer: hello dear kabhi kabhi chote baccho ke lagatar स्तनपान करने के कारण बच्चों के जीभ में छाले या इंफेक्शन हो सकता है जिसे रोज साफ करना आवश्यक है।बच्चों का जीभ साफ करने के लिए सबसे पहले कॉटन का पतला कपड़ा लेकर साफ पानी से गिला करें और उसे उंगली से लपेटकर बच्चे का सर एक हाथ में पकड़ ले और दूसरे हाथ से बच्चे के जीभ को साफ करें ऐसा आप दो से तीन बार करें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere beta ke taung me dana dana nikla hua h isko thik
उत्तर: हेलो डियर आप के बेबी का पेट डेली साफ़ होना चाहिये उसको कब्ज़ की प्रॉब्लम ना हो छालो के लिये आप ये लगा सकती हैं। नारियल का तेल या नारियल पानी कुछ भी छालों पर लगाने से बेबी को बहुत राहत मिलेगी छालों में दर्द भी होता है इसलिए घी भी लगा सकते हैं। दही ठंडा होता है दही पेट में जाता है तो थोड़ा ठंडा होता है शरीर जिससे छाले जल्दी सही होते है। बेबी को आइसक्रीम खिलाएं जिससे उसका मुंह ठंडा रहेगा और जलन कम होगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेंre निचले पार्ट्स me दाना हुआ है ये क्या है और kaise ठीक होगा
उत्तर: अगर वैजिनल एरिया गीला रहता है तो उसके वजह से आप के दाने निकल सकते हैं इसलिए आप कोशिश करें कि वजाइनल एरिया को हमेशा साफ रखें और सूखा रखे जिससे दाने ना हो आप अपने वैजिनल एरिया को सादे पानी से ही धोए और उसमें किसी भी तरह का लोशन या साबुन ना लगाएं। आप उसमे में नारियल का तेल लगा सकती हैं जिससे धीरे-धीरे आपका दाना ठीक हो जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere baby ke mathe per thoda sa rashes jesa hua hei kaise thik hoga plz reply
उत्तर: hello अगर बच्चे के माथे पर रैशेज है तो उसके सिर पर भी रेसेज हो सकते हैं बच्चे जब छोटे रहते हैं तो उनके सिर पर और माथे पर ज्यादा पसीना आता है जिसके कारण उन्हें सिर पर और माथे पर रेसेज हो जाते हैं । आप बच्चे के शरीर के सफाई का ध्यान रखें। अगर ठंड के मौसम में आप उसे नहला नहीं रहे हो तो भी बच्चे को रोज स्पंज बाथ जरूर दे और उसके बालों को भी गीले कपड़े से अच्छे से सफाई करें। और अच्छे बेबी क्रीम या लोशन उपयोग करें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mere bete को bht कफ h वो kaise ठीक होगा
उत्तर: आपका बेबी 2 महीने का है बच्चों को कभी-कभी खांसी सर्दी की समस्या हो जाती है जो बहुत ही नॉर्मल है अगर बेबी को कभी-कभी खांसी आती है तो मौसम में बदलाव के कारण हो सकता है आप भी भी को अजवाइन की पोटली से दिन में दो बार छाती पीठ और हाथ पैर के तलवों में सिकाई करें बहुत अधिक पंखे या ऐसी ac की हवा में सीधे ना सुनाएं ऐसे भी बेबी को सर्दी खांसी की समस्या बनी रहती है मौसम के अनुसार कपड़े पहने और बहुत अधिक जरूरत हो तो आप बेबी को बंद कमरे में भाग को जमा करके 10 मिनट लेकर बैठे जिससे की बेबी की बलगम जमने की स्थिति कम होकर उसे खांसी में भी कमी आने लगेगीl
»सभी उत्तरों को पढ़ें