18 महीने का बच्चा

Question: mere bete ka face ka colour light h or boday ka dark kyo? light kese kare

3 Answers
सवाल
Answer: जब बेबी का जन्म होता है तो बेबी का स्किन रंग गोरा होता है परंतु कुछ कारणों से बेबी धीरे धीरे या बेबी का उचित ध्यान न दे पाने की वजह से बेबी का स्किन रंग डार्क होने लगता है आप कुछ घरेलू तरीके से बेबी का स्किन रंग पहले जैसे ला सकते है जो इस प्रकार से है 1) आप अपने बेबी को समय समय पर बेबी के स्किन पर नमी बनाए रखिये क्योकि नमी न होने वजह से बेबी की स्किन रूखी होकर फटने लगती है इससे बेबी का रंग भी गहरा होता चला जाता है । 2)आप जब भी अपने बेबी को नहलाये न तो अधिक गर्म या ना तो अधिक ठंडे पानी से नहलाये आप के बेबी का स्किन बहुत ही नाजुक होती है इसलिए नहाने का पानी सामान्य होना चाहिए । 3) आप अपने बेबी को उबटन लगा कर भी बेबी का रंग निखार सकइ है आप बेसन, मलाई, और बेबी ऑयल डालकर बेबी की मालिश करे आपका बेबी का रंग निखार आ जायेगा । 3) आप अपने बेबी को नहलाने के समय साबुन का प्रयोग न करे तो अच्छा ही है साबुन आपके बेबी की स्किन ड्राई बना देता है जिससे स्किन का रंग डार्क होनेलगता है 4) आप अपने बेबी की मालिश नारियल जे तेल से करें इससे आपके बेबी की स्किन में निखरता आती है ।
Answer: नवजात शिशु जन्म के समय अक्सर गोरे लगते हैं, और कभी-कभी त्वचा में गुलाबी रंगत भी होती है। यह गुलाबी रंगत लाल रक्त वाहिकाओं से मिलती है, जो कि शिशुओं की पतली त्वचा में से दिखाई देती हैं। अधिकांश माता-पिता इसे बच्चे की त्वचा का वास्तविक रंग मान लेते हैं। मगर नवजात की त्वचा का रंग थोड़ा गहरा होने लगता है, क्योंकि त्वचा को रंग देने वाला प्राकृतिक रंजक (पिग्मेंट)-मेलानिन- का उत्पादन शुरु हो जाता है। इसलिए शुरुआत में शिशु की रंगत में बदलाव आना सामान्य है। फिर भि आप कुछ घरेलु नुस्खे ट्राइ कर सकती है . चंदन, हल्दी, केसर और दूध का पेस्ट बनाएं और इसे अपने बच्चे के शरीर पर लगाएं। इसे 10 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से बच्चे को नेहला के साफ करे बच्चे के रंग को बरकरार रखेगा साथ ही सूखेपन को भी दूर करे साबुन के इस्तेमाल की बजाये बच्चे को दूध और गुलाब जल से साफ करें। इसके आलावा आप ग्लिसरीन और क्रीम से बने baby वाश का भी इस्तेमाल कर सकते है।  
Answer: नवजात शिशु जन्म के समय अक्सर गोरे लगते हैं, और कभी-कभी त्वचा में गुलाबी रंगत भी होती है। यह गुलाबी रंगत लाल रक्त वाहिकाओं से मिलती है, जो कि शिशुओं की पतली त्वचा में से दिखाई देती हैं। अधिकांश माता-पिता इसे बच्चे की त्वचा का वास्तविक रंग मान लेते हैं। मगर नवजात की त्वचा का रंग थोड़ा गहरा होने लगता है, क्योंकि त्वचा को रंग देने वाला प्राकृतिक रंजक (पिग्मेंट)-मेलानिन- का उत्पादन शुरु हो जाता है। इसलिए शुरुआत में शिशु की रंगत में बदलाव आना सामान्य है। फिर भि आप कुछ घरेलु नुस्खे ट्राइ कर सकती है . चंदन, हल्दी, केसर और दूध का पेस्ट बनाएं और इसे अपने बच्चे के शरीर पर लगाएं। इसे 10 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से बच्चे को नेहला के साफ करे बच्चे के रंग को बरकरार रखेगा साथ ही सूखेपन को भी दूर करे साबुन के इस्तेमाल की बजाये बच्चे को दूध और गुलाब जल से साफ करें। इसके आलावा आप ग्लिसरीन और क्रीम से बने baby वाश का भी इस्तेमाल कर सकते है।  
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera beta 15 mont ka h uski body ka colour dark h or face light h. me kya lagau
उत्तर: नवजात शिशु जन्म के समय अक्सर गोरे लगते हैं, और कभी-कभी त्वचा में गुलाबी रंगत भी होती है। यह गुलाबी रंगत लाल रक्त वाहिकाओं से मिलती है, जो कि शिशुओं की पतली त्वचा में से दिखाई देती हैं। अधिकांश माता-पिता इसे बच्चे की त्वचा का वास्तविक रंग मान लेते हैं। मगर नवजात की त्वचा का रंग थोड़ा गहरा होने लगता है, क्योंकि त्वचा को रंग देने वाला प्राकृतिक रंजक (पिग्मेंट)-मेलानिन- का उत्पादन शुरु हो जाता है। इसलिए शुरुआत में शिशु की रंगत में बदलाव आना सामान्य है। फिर भि आप कुछ घरेलु नुस्खे ट्राइ कर सकती है . चंदन, हल्दी, केसर और दूध का पेस्ट बनाएं और इसे अपने बच्चे के शरीर पर लगाएं। इसे 10 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से बच्चे को नेहला के साफ करे बच्चे के रंग को बरकरार रखेगा साथ ही सूखेपन को भी दूर करे साबुन के इस्तेमाल की बजाये बच्चे को दूध और गुलाब जल से साफ करें। इसके आलावा आप ग्लिसरीन और क्रीम से बने baby वाश का भी इस्तेमाल कर सकते है।  
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere face ka colour dark ho rha h kya kare koi auyvedik cream btay
उत्तर: देअर प्रेग्नैन्सी मे बॉडी के हर्मोन्स चेंज होते है जिंस वज्हा से कुछ प्रेग्नैन्ट वूमेन गोरी हो जाती है तो कुछ का कलर डार्क हो जाता है पर ये पर्मनेंट कलर नही होता आफ्टर डिलिवरी बॉडी का नैचुरल कलर फिर से आ जाता है हा अगर आप चाहें तो कुछ होम रिमेडीज ट्राइ करे काफी कारगर है ग्लोइंग स्किन के लिए टिप्स ..... अपने चेहरे को साफ कच्चे दूध से रोज साफ करें ..। चेहरा धोने के लिये साबुन का उपयोग न करें . चेहरा धोने के लिये बेसन का उपयोग करें .।. रोज नींबू शहद लगाए । सोयाबीन पाउडर + मसूर दाल + दही या कच्चे दूध या टमाटर पेस्ट 20 मिनट लगाए और सादे पानी से धो लें ..। रात में 1 गिलास कच्चा दूध पिये सोने से पहले ..। . रोज नींबू रगड़ें .. बादाम पेस्ट + कच्चे दूध लगाएं। टमाटर या ककड़ी पेस्ट या पपीता पेस्ट या केला पेस्ट 10 से 15 मिनट लगाएं धो लें । नारंगी छिलका पाउडर + कच्चे दूध या दही लगाएँ। टमाटर पेस्ट + दही मिक्स करके लगाएँ। इनसे फेस पे ग्लो वा रंग मे काफी फर्क पड़ता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere baby ka colour complexion dark h kese fair hoga
उत्तर: डियर, सच तो ये है की ऐसा तेल, क्रीम और कुछ भी उपलब्ध नहीं है जो बच्चे के रंग को गोरा कर सके। बेबी का रंग पूरी तरह से माता-पिता के जीन पर निर्भर करता है। लेकिन अपनी संतुष्टि के लिए आप इस उपाय को कर सकती हैं। सूखी मसूर दाल लें और इसे ग्राइंडर में पीस लें। हल्दी पाउडर का एक चुटकी डाले और इसे एक बोतल में रखें। आपके बेबी का स्नान पाउडर तैयार है । जब आप बेबी को लगाना चाहें इसे पानी या दूध या दही के साथ मिलाएं। सर्दी के मौसम में उपयोग करते समय एक चम्मच जैतून का तेल डालें। लेकिन गर्मियों में तेल से बचें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें