1 महीने का बच्चा

Question: mere bete k nostril bnd h nasal drops bhi dal rhi hu fr bhi koi frk nh dikhta kya kru

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हाई b.p रहता h mere अन्य्तीमे.... दवा भी leti हूँ Dr. की लिखी हुई ... नमक भी बंद kr दिया.. फिर भी कोई फर्क नहीं h... क्या करूँ की b.p कंट्रोल m rhe....
उत्तर: B.P.हाई होने पर नमक कम खाए स्ट्रेस बिल्कुल ना ले और कम से कम 7 से 8 घन्टे की नीद पूरी करे। आपको अगर ब्लड प्रेशर हाई हैं तो आप कैल्शियम और आयरन की भरपुर मात्रा लेना चाहिये ,दूध , हरि सब्जियां, दाल, संतरा , बादाम और सीताफल में मिलता हैं @ सुप, सलाद , खट्टे फल , नीम्बू पानी , नारियल पानी, काले चने, लोबिया, अलसी, सोया आदि खाना फायदेमंद है@ दिन भर में 10 गिलास पानी पिये @ ओमेगा 3 वाली चीजें जैसे अखरोट , बादाम , अलसी आदि खाये @ रोज 2 4 बादाम और अखरोट जरूर खाये।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mere bete को bht खांसी हो रही h.नाक b बंद h.क्या करूँ ..beta bht रोता h
उत्तर: हेलो छोटे बच्चों को जब सर्दी ज्यादा हो जाती हैं तो खांसी की समस्या होने लगती है आप सरसों तेल में तीन चार कली लहसुन का डालकर पका लें उसमें एक चुटकी सेंधा नमक डालें और इस तेल से बच्चे की सुबह शाम मसाज करें मसाज करने के बाद बच्चे को सीने तक अच्छे से कवर करके सुनाएं इस तेल की गर्मी से बच्चे के सीने का जमा हुआ कफ बाहर निकलेगा अजवाइन और लहसुन को सूखे तवे पर गर्म करके इसकी पोटली बना लें और इस पोटली से बच्चे के सीने और पीठ की सिकाई करें ध्यान रहे पोटली ज्यादा गर्म नहीं होनी चाहिए बच्चे को भाप दिलाएं भाप देने के लिए नेबुलाइजर मशीन का इस्तेमाल कर सकती हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mere bete की चट्टी रुको h use खांसी b h क्या करूँ ..मैंने सरसों k tel m लहसुन अजवाइन dal k to लगा दी और फर्क n pda
उत्तर: जितना ज्यादा आप अपने बच्चे को अपना दूध देंगे बच्चा उतनी जल्दी ठीक होगा बाकी आप कोई भी ठंडा काम जैसे कि कपड़े धोना बर्तन धोना या नहाकर एकदम से दूध ना पीना है इससे बच्चे को सर्दी हो सकती है और अपने आपको और बेबी को अच्छे से कवर करके रखें ताकि बच्चे को ठंड से राहत मिल सके आप गर्म चीजों का ज्यादा सेवन करें ताकि बच्चे को आपके दूध से सर्दी में राहत मिल सके इसके अलावा आप घी में दो से तीन कपूर मिलाकर बच्चे की अच्छे से मसाज करें यह मसाज छाती और पीठ पर होनी चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें