13 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mere पेड me dard he ऑर kamr me bhi me kiya karu

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere kamr me bhut dard rhta h
उत्तर: हेलो प्रेग्न्सी में होर्मोन चेंजेज और माँ और बच्चे के बढ़ते वेट के कारण गर्भाशय पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आसपास के अंग पर भी प्रेशर पड़ता है जैसे कमर पीठ पैर हाथ पेट etc प्रेग्नेन्सी में back में दर्द होना तो समान्य है इसके लिए आप प्रॉपर सपोर्ट लें के बैठे lलंबे टाइम के लिए ना बैठे l रेस्ट करे , धीरे धीरे हलकी हलकी एक्सर्साइज करे l कमर और पैरों मे सरसों के ऑयल से हलकी मालिश भी लें सकती है आपको आराम मिलेगाl आराम करे lआप गरम पानी की बॉटल से सीकाइ भी कर सकती है आपको आराम मिलेगा सोते समय सपोर्ट ले के सोएं और तकिया ना लगायें एक ही postion में ना सोएं करवट बदलते रहे कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं हेवी saaman ना उठा ये हलकी हलकी एक्सर्साइज करे जिसके कारण आपको बैक पेन में राहत मिलेगी सूर्य के प्रकाश में20 से 25 मिनट बैठे सन रेज से मिलने वाले विटामिन डी आपके बैक पेन और बच्चे के विकास में हेल्पफूल है पानी भरपूर पीये स्ट्रेस ना ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere peet or kamar dard ho rahi he kiya karu
उत्तर: हेलो डियर , प्रेगनेंसी में कमर, पीठ में दर्द होना बहुत ही नॉर्मल बात है ,ज्यादातर महिलाओं में प्रेगनेंसी में कमर दर्द की शिकायत होती ही है कमर में दर्द होने का कारण एक तो हारमोंस में बदलाव होता है दूसरा पेट में बढ़ रहे भार का हो सकता है जिसके कारण मांस पेशियों में खिंचाव होता है और कमर में दर्द हो सकता है कमर, पीठ दर्द को कम करने के लिए आप कोशिश करें कि अपनी बाइ और सोए सीधे पीठ के बल ना सोए घुटनों के बीच में तकिया लगाकर सोने से भी आपको कमर दर्द में आराम मिलेगा अगर आप हाई हील की सैंडल , शूज पहनते हैं तो ना पहने यह भी एक कमर दर्द का कारण हो सकता है साथ ही प्रेगनेंसी में dheele सूती के कपड़े पहनने चाहिए जिससे शरीर में खून का प्रवाह आसानी से हो और हम अनेक तरह के दर्द से बचेगे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere kamr me dard rahta hai
उत्तर: हेलो डियर आप परेशान ना हो. अपना ध्यान रखें.कुछ घरेलू उपाय से आपको आराम मिल सकता है.आप सबसे पहले गर्म पानी की सिकाई कर सकती हैं.पेन रिलीफ वाले कोई से अपॉइंटमेंट लगा सकती हैं .अपने पैरों को थोड़ा ऊंचा रखकर सोए साथ ही जब भी आप उठे और बैठे आप ध्यान रखें कि आप सही तरीके से उठे और बैठे .आप आरामदायक जगह पर लेटे हैं. सही तरीके से लेट है.बैठने के समय भी अपना naram जगह पर बैठे. आप अपने खाने में पौष्टिक आहार लेने .पानी खूब पिएं . डॉक्टर की dihui सप्लीमेंट समय पर ले . दर्द होने पर आप कोई भी एक्सरसाइज या कोई भी ज्यादा काम ना करें .आप बहुत देर तक खड़ी भी ना रहे.अपना पूरा ध्यान रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें