26 weeks pregnant mother

Question: mere पेट के निचले भाग पे bohut प्रेसर फील होता है और वैजिना पे bhi

1 Answers
सवाल
Answer: dont wary esa hona aam bat he mujge bhi hota he kyuki ab baby ki groth ho rhi he isliye maspesiyo me kichav k karn drd hota he ap aram kre
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरे पेट के निचले भाग के दोनों साइड मे दर्द होता है और पेट मे भि हलकी दर्द होता है क्या ये कोई बुरा अलर्ट नही हे
उत्तर: hlo dear ,aisa sb k sath hota hai .koi tnsn ki baat nai hai.pet me drd kch na kch glt khane se ho jaata hai.agr drd na thik ho to apne dr se bt kre.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पेट के निचले भाग मे दर्द होता है और सोते व करवट लटे समय पेट मे ज़्यादा दर्द होता हे
उत्तर: हेलो ..गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।...jiske karan aap ko pet mei dard ki samasya ho sakti hai...jo ki pregnancy mei samanya mani jati hai....aap apne dard ko kam karne k liye kuch upay kar sakti hai. थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें।हल्के गर्म पानी से नहाएं। जहां दर्द हो रहा हो उस क्षेत्र में गर्म पानी की बोतल या barf ki potli si halke hstho se saik sakti hai...halke hatho se nariyal tel se massage kar sakti hai...bahut aaram hoga...ok....take care.....
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पेट के निचले भाग मे और कमर मे दर्द रहता है
उत्तर: हेलो डियर गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है। गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है। थोड़ी देर के लिए बैठ जाएं।जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें डियर इस दौरान पीठ में दर्द होना बहुत आम है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि गर्भाशय में गर्भ पल रहा होता है जिससे आगे का भाग काफी भारी हो जाता है. पेट भारी हो जाने की वजह से पीठ में झुकाव आना शुरू हो जाता है. इस वजह से पीठ में लगभग हर रोज दर्द रहने लगता है.एक ही अवस्था में बहुत देर तक बैठने या खड़ी होने से बचें। कामकाजी स्त्रियां ऑफिस में काम करते समय अपने पैरों को ज़मीन पर लटकाने के बजाय उन्हें किसी छोटे स्टूल पर टिकाकर रखें। रात को लेटते समय पैरों के नीचे तकिया रखें। बैक पेन से बचाव के लिए बैठते समय पीठ और कमर को कुशन का सपोर्ट दें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें