23 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mera swal ye h k ....meri pehli delivery m mujhe bht pain hua tha normal delivery ,to kyadobara bhi utna hi pain hoga ya nhi

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरी पहली डिलिवरी नॉर्मल हुई है और दुश्री प्रेग्नेन्सी ह अब क्या koi bhi complection nhi h delivery m normal honi h par m dard s dr rhi hu kyunki pehli m mujhe bht drd hua tha mam pls btaaiye kya dusri delivery m bhi utna hi samay lgta h kya utnaa hi pain hogaa ya thoda relief miltaa h ..
उत्तर: हेलो डियर मां बनने के लिए बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है आप बिल्कुल ना घबराए थोड़ी सी असुविधा के बाद आपके हाथ में एक प्यारा सा क्यूट सा बेबी होगा आपके बेबी का पूर्ण विकास 39 से 40 weeks के बीच में ही होता है तो बेबी के बाहर आने का नेचुरल प्रोसेस हो तो स्वस्थ बेबी आपके पास आएगा.. आप अपने बेबी के लिए थोड़ा सा कष्ट सहन कर ले बेबी अगर अपनी पूरी ग्रोथ के बाद बाहर आएगा तू ही बेबी का पूर्ण विकास माना जाएगा इसलिए आप ऑपरेशन के बारे में बिल्कुल ना सोचे आपको जो भी प्रॉब्लम हो रही है आप हमारे ऐप पर हमसे शेयर करें हम मॉम्स मिलकर आपको कुछ घरेलू टिप्स देंगे जिससे आपको प्रॉब्लम थोड़ी कम लगेगी आप बिल्कुल भी टेंशन ना लें अपना मन खुश रखें ओके टेक केयर
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: meri pehli delevry normal hui he to kya meri ye delevry bhi normal hi hogi
उत्तर: hello sister ye to aap pe depend krta h ki aap kitne kam kr rhi h aapka body normal delivery ke liye ready h to normal delivery hi hogi
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera 8 month suru hua h meri vegina m dard rahta h kya ye normal h ya nhi plz btaye.or m normal डिलिवरी k liye kya kru
उत्तर: hello dear ..जी हाँ इस टाइप के दर्द ya khichav होना प्रेग्नेन्सी मे नॉर्मल होता है .. आप घबराये नही ...गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है..इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।...jiske karan aap ko pet k aas pass k jagah mei dard ya sujan ki samasya ho sakti hai. इसको थोड़ा कम करने के लिए आप आप जब भि करवट ले तों अपने दोनों पैरों के बीच मे पिल्लो लगायें .. ऑर कमर के पीछे भि एक पिल्लो लाग ले .. झटकें से उठना बैठना नही . आइस को कॉटन के कपड़े मे लेकर हलके हाथों से अपनी योनि के ऊपर रखें .. आप को bahut आराम लगेगा. आप प्रेगनेंसी मे आप अपनी डायट का पूरा खयाल रखें . डॉक्टर की सलाह के अनुसार एक्सर्साइज या योगासन करे . वॉक करे . खुब सारा पानी पीये . गो मुत्र आदि का सेवन आप अपने डॉक्टर की सलाह से ही करे .. अगर आप के प्रेग्नेन्सी मे किसी तरह की कोई कॉम्प्लिकेशन नही होगी तों आप की नॉर्मल डिलिवरी सम्भव है . ओके टेक केयर
»सभी उत्तरों को पढ़ें