13 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mera 12 week chl rha h mere pero me sujan ke sath drd bhi h mujhe kya krna chahiye

1 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होना बहुत ही कॉमन है इसमें घबराने की कोई बात नहीं है या अब बहुत सी महिलाओं को होता है प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होने का एक कारण हो सकता है कैल्शियम की कमी हल्का चलना-फिरना आपके और आपके होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन होगा सुबह शाम थोड़ा थोड़ा वॉक करें वॉक अप उतना ही करें जिसमें जिसमें आपको थकान महसूस ना हो गर्म पानी में आप थोड़ी देर अपने पैर डालें उस गर्म पानी में पहले थोड़ा सा नमक डालें फिर उस पानी से अपने पैरों की सिकाई करें अपने खाने-पीने का भी ध्यान रखें ,कैल्शियम रिच डाइट लें दूध दही पनीर यह सब अपने आहार में लें. सूजन के कारण हो सकते हैं जैसे कि गर्मियों की गर्मी ,अधिक देर तक खड़े रहना ,ज्यादा देर तक काम करना ,आहार में पोटेशियम की कमी कैफीन का अधिक सेवन सोडियम अधिक सेवन करना प्रेग्नेंसी में सूजन कम करने के लिए कुछ तरीके अपनाए जा सकते हैं लंबे समय तक खड़े या बैठे ना रहे अपने पैरों को चलाती रहें और पॉसिबल हो तो जब भी आप बैठे तब अपने पैरों को ऊपर उठाती रहे एक तरफ करवट लेकर सोए बाई तरफ करवट लेकर सोने से आपका किडनी भी दुरस्त रहेगा टाइट इलास्टिक वाले मोजे या स्टॉकिंग्स ना पहने आरामदायक शूज पहने अधिक से अधिक पानी पिएं नमक सीमित मात्रा में लें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 24 week chl rha h ... mere pero me bhut drd hota h
उत्तर: गर्भावस्‍ता के दौरान पैरों में दर्द होना काफी आम बात है। वजन बढ जाने की वजह से खून का प्रवाह कम हो जाता है। शरीर में कैल्‍श्यिम, मैगनीश्यिम और पोटैश्यिम की कमी हो जाना भी एक कारण है। दर्द को कम करने के लिए सबसे बेहतरीन व्‍यायाम है स्‍ट्रेचिंग करना। सुबह के समय और सोने से पहले अपने पैरों और पंजों को स्‍ट्रेच करना ना भूलें .कोशिश करें कि अपने पैरों को ज्‍यादा देर तक कभी भी मोड़ कर ना बैठें। अगर दर्द महसूस होने लगे तो थोडी थोडी देर पर अपने बैठने का तरीका बदल लें। गर्भावस्‍था के दौरान हल्‍का चलना फिरना आपके और आपके होने वाले बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहतरीन होगा। चलने से पैरों की मासपेशियां मजबूत होती हैं और साथ ही दर्द भी कम होता है। हर रोज़ हरी सब्जियों और ताज़े फलों का जूस पिएं इससे आपको पोषण मिलेगा और ताकत भी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरे पैरों में सूजन के साथ बहुत दर्द भी ः चलने का मन बिल्कुल नहीं करता क्या करना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर आप परेसान ना हों अकसर प्रेग्नेन्सी में पैर में सुजन हो जाते है ऐसे में कुछ उपायो के द्वारा आप सुजन कम कर सकती है अदिक से अदिक पानी पीएं इस अवस्था मे आप जितना अधिक पानी पिएगी उतना ही कम पानी आपका शरीर पतिधारित करेगा नियमित व्यायाम कारें जैसे चलना घूमना ऑर तऐरना सन्तुलित आहार लें ऑर नमक का कम से कम उपयोग करें नमकीन चिप्स ये सब पैकेट वाली चीज़ें ना खाएँ मलीस करवाएं पैरो की ऑर एक ही स्थिति में जादा देर खेड़े ना रहें सरीर को आराम दें जादा काम ना करें पैर में गुनगुने तेल से मलीस करें ऑर उनचि हिल के सेन्दिल ना पहनें सिम्पल फ्लैट्स स्लीपर पहनें इस्से आपके पैरों ऑर एड़ियों को आराम मिलेगा व्यायाम करें ऑर मॉर्निंग वाक करें सोते टाइम पैर में तकिया लगाकर सोएं इसे आपको दर्द में कुछ आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere hath pero m bhot sujan h...or drd bhi bhot hotha pero m...kya kru..
उत्तर: गर्भावस्‍ता के दौरान पैरों में दर्द होना काफी आम बात है। वजन बढ जाने की वजह से खून का प्रवाह कम हो जाता है। शरीर में कैल्‍श्यिम, मैगनीश्यिम और पोटैश्यिम की कमी हो जाना भी एक कारण है। दर्द को कम करने के लिए सबसे बेहतरीन व्‍यायाम है स्‍ट्रेचिंग करना। सुबह के समय और सोने से पहले अपने पैरों और पंजों को स्‍ट्रेच करना ना भूलें .कोशिश करें कि अपने पैरों को ज्‍यादा देर तक कभी भी मोड़ कर ना बैठें। अगर दर्द महसूस होने लगे तो थोडी थोडी देर पर अपने बैठने का तरीका बदल लें। गर्भावस्‍था के दौरान हल्‍का चलना फिरना आपके और आपके होने वाले बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहतरीन होगा। चलने से पैरों की मासपेशियां मजबूत होती हैं और साथ ही दर्द भी कम होता है। हर रोज़ हरी सब्जियों और ताज़े फलों का जूस पिएं इससे आपको पोषण मिलेगा और ताकत भी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 7 मंथ चल रहा ह पैरों में सूजन और दर्द ह
उत्तर: हेलो डियर पैरों ममे बहुत स्वेलिंग होना प्रेगनेंसी म नार्मल है।१/३ विमेंस को होती है। जब बॉडी को पूरी तरह से पानी नहीं मिलता तब स्वेलिंग की षिकायत ज़यादातर रेहटी है सो इस्सके लिए आप सबसे पहले पानी अच्छे से ले। बाबी की ग्रोथ की वजह से बढ़ता यूट्रस आपके वेन्स को प्रेशर देता है जो की ब्लड फ्लो के लिए प्रॉब्लम क्रिएट करता है। निचे दिए गए टिप्स फॉलो करें:- जयादा से ज़्यादा पानी पीजिये। वेइट चेक करवाते रहे वेट बढ़ने से भी स्वेलिंग की प्रॉब्लम होती ह एक्सेरसीसे करें-आराम से कुर्सी पर बैठकर अपने पैरों को उठाकर एड़ी को 10 मिनट राइट और 10 मिनट लेफ्ट घुमाए ऐसा दिन म ३बार करे। जयादा होने पर डॉक्टर से कंसल्ट ज़रूर करे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें