37 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mera ultrasound k hisab se kal se 36 week start hua but mere baby ka wait 2258 aaya h jo kam hai or meri delevery date 1 september h to kya is 25 days m kitna wait badh skta h baby ka

1 Answers
सवाल
Answer: 820ग्राम
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो mere अल्ट्रासाउंड k हिसाब से 32 वीक हुआ h और vaiसे 29 वीक हुआ h m किस हिसाब से चालू प्लीज btae बेबी का वेट भी 32 वीक k हिसाब se आया h
उत्तर: आप की मासीक की लास्ट डेट के हिसाब से ही बेबी उतने वीक का शो होता है लेकिन अगर सोनोग्राफी के हिसाब से आपका बेबी 32 वीक का शो हो रहा है तो ऐसे में सोनोग्राफी के हिसाब से बेबी उतने वीक का कम या अधिक शो का पता चलता है अगर बच्चा हेल्दी और स्वस्थ है तो बच्चा अधिक वीक का पता चलेगा इसका मतलब है कि आपका बच्चा स्वस्थ है इसलिए आप बिल्कुल भी परेशान मत हो बच्चा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 36 वीक्स चल रहा h mere बेबी का वेट 2776+300 जर्म्स आया h ये कितना वेट हुआ
उत्तर: बच्चे का वजन एकदम परफेक्ट है इस समय बच्चे का वजन 2600 ग्राम के आसपास होता है आपका बच्चे का वजन उससे ज्यादा है वह हेल्दी है और अच्छे से ग्रो कर रहा है मेरे बेटे का वजन भी इस समय36वीक मे जब मैंने अल्ट्रासाउंड किया था तो इसके आसपास ही था
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hii mera 25 se 6th month start hua h aur mere baby ka wait bahut kam h baby ka wait badhane k liye mujhe kya krna chahiye
उत्तर: जब आप प्रेगनेंट होती हैं तब यह बहुत जरूरी है कि आप अपना आहार पौष्टिक है. इससे आपको और आपके होने वाले बच्चे को पौष्टिक तत्व मिलेंगे. प्रेग्नेंसी में कुछ अधिक कैलोरी की जरूरत होती है. प्रेगनेंसी में सही आहार का मतलब है -आप क्या खा रही हैं ?ना कि कितना खा रही हैं? जंक फूड का सेवन ज्यादा ना करें. isme कैलोरी ज्यादा है पोष्टिक तत्व कम या ना के बराबर होते हैं. फोलिक एसिड आपको 1 ट्रिमस्टर में ही चालू करदेना चहिये। फ़ोलिक एसिड का होने वाले बच्चे की ग्रोथ में बहुत बड़ा योगदान रहता है। फ़ोलिक एसिड विटामिन है ।विटमिन B 9। ये आपको खाने पिने में फॉलेट नाम से मिलेगा । बाबी के इस्पीनलकार्ड के चारो और पॉलिब पेरत को सही तरीके से बंद करता है।वाहा गप नहीं आने देता। मा के लिए भी बहुत जरुरी है ।विटमिन B 12 के साथ मिलकर हेअल्थी रेड सेल्स बाँटा है। folic acit ke liye ye khaye. ब्रोकली ऐस्पैरागस खट्टे फल हरी पत्तों वाली सब्जियां ओकरा फूलगोभी भुट्टा गाजर 1) दूध और डेयरी के ले सकती हैं. मलाई वाला दूध दही छाछ घर का पनीर इन सब में कैल्शियम प्रोटीन और विटामिन बी12 बहुत होता है. 2) सभी अनाज ,दालें . इन सब में प्रोटीन बहुत अच्छा होता है. 3) पेय पदार्थों में आप पानी bahut piyen.खास करके आप साफ पानी joki फ़िल्टर किया हुआ. ताजे फलों का रस ले. डिब्बाबंद juis nahi le. इसमें शक्कर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है. 4) वसा और तेल . वेजिटेबल ऑयल का वसा एक अच्छा स्रोत है क्योंकि इसमें संतृप्त वसा अधिक होता है. इन सभी चीजों के साथ आप डॉक्टर की सलाह मानें .जो भी टेस्ट किए हैं दिए गए हैं उन्हें करवाएं समय पर. दवाइयां समय पर ले और नींद पूरी. खाना जो भी खाएं अच्छे से चबाकर खाएं. प्रेगनेंसी के समय मिल्क प्रोडक्ट calcium और प्रोटीन बहुत जरुरी होता है। डेयरी प्रोडक्ट प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए सबसे बेहतर होता है। जैसे अंडा, चीज, दूध, दही और पनीर मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। कैल्शियम भी पर्याप्त मात्रा में होती है जो फीटस के बोन टिशू के विकास के लिए आवश्यक होता है। प्रोटीन की मात्रा काम होने से बच्चे की ग्रोथ में बहुत अंतर आता है। प्रोटीन जरूरी पौशाक तत्वों में से है। बच्चे का विकास और एम्निओटिक टिशू का कार्य प्रोटीन पर निर्भर करता है। गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन की kaam मात्रा बच्चे के sahi विकास में बाधा पहुंचा सकती है और इससे शिशु का वजन भी कम हो सकता है। यह बच्चे के बढ़ते मस्तिष्क पर नकारात्मक प्रभाव भी डाल सकता है।  बस एक मुट्ठी नट्स प्रोटीन की अपनी दैनिक आवश्यकताओं को पूरा कर सकता है। नट्स जैसे बादाम, मूंगफली, काजू, पिस्ता, अखरोट और नारियल में उच्च मात्रा में प्रोटीन की मात्रा होती है जो बच्चे के विकास के लिए जरूरी होता है। बीज जैसे कद्दू, तिल और सूरजमुखी में भी प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में होती है।  इनमें से कई ऐसे हैं जिनमें प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है जैसे- मूंग, काले और फवा बिन्स, मसूर, मटर और चना. ओट्स में प्रोटीन बहुत उच्च मात्रा में पाई जाती है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें