27 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mera bacha ultra hai or mukha 1bar bleeding huiha issa koi pblm hai

1 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी में बच्चे का नार्मल पोजीशन कोcephalic पोजीशन कहा जाता है जिसमें बच्चे का सर नीचे और पैर ऊपर की तरह होता है जो एक नॉर्मल डिलीवरी में होता है लेकिन अगर बच्चाbreach पोजीशन में है तो उस कंडीशन में नहीं बच्चे का सर ऊपर और पैर नीचे की तरफ होता है जो कि नॉर्मल डिलीवरी में थोड़ा मुश्किल होता है ब्रीच पोजीशन में बच्चे का नार्मल डिलीवरी अगर आपका पहला बच्चा है और वह ब्रीच पोजीशन में है तो आपको सिजेरियन डिलीवरी से ही होगा लेकिन अगर आपका दूसरा या तीसरा बच्चा हो तो उस कंडीशन में डॉक्टर बच्चे को भारी दबाव से सीधा करने की कोशिश कर सकते हैं जो की बहुत मुश्किल होता है अगर आपका पहला बच्चा है तो और अगर ब्रीच पोजीशन में है तो आपको सिजेरियन डिलीवरी से ही होगा क्योंकि अगर नॉर्मल हो तो बच्चे को नुकसान हो सकता है और उसके अंगों में चोट पहुंचने की भी संभावना होती तई अगर आपको ब्लीडिंग हो रही है तो आप इसके लिए चिंता ना करें क्योंकि यह बहुत ही नॉर्मल है गर्भावस्था के दौरान फर्स्ट सेमेस्टर यानी 1 से 3 महीने तक के बीच में अगर आपको किसी प्रकार की बिल्डिंग होती है तो उससे आपका गर्भपात हो यह जरूरी नहीं होता इसे किसी प्रकार की आपको कोई परेशानी नहीं होती गर्भाशय की दीवार में प्रत्यारोपण के बाद होने वाला ब्लीडिंग बहुत ही नॉर्मल है जब रोड गर्भाशय की दीवार में इन प्लांट होता है तो बहुत ही कम मात्रा में स्पोटिंग जैसे या फिर बिल्डिंग होता है गर्भावस्था की या एक सामान्य अवस्था है इसमें परेशान होने वाली कोई बात नहीं होती लेकिन बिल्डिंग के टाइम हमें बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जैसे कभी कभी बहुत ज्यादा ब्लीडिंग होने से गर्भपात हो सकता है लेकिन यह होने वाले बिल्डिंग या फिर खून की मात्रा के ऊपर निर्भर करता है ,यह बिल्डिंग प्ले सेंट्रल एरिया या फिर कोरियोनिक hemmarage के पास या ब्लीडिंग होती है जो कि एक नॉर्मल है इसे कोई गर्भपात नहीं होता और गर्भ में बच्चा सुरक्षित रहता है इसे threatened गर्भपात कहते हैं इन समस्याओं के बावजूद भी गर्भ में बच्चा अपना विकास करता है बिल्डिंग की दूसरी वजह यह भी हो सकती है स्थापित प्रेगनेंसी जिस में भ्रूण का विकास ट्यूब में होता है जहां पर पर्याप्त जगह नहीं मिल पाने के कारण भ्रूण का एबॉर्शन हो जाता है यह टॉपिक प्रेगनेंसी उन महिलाओं को ज्यादा होता है जिनको और पहले भी हो चुकी हो फिर उनकी पहली पहली एक सर्जरी हुई हो इसलिए आप चिंता ना करें पहली तिमाही में होने वाला बिल्डिंग से कोई फर्क नहीं पड़ता बच्चे को लेकिन यह बिल्डिंग lagatar और बहुत अधिक मात्रा में हो तो डॉक्टर से आप संपर्क करें वह सोनोग्राफी करके इसका रीजन आपको बताएंगे
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 28wk chal raha mujha high bp hai or doctor na mujha lonopin40mg injection diya hai yeh injection kis kam main aata plz batein mujha issa mujha or meri bby ko koi pblm to nahi hoga
उत्तर: गर्भावस्था में लोनोपिन 40 mg इंजेक्शन ज्यादातर डीप वेन थ्रोंबोसिस के ट्रीटमेंट के लिए दिया जाता है मतलब यदि आपके शरीर के किसी अंग में ब्लड क्लॉट हो जाता है तो उसे desolve करने के लिए इंजेक्शन लगाई जाती है जैसे ज्यादातर अगर par ke vein me blood clot ho तो इंजेक्शन दिया जाता है आप चिंता बिल्कुल ना करें इसकी वजह से बच्चे को परेशानी नहीं लक गर्भावस्था के दौरान अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो pre aclamcia जैसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है जिसे बहुत ज्यादा परेशानी होती है गेस्टेशनल हाइपरटेंशन बाद में preaclamsia का रूप ले लेता है जो कि पहली बार गर्भधारण करने के दौरान होती है यदि आप का BP अचानक 140/ 90mmhg से अधिक हो जाए तो उस कंडीशन में बहुत ज्यादा परेशानी होने लगती है इसकी वजह से अपने बहुत सारे लक्षण भी दिखाई देते हैं जैसे पेशाब का बार बार होना ,आपका अचानक से वजन बढ़ना, और उल्टी और चक्कर आना इसलिए अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी है तो हमेशा डॉक्टर से चेकअप करवानी पड़ती है ताकि आपको हमेशा जानकारी मिलते रहे अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत है तो आप अपने खाने में सोडियम की मात्रा कम करनी होती है और ज्यादा अच्छा रहेगा कि डॉक्टर की सलाह लेकर आप डॉक्टर के दवाइयों का समय-समय पर उपयोग करें और समय-समय पर अपना यूरिन और blood टेस्ट करवाते रहें| गर्भावस्था के दौरान अगर हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी होती है तो हमेशा डॉप्लर flow स्टडी करवानी पड़ती है यह एक ऐसा अल्ट्रासाउंड होता है जिसमें ब्लड वेसल्स में ब्लड की सरकुलेशन को मापने के लिए साउंड वेव का प्रयोग किया जाता है गर्भावस्था के दौरान जिs kisi Ko bhi हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है उनके बच्चे को बहुत ज्यादा प्रभाव होता है इसलिए ज्यादा अच्छा रहता है कि आप डॉक्टर के परामर्श के अनुसार ही चले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बेबी 57 डेज का है और वो एक साइड ही दूध पीता है उस से कोई प्रॉब्लम तो नहीं
उत्तर: हेलो डियर बेबी को कभी भी एक ब्रेस्ट से कि नहीं कराना चाहिए डॉक्टर भी कहते हैं कि हमेशा बेबी को दोनों ब्रेस्ट से फीड कराएं जैसा कि आप बता रहे हैं कि आपका बेबी एक साइड से ही फीट करता है तो यह तरीका गलत है यह बेबी के लिए भी हार्मफुल और आपके लिए भी एक्साइड लेटे रहने से बेबी के फेस पर भी इफेक्ट पड़ सकता है इसीलिए बच्चे को हम हमेशा दोनों करवट से ही सुलाते हैं और अगर वह आपके सिर्फ एक ब्रेस्ट से ही फील्ड करता है तो दूसरे ब्रेस्ट में जो आपका फीड बनता है वह उसके पेट में नहीं पहुंच पाएगा और आपके एक ब्रेस्ट में पेन होने की समस्या भी हो सकती है इसलिए आप उसे दोनों साइड ब्रेस्ट रिपीट कर आने की आदत डालें हो सकता है शुरू से उसकी आदत नहीं पड़ी है उसे थोड़ी दिक्कत हो पर धीमे-धीमे उसकी आदत में आ जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बच्चा बहुत जिद्दी है कोई बात नहीं मानता
उत्तर: हेलो डियर अगर बच्चा जिद्दी है तो उसे आप बहुत ही प्यार दुलार से समझाएं ताकि आपका बच्चा अच्छे से समझ जाए आप उसे उसे बिल्कुल भी मारे डाट नहीं क्योंकि ऐसे बच्चे और भी जिद्दी हो जाते हैं , आपको ऐसे में उसे जाने की कोशिश करें कि वह किस बात के लिए जिद कर रहा अगर उसकी जिद पूरी करने लायक नहीं है तो आप उसका अच्छे से माइंड चेंज करके उसे समझाने की कोशिश करे उसे आप समझने की कोशिश करे ताकि वो जिद न करे धीरे धीरे आपका बच्चा ठीक हो जाएगा ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें