28 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mera sar bohot dard karta he or chidchidi bhi bohot hotihe

3 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी के दौरान सिर दर्द की कोई भी मेडिसिन आप अपनी मर्जी से ना लें यह आपके प्रेगनेंसी पर बुरा प्रभाव डाल सकती है डॉक्टर से कंसल्ट करने के बाद ही आप मेडिसिन ले या फिर आप कुछ घरेलू उपाय हैं जिन्हें अपना सकती हैं जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे आपके लिए यदि आपको सिर में दर्द है तो आप अपने सिर की गुनगुने तेल से मालिश करवाएं इससे आपको आराम मिलेगा शुद्ध हवा में बैठकर सांस लेने वाले व्यायाम हल्के-फुल्के कर सकती हैं जैसे सांस को धीरे-धीरे ऊपर की ओर खींचे और फिर धीरे-धीरे सांस को छोड़ें ऐसा 5 बार करें इससे आपको शुद्ध ऑक्सीजन मिलेगी आपके मस्तिष्क को और सिर दर्द भी कम होगा. pregnancy ke dauran mood swing Karta Hai Jiski wajah se bahut मूड खराब होता है और चिड़चिड़ा हट रहती है ऐसे में आपको अपने आप को किसी अच्छी एक्टिविटीज में इंवॉल्व रखें जैसे आप अच्छी-अच्छी किताबें पढ़े हैं यदि आपको खाने का शौक है तो किचन में अच्छा-अच्छा खाना बनाएं या फिर आप क्राफ्ट पेंटिंग यह सभी अपनी हॉबीज की पसंद की चीजें कर सकती हैं इससे आप खुश रहेंगी और आपको चिकनाहट कम लगेगी और गुस्सा कम आएगा
Answer: हेलो डियर , प्रेग्नेंसीय में हार्मोन परिवर्तन के कारण सर दर्द जैसी समस्या बनी रहती है इसका उपाय घरेलू तरीके से कर सकते है आप सर दर्द में गाय का देसी घी को गुनगुना कर ले और फिर नाक दोनो छिद्रों में डाल दे इससे सर दर्द कम हो जाता है आप तुलसी की पत्तियों को पीस कर पानी मे गर्मा दे फिर इस पानी पी ले इससे सिर दर्द कम हो जाता है सर दर्द में आप अदरक की चाय भी पी सकती है ये सर दर्द के लिए बहुत ही अच्छा है आप लौग को तवे पे गर्म करके पीस ले फिर कपड़े की पोटली बनाकर लौग को उसमे रख दे फिर इसे सूंघे इससे भी सर दर्द कम हो जाता है
Answer: हेलो डियर आप के सर में दर्द है तो आप झंडू बाम का उपयोग कर सकती हैं और आप गुनगुने तेल को अपने सर पर अच्छे से मसाज कर सकती हैं इससे आपको सर दर्द में आराम होगा कई बार प्रेगनेंसी में बीपी बढ़ने की वजह से भी सर दर्द की प्रॉब्लम होती हैया फ़िर तनाव लेने से ऐसी अवस्था में आप जयाद से जयाद खुश रहने की कोसीस करें किसी प्रकार का मनसिक टेंशन ना लें ऑर यदि बी.पी. बदने की वजह से है तो बी.पी. चेक करवऐ नमक का यूज़ कम करें पानी जयाद से जयाद पीएं अत्यधिक तरल पदार्थो का सेवन करें ज्यादा तकलीफ होने पर डॉक्टर से सलाह ने
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mera bohot sar dard karta hai...eesa kyu ho rha hai????
उत्तर: कभी-कभी ऐसा होता है कि हम इस गर्भावस्था के दौरान बहुत अनावश्यक चिंता भी करते हैं ,इस वजह से भी हमारे सर में दर्द होने लगता है, देखिए गर्भावस्था के दौरान सिर में दर्द होना एक आम बात है आप बिल्कुल घबराएं नहीं ,कुछ घरेलू उपचार हैं जिनको यूज करके आप आराम पा सकते हैं पहले एक कप दूध में तीन चम्मच दालचीनी मिलाएं और उसको उबालें ठंडा होने पर उसमें स्वाद के लिए एक चम्मच शहद मिलाएं ,अगर बुरी तरह दर्द हो रहा है तो आप इसे दिन में दो बार ले सकते हैं काफी आराम मिलेगा ,दूसरा अदरक की चाय बनाएं इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं apko headache mein aaram milega
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Muze bohot sardi huyi hai..or sar bhi bohot dard kr raha hai...
उत्तर: आप २ कप पानी में एक चम्मच अजवाइन , आधा चम्मच हल्दी पावडर , एक चुटकी मरी पावडर , तुलसी के पत्ते , अदरख ये सब दाल के पानी को उबले. उसे छान कर उसमे से दिन में २ से ३ बार एक दो घुट पिए. इससे काफी राहत होगी. गर्म दूध में हल्दी भी मिला कर पि सकते हो. गर्म दूध में तुलसी के पत्ते और अदरख उबालकर भी पि सकते हो.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: आज mere pit or sar dard bohot हो raha h
उत्तर: हेलो डियर प्रेग्नेन्सी में पीठ में दर्द होना तो समान्य है मै आपको कुछ उपाय बता रही जीस्से आप पीठ दर्द में आराम ल सकती है भरपूर नीन्द लें इसके लिए आप एक ही करवट में ना सोएं करवट बदल बदल कर सोएं ऑर एक पैर के घुटनों को उपर मोड कर सोएं एक तकिया अपने घुटनों के बीच में ऑर दूसरा तकिया पेट के नीचे लगकर सोएं एस में आपको अराम मिलेगा अदिक वज़न ना उठा ए ऑर जादा हिल वाली सेन्देल का यूज़ ना करें व्यायाम करें पिट का सही तरीके से हलके हाथों से मसाज करवाऐ र प्रेग्नेसी में सर में दरद बी.पी. बदने की वजह से भी हो सकती है या फ़िर तनाव लेने से ऐसी अवस्था में आप जयाद से जयाद खुश रहने की कोसीस करें किसी प्रकार का मनसिक टेंशन ना लें ऑर यदि बी.पी. बदने की वजह से है तो बी.पी. चेक करवऐ नमक का यूज़ कम करें पानी जयाद से जयाद पीएं अत्यधिक तरल पदार्थो का सेवन करें डॉक्टर से सलाह लें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mem mera 4 th month chal raha he mera pet dard or sar dard hota he
उत्तर: Hello dear. प्रेग्नेंसी के दिनों में हारमोंस चेंज होते हैं और ब्लड ज्यादा बनने लगता है इस कारण से सर दर्द हो सकता है. यह फर्स्ट ट्राइमेस्टर में होना बहुत ही सामान्य बात hai. आपके तनाव से या चिंता से भी सर दर्द हो सकता है .आप इन सबसे दूर है आराम से रहे. किसी भी बात की चिंता ना करें. शरीर में प्रेग्नेंसी के समय पानी की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है अगर आप पानी कम पी रही है तो भी आपको सर दर्द हो सकता है . कुछ उपाय हैं जो कि आप घर पर कर सकती हैं आप एक्यूप्रेशर एक्यूपंचर का सहारा ले सकती हैं डॉक्टर की सलाह से . आप थोड़ी मसाज लेले . आप bhaap भी ले सकती हैं .जिससे आपको आराम मिलेगा . आप थोड़े से ठंडे पानी से नहा लें ऐसे भी सर dard me आपको आराम मिलता है. अदरक में एंटीआक्सीडेंट भी होते हैं .जो सिर दर्द को कम करने में मदद करते हैं एक कप अदरक की चाय बनाएं और जब भी आपको सर दर्द महसूस इसे पिएं. लैवेंडर ऑयल सिर दर्द से बहुत ज्यादा राहत देता है और गर्भावस्था के दौरान बहुत अच्छी नींद में भी सहायता करता है आप इससे मसाज कर सकती हैं. एक गिलास पानी में दो चम्मच सेब का सिरका और दो चम्मच शहद मिलाएं और piyen. सर दर्द ना हो इसके लिए आप अपने आप को बचा सकती हैं. शुगर का स्तर आपके कम रहे ध्यान रखें . पर्याप्त मात्रा में आप आराम करें . भोजन समय पर करें . कैफीन का सेवन ज्यादा ना करें. बहुत तेज रोशनी है बहुत शोर शराबे वाले मोहन से दूर रहें . अपनी पोजीशन सही रखें बैठने पर सोने पर. तनाव जैसी चीजों से बहुत ही दूर रहे .कोई भी प्रकार का टेंशन ना लें चिंता ना करें ज्यादा सोचें नहीं. सर दर्द होने पर आप अपने आप को घरेलू तरीके से ठीक करने की कोशिश करें. किसी भी प्रकार की दवाई बिना डॉक्टर की सलाह के बिल्कुल भी ना लें. सर दर्द की समस्या बहुत ज्यादा है और घरेलू उपाय से आप उसे ठीक नहीं कर पा रहे हैं तो ही आप डॉक्टर की सलाह से ही दवाइयां ले . यूटरस की राउंड लिगामेंट्स में खिंचाव के कारण पेट में दर्द होता है .यह राउंड लिगामेंट्स mainly 2 tissues ke रूप में होती है .जो आपके यूट्रस को स्थिर रखते हैं .वह यूट्रस और fetal के बढ़ने के साथ खींचती है. पेट में दर्द लगभग 18 से 24 वीक के बीच शुरू होता है. और एक तरफ दर्द होता है पर कभी कभी दोनों तरफ भी होता है. अगर आपको पेन हो रहा है और यह पेन बहुत ज्यादा नहीं है या रुक रुक के बार बार नहीं आ रहा है तो आप आराम से रहें. खाने पीने का ध्यान दें. आपने खाने में फाइबर ज्यादा ले. पानी खूब पिएं . खाना एक बार में बहुत सारा नहीं खाए . थोड़ा-थोड़ा खाना चबाकर खाएं. खाना खाने के बाद आप दो चुटकी अजवाइन खाएं .इससे आपको गैस की समस्या होगी तो बहुत राहत मिलेगी. take care.
»सभी उत्तरों को पढ़ें