34 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mera pero mai bAuth derd ratha hai

3 Answers
सवाल
Answer: पैरों में दर्द होना काफी आम बात है वजन बढ जाने की वजह से खून का प्रवाह कम हो जाता है शरीर में कैल्‍श्यिम, मैगनीश्यिम और पोटैश्यिम की कमी हो जाना भी एक कारण है दर्द को कम करने के लिए सबसे बेहतरीन व्‍यायाम है स्‍ट्रेचिंग करना सुबह के समय और सोने से पहले अपने पैरों और पंजों को स्‍ट्रेच करना ना भूलें कोशिश करें कि अपने पैरों को ज्‍यादा देर तक कभी भी मोड़ कर ना बैठें। अगर दर्द महसूस होने लगे तो थोडी थोडी देर पर अपने बैठने का तरीका बदल लें हल्‍का चलना फिरना आपके और आपके होने वाले बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहतरीन होगा चलने से पैरों की मासपेशियां मजबूत होती हैं और साथ ही दर्द भी कम होता है। हर रोज़ हरी सब्जियों और ताज़े फलों का जूस पिएं इससे आपको पोषण मिलेगा और ताकत भी. एक बर्तन में पानी गर्म करें और इसमें नीम के पत्ते डाल दें और तब तक उबालते रहें जब तक नीम के पत्ते अपना रंग ना छोड़ने लगें अब इस पानी से पत्तियां निकालकर इसमें थोड़ी फिटकरी मिला लें और इस पानी में कुछ देर तक अपने पैरों को डालकर रखें, नीम के अंदर बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति होती है, और यह दर्द निवारक का कार्य भी करता है
Answer: हेलो . डियर ....आप अपने पैरों का मालिश सरसों के तेल से करें तो ज्यादा बेहतर होगा सरसों का तेल शरीर को गर्म करता है जबकि जैतून का तेल शरीर ठंडा करता है सरसों के तेल को हल्का गुनगुना गर्म करके ही आप अच्छे से पैरों की मालिश कर सकते हैं यह प्रक्रिया आप दिन में दो से तीन बार कर सकते हैं पैरों को ज्यादा देर लटका करना रखें पैरों को हमेशा उठाकर ही बैठे और जब भी सोए पैरों के नीचे तकिया लगा ले आप गर्म पानी गर्म पानी से पैरों की seak भी कर सकते हैं उससे आपको बहुत रिलीफ होगा ओके टेक केयर डियर
Answer: हेलो .. डियर आप अपने पैरों का मालिश सरसों के तेल से करें तो ज्यादा बेहतर होगा सरसों का तेल शरीर को गर्म करता है जबकि जैतून का तेल शरीर ठंडा करता है सरसों के तेल को हल्का गुनगुना गर्म करके ही आप अच्छे से पैरों की मालिश कर सकते हैं यह प्रक्रिया आप दिन में दो से तीन बार कर सकते हैं पैरों को ज्यादा देर लटका करना रखें पैरों को हमेशा उठाकर ही बैठे और जब भी सोए पैरों के नीचे तकिया लगा ले आप गर्म पानी गर्म पानी से पैरों की seak भी कर सकते हैं उससे आपको बहुत रिलीफ होगा ओके टेक केयर डियर
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 8 manth cal raha hai mere pero me bahot derd hai m kya kru
उत्तर: hello आपके पैरों में दर्द है आप 8 महीने प्रेगनेट है प्रेग्न्सी में होर्मोन चेंजेज और माँ और बच्चे के बढ़ते वेट के कारण गर्भाशय पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आसपास के अंग पर भी प्रेशर पड़ता है जैसे कमर पीठ पैर हाथ पेट etc आप थकान वाले काम ना करे जब भी chale सपोर्ट ले के च लें आप पैरों की लिए हलकी हलकी एक्सर्साइज करे आप गुनगुने पानी में नमक डाल कर पैर डुबोए आपको पैर दर्द से राहत मिलेगी आप सरसों के तेल से पैरों की मालिश करे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने से आपका दर्द कुछ कम होगा कैल्सीअम प्रोटीन से भरपूर खाना खाएं जैसे मिल्क दही पनीर एग मूनगफ़लि और गुड भूनें चने आदि धूप में 20 से 25 मिनिट डेली बैठे सूर्य के प्रकाश में पाये जाने वाले विटामिन डी आपके पैर दर्द को कम करने और बच्चे के विकास में सहायक है पर्याप्त आराम करें ताकि ऐंठन से बच सकें। केले, कच्चे एवोकाडो, पके हुए आलू, पका हुआ पालक और मलाईरहित दूध ka sevan करे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe कमर me bauth derd rhta hai
उत्तर: हेलो डियर , प्रेगनेंसी में कमर, पीठ में दर्द होना बहुत ही नॉर्मल बात है ,ज्यादातर महिलाओं में प्रेगनेंसी में कमर दर्द की शिकायत होती ही है कमर में दर्द होने का कारण एक तो हारमोंस में बदलाव होता है दूसरा पेट में बढ़ रहे भार का हो सकता है जिसके कारण मांस पेशियों में खिंचाव होता है और कमर में दर्द हो सकता है कमर, पीठ दर्द को कम करने के लिए आप कोशिश करें कि अपनी बाइ और सोए सीधे पीठ के बल ना सोए घुटनों के बीच में तकिया लगाकर सोने से भी आपको कमर दर्द में आराम मिलेगा अगर आप हाई हील की सैंडल , शूज पहनते हैं तो ना पहने यह भी एक कमर दर्द का कारण हो सकता है साथ ही प्रेगनेंसी में dheele सूती के कपड़े पहनने चाहिए जिससे शरीर में खून का प्रवाह आसानी से हो और हम अनेक तरह के दर्द से बचेगे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera sar mai bauth derd ratha hai
उत्तर: Last month m Dard Rahta Hai Yah Normal Hai. Bas Tansan N Lai subah मेडिटेशन करे मॉर्निंग वॉक करे aacha Fill karogai
»सभी उत्तरों को पढ़ें