1 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Mera 2month chal raha hai or mere pet me dard rehta hai iss se koi problem ton nahi hogi?

1 Answers
सवाल
Answer: पेट में हल्की-फुल्की समस्याएँ होना आम बात होती है, इस अवस्था में, पेट दर्द, विशेषकर पेट के निचले हिस्से में हल्का-हल्का दर्द भी हो सकता है प्रेगनेंसी के समय में ज्यादा वजन उठाने वाला काम करने और ज्यादा नीचे झुकने वाला काम करने से भी पेट दर्द हो सकता है पीठ के बल सोने की बजाए साइड की करवट लेकर सोना चाहिए  यह दर्द हील वाली सेंडिल पहने से भी हो सकता है इसलिए हमेशा स्लिपर ही पहने ज्यादा देर तक एक स्थिति में खड़े ना रहे  जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 5 month chal raha he muje pet me dard rehta he koi problem wali bat nahi hogi na
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में पेट में दर्द होना आम बात होती है प्रेग्नन्सी के दौरान हमारे शरीर में बहुत सारे हारमोनल परिवर्तन होते हैं जिसकी वजह से कभी पेट दर्द कभी उल्टी कभी कोई समस्या उत्पन्न हो जाती है आप परेशान मत हो। इस अवस्था में विशेषकर पेट के निचले हिस्से में हल्का-हल्का दर्द भी हो सकता है प्रेगनेंसी के समय में ज्यादा वजन नही उठना चाहिए और ना ही ज्यादा झुकना चाहिए। जमीन पर क्रॉस लेग करके नहीं बैठे वरना दर्द ज्यादा बढ़ सकता है पीठ के बल सोने की बदले साइड की करवट लेकर सोना चाहिए  हील वाली सेंडिल नही पहनना चाहिए हमेशा हमेशा स्लिपर ही पहने ज्यादा देर तक एक स्थिति में खड़े ना रहे  जिस तरफ दर्द हो रहा हो, उसके दूसरी तरफ होकर लेट जाएं और आराम करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hlo mam mera thyroid badda huya hai main keya kru baby ko koi problem ton nahi hogi iss se?
उत्तर: थायराइड problem को कंट्रोल किया जा सकता है par इसके लिए सही इलाज और exercise important है प्रेगनेंसी के फर्स्ट 3 months में थायराइड होने से प्रॉब्लम हो सकती हैं यदि आपको थायराइड है तो प्रेग्नेंट होने से पहले check upq कराना जरूरी है साथ ही साथ प्रेगनेंसी के हर month में भी जांच कराते रहना चाहिए Pregnancy के दौरान थायराइड के इलाज के लिए दी जाने वाली दवा की मात्रा घटाया,बढ़ाई जा सकती है इससे होने वाले बेबी को नुकसान से बचाया जा सके normally प्रेगनेंसी के दौरान थायराइड के इलाज में मेडिसिंस के डोज बढ़ा दिए जाते हैं और बेबी के बर्थ के बाद इसे जरूरत के हिसाब से कम कर दिया जाता है थायराइड के कारण बच्चे के शारीरिक और मानसिक development पर प्रभाव पड़ता है इसलिए थायराइड का पता लगते ही प्रेग्नेंट वुमन को तुरंत इलाज शुरू कर देना चाहिए डॉक्टर के अनुसार सारी जांच कराते रहना चाहिए और medicines timely nd regular लेनी चाहिए इससे होने वाले बच्चे पर थायराइड का कोई प्रभाव नहीं पड़ता, प्रेग्नेंट वुमन भी सुरक्षित रहती हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hlo mam mera 6 month start ho geya hai kal raat se mere sine me se dard ho kar back ke or ja raha hai koi problem ton nahi hogi?
उत्तर: हेलो प्रेगनेंसी के दौरान चेस्ट में थोडा पेन होना नॉर्मल बात होती है यह हमारे गलत खानपान गलत तरीके से सोने और बैठने से होता है गलत खान-पान से हमारे पेट में गैस बनता है जिसके कारण सीने में दर्द होता है आप रात में सोने से पहले गुनगुना पानी पिए। खाने में आप फाइबर युक्त भोजन ले। जैसे गाजर पालक बथुआ और संतरा अच्छे से खाए अगर आपको अमरुद मिले तो अमरूद प्रेगनेंसी के लिए बहुत अच्छा होता है सोते समय आप लेफ्ट करवट करके सोए राइट करवट सोने से हमारे इंटरनल बॉडी पार्ट्स पर बेबी के बॉडी का वेट पड़ता है। जिसके कारण भी गैस बनता है और पेट और सीने में दर्द होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें