5 महीने का बच्चा

Question: Mera beta 5 month complete he.use cold bahot ho gaya he to me uske liye kya garelu upay kar sakti hu ? Plz jaldi se reply dijiye

1 Answers
सवाल
Answer: हैलो डियर-छोटे बच्चों को सर्दी खांसी जुकाम और कफ से राहत के लिए आप कुछ घरेलू उपाय कर सकती हैं। 1) सर्दी होने पर छोटे बच्चे का सिर हमेशा थोड़ी ऊपर रखें जिससे उसे सांस लेने में परेशानी ना हो। 2) खड़ी हल्दी को गर्म तवे पर हल्का सेंक लें और उसमें सरसों तेल की कुछ बूंदें मिलाकर उसे घोष कर पेस्ट बना लें इस पेस्ट से बच्चे का मालिश करें इससे बच्चे की शरीर में गर्माहट आएगी और उसे सर्दी से राहत मिलेगी 3) सरसों का तेल गर्म करके उसमें थोड़ी सी अजवाइन और लहसुन की कुछ कलियां डालकर पका लें ठंडा होने पर इसी तेल से बच्चे के पूरे शरीर में मालिश करें 4) सर्दी होने पर बच्चे को ठंडी हवाओं से बचाएं कान ढक कर रखें पैरों में मोजे पहनाकर रखें अक्सर बच्चों को सर्दी ठंडी हवा से होती है 5)को भी मेडिसीन बिना डा. सलाह के न दें।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 4 month chalu he or muze white pani ki problem ho rahe he me kya kar sakti Hu uske liye
उत्तर: प्रेगनेंसी में सफ़ेद पानी का निकलना काफी आम बात है जो हर महिलाओं में सामान्य रूप से दिखाई देता है, ये तब तक सामान्‍य है जब तक की इसमें से गंध न आने लगे और इसका रंग लाल न हो जाए सफ़ेद पानी से आपके बच्चे को कोई खतरा नही है , बल्कि सफ़ेद पानी की वजह से आपके गर्भाशय को बाहरी बिमारियों से बचता है , जिसऐ आपका बेबी सुरक्षित रहता है , अगर कभी आपको लगें की पानी के साथ खुजली या बदबु है टु डॉक्टर को ज़रूर दिखायें हो सकता है किसी प्रकार का इन्फेक्शन हो . सफ़ेद पानी के लीई आप घबराये नही , ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे .ऐसा मेरे साथ भि हुआ है प्रेगनेन्सी मे और बहुत सी महिलाओ के साथ भि होता होगा . चिन्ता ना करे .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera beta 5 month ka he.use khasi hui he to me uske liye kya garelu upay kar sakti hu ?
उत्तर: हेलो आपकी बच्ची 5 महीने की है आपका बेबी अभी बहुत छोटा है ऐसे में मेडिसिन आप बेबी को डॉक्टर की सलाह ले कर ही दे बच्चे को कफ है तो बेबी को nebulize मशीन से करवाये बच्चे को कफ से राहत मिलेगी बच्चों का इम्यून सिस्टम कमज़ोर होता है ऐसे में बच्चे को कपड़े ऐसे पहनाये कि गर्माहट बनी रहें कमरे को भी गरम रखने की कोशिश करे .आप उसे घी और कपूर का मिश्रण लगा सकते है। पहले घी ले और उसे हल्का गर्म करें, फिर उसमे कपूर के कुछ टुकड़े डाल दें और पिघलने दें। ठंडा हो जाने के बाद इसे आप उसकी छाती, पीठ और तलवे पर लगाएं। उसे आराम मिलेगा। आप उसे सरसों के तेल को गर्म कर उसमे अजवाइन और लहसुन डालें ,फिर जब वह ठंडा हो जाए तो उसे उसकी छाती और पीठ पर अच्छी तरह से लगाएं बच्चे को आराम करवाये बच्चे जितना आराम करेगा उतनी जल्दी रिकवर करेगा अगर आप ब्रेस्ट फीड माँ है तो खाने में सन्तुलित और हेल्थी चीज़ें खायें जिसके कारण बच्चे को न्यूट्रिशन मिल सकें और बच्चे को पानी की कमी ना हो lबच्चे को संक्रमण से बचाने के लिये अपना और बच्चे का हाथ साफ रखें बच्चे को फीड कराते समय पहले हैण्ड वाश करेl बच्चे को फीड कराते समय और सुलाते समय बच्चे का सर कुछ ऊपर रखें इसके लिए आप पतली तकिया का यूज़ कर सकती है ऐसे में बच्चे को साँस लेने में आसानी होगी आप अजवाइन भून ले उसे एक कपड़े में बाँध कर पोटली बना ले फिर उसे बच्चे के बच्चे के बैक चेस्ट तलवो पर सीकाई करे धयान रहें अजवाइन ज़्यादा गर्म नही होना चाहिए .बच्चे को कुछ देर सँवरे 8 से 10 बजे की धूप में ज़रूर ले जायें ताकि बच्चे को सूर्य के प्रकाश से विटामिन डी मिलें विटामिन डी बच्चे के सर्दी को कम करने और ग्रोथ में हेल्प फूल हैlधुप दिखाने के लिए बच्चे को सीधे धुप में न रखें।डायपर समय पर बदले प्रोबेल्म ज़्यादा हो तो डोक्टर से सलाह ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera beta 14 month ka he.use loosmotion ho gya he 2- 3 day se or kuch khata bhi nhi he to iske liye kya karu pls help me
उत्तर: हेलो डियर बच्चे को कभी-कभी भोजन के ना पचने या फिर साफ सफाई के अभाव में ही लूज मोशन हो जाता है ऑफिस में बिल्कुल भी ना घबराए लूज मोशन होने से बेबी के शरीर में पानी की कमी हो जाती है इसके लिए आप बेबी को अधिक से अधिक मात्रा में पानी ओ आर एस का घोल नारियल पानी फलों का जूस इत्यादि देते रहे खाने में भी बेबी को तरल भोज्य पदार्थ है जैसे मूंग की खिचड़ी दाल का पानी आंधी दे ऐसे बेबी के शरीर में पानी की कमी पूरी हो जाएगी और धीरे-धीरे लूज मोशन मैं होने लगेगी बेबी को साफ पानी या उबला पानी पिलाएं अगर बेबी को लूज मोशन 10 से 20 बार पानी के समान पतला व बदबूदार हो तो आप बेबी को तुरंत डॉक्टर से जांच कराएं क्योंकि से बेबी की स्थिति खराब हो सकती है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें