40 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mera baby 12 din ka hai use bht sardi lag gai hai sas vi ache se nhi le pa raha hai mai kiya karu jo use thora aarm

2 Answers
सवाल
Answer: aap अजवाइन 1 chammach aur do char kali lahsun tawe पी bhoon के uski potli bache के pas rakhe use aaram milegi baby ko sendha namak deshi ghee एम मिलa के सीने एम aur peeth एम laga de
Answer: Ap usko cover krk steam de...nd vcks vaporb lgaye
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera baby 37 days ka hai use jukham hai vo ache se sas nhi le pa rha hai me kya kru
उत्तर: हेलो डियर जैसे ही मौसम चेंज होता है बच्चों को सर्दी जुकाम होना नॉर्मल है डियर आप चिंता नहीं करें आप नीचे दी गई रेमेडी को फॉलो करें : अपने बच्चे को अपना दूध पिला आएंगे बच्चा उतनी जल्दी अच्छे से रिकवर होगा और अपने बच्चे को गर्म कपड़े सही से पहनाकर के बाहर ले जाते समय टोपी अवश्य पहनाए और socks तो हमेशा पहना कर रखें क्योंकि ठंड हमेशा पैरों से जल्दी चढ़ती है -कप सरसों के तेल में अचवाइन और लहसुन की 10 कलियां लेकर उसे पकाएं, थोड़ा ठंडा होने पर उससे बच्चे की मालिश करें। इससे बच्चे को काफी राहत मिलेगी। दरअसल सरसों के तेल, लहसुन और अजवाइन में कीटाणु रोधक और विषाणु रोधक गुण होते हैं। इसके अलावा आप सरसों के तेल में जायफल भी डाल सकती हैं। जायफल गर्म होता है, ऐसे में इसके मिश्रण वाले तेल से हुई मालिश से जुकाम खत्म होगा।सोते समय अपने बच्चे के सिर ऊंचा रखे|ताकि अच्छे से सास ले सके
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera beta 20 din ka hai or use sardi ho gai hai to mai kya karu?
उत्तर: हेलो डियर ,,,मौसम में बदलाव या बेबी की प्रतिरोधक क्षमता में कमी होने के कारण बच्चों को बार बार सर्दी खांसी की समस्या बनी रहती है ,सर्दी खांसी को दूर करने के लिए आप कुछ घरेलू उपाय अपना सकते हैं | बेबी को अपना दूध पिलाते रहिए ,मां के दूध में प्रतिरोधक क्षमता होती है अजवाइन की पोटली बनाकर उसे बेबी के छाती ,पीट ,पैर और हाथ के तलवों को धीरे-धीरे मसाज कीजिए | अगर baby ka nose जाम है तोआप बेबी के नाक में नोजल ड्रॉप डाल सकते हैं नोजल ड्रॉपDr. द्वारा recommended Ho...| लहसुन को गर्म सरसों तेल में डालकर गर्म कर ले ,इसी तेल से बेबी की हल्की हल्की मालिश कीजिए | सेंधा नमक को सरसों तेल में मिलाकर बेबी की मालिश कर सकते हैं | सरसों तेल या नारियल तेल में तुलसी की पत्तियों को पीसकर milyeऔर इस से बेबी की malis kre..| सोते समय बेबी का सर ऊंचा रखें इसे बेबी को सांस लेने में आसानी होगी | बेबी को भाप दिलाने के लिए कमरे या बाथरूम में गर्म पानी डालकर पूरे कमरे मे स्टीम भर ले और इसी कमरे में बेबी को 10 से 15 मिनट बैठाकर रखें बेबी के कफ एंड कोल्ड में राहत मिलेगी| बेबी की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें बेबी को जब भी छुए हाथ धोकर छुए ,नहीं तो बेबी को इन्फेक्शन का खतरा बढ़ सकता है |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere bate ko achank se sardi lag gyi ha wah rat ko so nahi pa raha uski sardi rat ko bad jata ha nak se sas nahi le pata thik se mai abhi kya karu
उत्तर: हेलो आपकी बच्चे को सर्दी है nebulize करवायें बच्चे को राहत मिलेगी बच्चों का इम्यून सिस्टम बहुत कमज़ोर होता है जीस्से उन्हें कफ और कोल्ड हो जाता है.मौसम में बदलाव के कारण सर्दी खासी आने पर आप बच्चे को गरम रखें l ऐसे कपड़े पहनाये की हलकी गर्माहट बनी रहें l रूम को भी गरम रखने का प्रयास करे lसोते टाइम सर हल्का उंचा कर के सुलाये,बच्चे को आराम मिलेगाl बच्चे को आराम करवायें बच्चा जीतन आराम करेगा उतनी जल्दी ठीक होगा lखाने में गरम चीज़ों का यूज़ करे l सरसों के तेल में लहसुन और हींग गरम कर लेऔर हलके हाथों से बच्ची के चेस्ट back और पैरो के तलवो में मालिश करेl बच्‍चों के लिए सुरक्षित वेपर रब का इस्‍तेमाल करें। वेपर रब से बच्‍चे की नाक, छाती, गला और कमर पर मालिश करें। इससे बच्‍चों को सुकून भी ठंडक का अहसास होता है और उन्‍हें सांस लेने में आसानी होती है।बच्चे को संक्रमण से बचाने के लिये अपना और बच्चे का हाथ साफ रखे। बच्चे को कुछ खिलाने से पहले हैण्ड वाश करेlबच्चों के सर्दी-खांसी में अजवाइन का काढ़ा पिलायें।सर्दी-खांसी के दौरान सूप बहुत आरामदायक भोजन होता है। आप सब्जियों का गर्म सूप ,चिकन सूप दे सकती हैं। ये सूप बच्चे की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते है बच्चे को कुछ दिन फ्रूट्स ठण्डी चीज़ें चॉकलेट देना अवोइड करे ये कफ badha सकते है जीरे और मिश्री दोनों को महीन पाउडर में पीस लें। जब भी आपके बच्चे को खांसी आती है तो उसे यह मिश्रण दे बच्चे के खाने में हल्दी हीङ्ग का प्रयोग करे बच्चे को कुछ देर सँवरे 7 से 10 बजे की धूप में ज़रूर ले जायें ताकि बच्चे को सूर्य के प्रकाश से विटामिन डी मिलें विटामिन डी बच्चे के सर्दी को कम करने और ग्रोथ में हेल्प फूल हैl प्रॉब्लम ज़्यादा होने पर डॉक्टर से सलाह लें
»सभी उत्तरों को पढ़ें