29 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hii mera 7th month chl ra h mjhe chest m niche drd ho ra h pet sans lene m bhi dikkt hori h kya mai bra phnna chhod skti hu kya y safe h

1 Answers
सवाल
Answer: हाय डियर क्योंकि आपको चेस्ट में बहुत प्रॉब्लम हो रही है तो आप bra का यूज ना किया करें ब्रा पहनने से वह जगह टाइट हो जाती है इस वजह से भी दर्द हो सकता है आप ढीले कपड़े का इस्तेमाल किया करें ढीले कपड़ों में आराम मिलता है|
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 7th month chl ra h jb m ghumti hu to mere pet m niche ki trf drd hota h or dono pero m bi drd hota h to koi dikkt vali bat to nhi h na
उत्तर: हेलो . आप को कोई प्रॉब्लम नही है .. tenshon मत ल‍ीजिये ... प्रेगनेंसी के समय body mei हार्मोनल चेंजेज होते राहतें है . जिनकी वजह से कमर दर्द पेट मे दर्द पेरो मे सुजन हो जाना आम बात है ... जब आप का बेबी आप के अन्दर बढ़ता है तो पेट का भार पुरा आप के कमर ऑर पेट के निचे की तरफ़ होता है .. आप इस दर्द से थोड़ी राहत के लिये कुछ गरेलु टिप्स यूज़ कर सकती है .. जैसे दिन मे 4 से 5 बार आप हलके हाथों से अपने पेट पर nariyal के तेल से मसाज कर सकती है .. आप पेरो की सुजन कम करने के लिये गर्म पानी मे पेरो को duba कर रख सकती है . इस्से आप को बहुत रिलीफ होगा ... ऑर जब भी सोयें तो aapne पेरो के नीचे तकिया लगा के सोयें .. ओके डियर टेक केयर ....
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere dant m drd h or 7th month chl ra h to kya m dwaii kha skty hu.....
उत्तर: हेल्लो डीयर अगर आपको दांत दर्द है तो कोई भी दवाई ऐसे ही लेना ठीक नही होगा। आप डॉक्टर से पहले सलाह ले फिर दवाई लीजिये। आप dentist के पास भी जाईये तो उन्हे ये जरुर बताएं की आप प्रेग्नेंट हैं। और दर्द से छुटकारा पाने के लिये आप बर्फ से सिकाई कर सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mjhe sone m dikkt hori h ar chlne m bhi meri vagina m drd ho rha h aisa ku ho rha hoga
उत्तर: हैलो डियर-- यह परेशानी ज्यादातर प्रेगनेंसी में महिलाओं को होता ही है। यह दर्द गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने के कारण पड़ने वाले दबाव के कारण योनि और उसके आसपास दरद और खिंचाव होता है।कभी-कभी मांसपेशियों और हड्डियों पर पड़ने वाले दबाव के कारण योनी में दर्द के साथ सूजन भी हो सकती है यह दर्द बच्चे के जन्म के साथ ही खत्म हो जाता है।आपको इस स्थिति में अधिक से अधिक आराम करना चाहीये।जादा खडे़ रहने चलने और सिढी़ नही चढ़ना चाहीये।अधिक हसहजता या दरद होने पर एक बार डाक्टर से कंसल्ट जरुर कर लें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें