कुछ दिनों का बच्चा

Question: Mera बेबी बॉय है बट C- cectio है to plzz muje bataiye के muje khane pine me kya देख bhal रखनि चाहिए ऑर kon से kam नही karna चाहिए

3 Answers
सवाल
Answer: मां को बच्चे के जन्म के बाद ताकत देने वाला और बच्चे के लिए ज्यादा दूध बनने me madad kerne वाला आहार जरूर लेना चाहिए. ऐसा कोई आहार nahi len जिससे कि आपका वजन बहुत ज्यादा nahi बढ़ जाए और बाद में आपको वजन कम करने में दिक्कत हो. ऐसा आहार जिसमे कैलोरी ज्यादा हो फाइबर ज्यादा हो प्रोटीन ज्यादा हो फैटी एसिड ज्यादा हो जिससे कि आपको सभी चीजों में मदद मिले और आप अपने बच्चे की ग्रोथ अच्छी तरह कर पाए. आप ऐसा आहार जो आसानी से pachhe. जिससे कि आपको कब्ज नहीं ho. आपको गैस भी ना बने . दही ले जो अच्छे बैक्टीरिया को संतुलित करेगा पेट में. पनीर खाएं. बंद डब्बा food या fastfood नहीं खाएं . फैटी एसिड लें. मैं आपको ओमेगा-3 मिलेगा और जो आपके बच्चे के दिमाग के लिए आंखों के लिए बहुत लाभप्रद होगा. प्रोटीन शरीर में नई मांस पेशियों व कोशिकाओं को बनने में मदद करता है. साथ ही शरीर में आए घाव जो ऑपरेशन से आपको हुआ है उसको वह जल्दी भर देगा.स्तनपान कराने के समय आपके शरीर में बहुत सारे प्रोटीन की जरूरत होती hai. मछली अंडा चिकन डेयरी उत्पाद मटर दाल राजमा सूखे मेवे खाएं. रोज एक अंडा खाएं अंडे में जिंक होता है. विटामिन सी लें इससे आपको आपके घाव को जल्दी भरने में मदद मिलेगी और immunity अच्छी होगी. एंटीआक्सीडेंट होते हैं .विटामिन-सी में जैसे पपीता संतरे तरबूज स्ट्रॉबेरी अंगूर शकरकंद टमाटर गोभी ब्रोकली यह सब आप खा सकती हैं. आयरन की मात्रा इस समय आपको बहुत अच्छी लेनी होगी. आयरन से आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी. अंडे की जर्दी अंजीर राजमा khayen . iron वाले आहार से आप को कभी कभी कब्ज हो सकता है आप ध्यान रखें कि आप पानी काफी मात्रा में पिए .इससे आप को स्तनपान कराने के लिए भी दूध पर्याप्त मात्रा में होगा. कैल्शियम मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है. यह दांतों और हड्डियों को मजबूत करता है .स्तनपान के समय मां के शरीर से कैल्शियम बहुत जल्दी खत्म होता है. दूध जरूर ले इससे आपको कैल्शियम भी मिलेगा और बच्चे के लिए भी दूध अच्छा बनेगा. फलों का रस लेते हैं पर फल खाना ज्यादा अच्छा होता है क्योंकि जो रस हम पीते हैं पीने के बाद जिस गूदे को हम फेंक देते हैं उसमें फाइबर होता है. और बातों का आप ध्यान बहुत रखें .जब बच्चा सोए तब आप आराम करें .आप भी सोए .आपकी नींद होना भी बहुत जरूरी है .नींद पूरी करने से जब बच्चा उठेगा आप फ्रेश होंगे और आप बच्चे का ध्यान अच्छी तरह रख पाएंगे .नींद achhi tarha होने से आपको kabj ya पेट की कोई अन्य समस्या नहीं होगी .दूध अच्छा बनेगा . पानी की मात्रा बहुत मात्रा में लें. डिलीवरी के बाद स्टिचेस में प्रॉब्लम ho hi जाती है .अब बिल्कुल भी परेशान मत होइए. घबराएं नहीं .स्टिचेस में दर्द या खुजली या किसी अन्य समस्या के होने पर आपको बस थोड़ा सा ध्यान रखना है. जिससे कि आपको आराम भी मिलेगा और साथ ही साथ आपके स्टिचेस वापस फिर से ठीक भी हो जाएंगे . स्टिचेस चाहे वर्जिनल हो चाहे वह पेट में लगी हुई हो ठीक होने में वह ६ हफ्ते समय लेती है ।आपको अगर लग रहा है कि आप की यह समस्या ज्यादा बढ़ती जा रही है तो आप डॉक्टर से भी दोबारा सलाह कर सकती हैं। आप थोड़ी सी चीजों का परहेज करें भारी सामान ना उठाएं बहुत देर खड़ी ना रहे आप कुछ परहेज करके देखें मुझे पूरी उम्मीद है कि आपके स्टिचेस जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे और किसी भी प्रकार की तकलीफ आपको नहीं होगी सबसे पहले आप सफाई का बहुत ज्यादा ध्यान रखें .वहां पर जहां पर स्टिचेस है आपकी वहां पर नmi या ज्यादा गीलापन बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए . आप दिन भर में दो से तीन बार आप उस जगह को अच्छे से साफ कर ले और सॉफ्ट कॉटन के कपड़े से उसके अच्छी तरह से पूछ ले suखा ले . अगर वर्जिनal स्टिचेस है और वहां पर आपको दर्द है तो आप गर्म पानी की सिकाई करें . ध्यान रखें कि जब भी आप बाथरूम पास करने जाएं यूरिन करने जाएं वहां पर आप गुनगुने पानी से सिकाई कर ले और कॉटन के सॉफ्ट कपड़े से उस जगह को वापस अच्छी तरीके से सुखा लें . स्टिचेस की जगह पर किसी भी प्रकार की क्रीम पाउडर या खुशबूदार कोई क्रीम आप बिल्कुल भी ना लगाएं .अगर आपको डॉक्टर से सलाह करने के बाद कोई भी दवाई दी गई है वही लगाएं . आपको स्टिचेस में तकलीफ है यह समय बहुत कठिन लगता है. आप परेशान ना हो यह समय भी निकल जाएगा. आपका अपने खाने-पीने का बहुत ध्यान रखना है. साथ ही साथ अच्छी ताकत वाली चीजें खाएं .बहुत ज्यादा खट्टी चीजों का परहेज करें. कई बार होता है किं खट्टी चीजें खाते हैं तो उसके स्टिचेस paak तक जाती हैं. आपको खाने पीने में भी बहुत ही सादा खाना खाना है. आप की डिलीवरी ऑपरेशन से हुई है इसलिए आप कम से कम 6 हफ्ते तक sex नहीं करें. क्योंकि यूट्रस बहुत नाजुक हो चुका रहता है .आपके पेट में स्टेटस भी होंगी जो कि अभी पूरी तरह कैसे ठीक नहीं हो पाई होंगी आप 6 weeks के बाद भी पहले अपने डॉक्टर से सलाह करें उसके बाद ही सेक्स करें. take care
Answer: हेलो डियर डियर प्रेगनेंसी में दो तरह की डिलीवरी होती है एक धनवान मालिक सीजेरियन सेक्शन डिलीवरी के लिए बहुत सी प्रॉब्लम चाहती हैं नॉर्मल डिलीवरी के मुकाबले नॉर्मल डिलीवरी हमारी आसानी से हो जाते हैं और उसमें पहले तो पेन होता है पर माँ इसे 40डे में रिकवर कर लेती है और सिजेरियन होती है इसमें हमें कम से कम 6 महीने लग जाते हैं हमें खाने पीने का ध्यान रखना पड़ता है अपना ध्यान रखना पड़ता है कि हमें कब्ज की प्रॉब्लम नहीं प्रॉब्लम का सामना करना पड़ता है इस समय आपको अपनी प्रेग्नेंसी की तरह ही ज्यादा प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट और आयरन युक्त संतुलित आहार लेना चाहिए। मां बनने वाली महिलाओं को स्तनपान कराने के लिए रोजाना अपने आहार में 500 अतिरिक्त कैलोरी लेनी चाहिए। रोजाना लिए जाने वाली कैलोरी का स्तर 1800 से कम नहीं होना चाहिए। डियर आप को सीजर डिलीवरी के बाद कम वसा वाले चीजें खानी है जिसमें कम वर्षा हो फैट कम हो तो उनका दूध लीजिए दही पनीर ले सकते हैं और आप क्या विषम प्रोटीन के लिए विटामिन बी विटामिन भी बहुत अच्छा स्रोत माना जाता है उसको लीजिए आप को कम से कम आधा लीटर दूध लेना है लैट्रिन में या फिर दूध से बनी हुई चीजें खानी है कैल्शियम की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है इसके बाद हमारी हड्डियां कमजोर हो जाते हैं लेने के बाद हमारे अंदर बेबी को दूध पिलाना पड़ता तो दूध पिलाने के लिए बहुत ही जरूरी है वह हमें चाहिए साबुत अनाज से आपको आवश्यक ऊर्जा, पोषक तत्व और विटामिन मिलते हैंसाबुत अनाज में फोलिक एसिड, आयरन और फाइबर होता है, जो बच्चे के शुरुआती विकास के लिए महत्वपूर्ण होते हैं स्तनपान कराने वाली महिलाओं को नाश्ते में सिट्रिक फल जैसे संतरे और एंटीऑक्सीडेंट युक्त ब्लूबेरी खानी चाहिए। सिट्रिक फल में विटामिन सी मौजूद होता हैइसके अलावा हरी सब्जियां जैसे ब्रोकली, पालक, परवल, टिंडा और बीन्स, मेथी की पत्तियां और कमल ककड़ी में अधिक मात्रा में विटामिन ए और सी, आयरन और कैल्शियम पाया जाता है अपने आहार में दालों को शामिल करना चाहिए, क्योंकि यह प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत मानी जाती हैं। इसके अलावा यह विटामिन, मिनरल्स और फाइबर का भी मुख्य स्त्रोत होती हैं। मूंग और मसूर की दाल को भी आप अपने आहार में शामिल कर सकती हैं। यह आसानी से पच जाती है और आपके मोटापे को भी कम करती है। सिजेरियन के बाद आपको अपने आहार में हल्दी को शामिल करना चाहिए, हल्दी में विटामिन बी6, फाइबर, पोटेशियम, मैंगनीज और मैग्नीशियम मौजूद होता ह बादाम में कार्बोहाइड्रेट, विटामिन बी 12, विटामिन ई, फाइबर और मिनिरल्स जैसे कॉपर, कैल्शियम, जिंक, पोटेशियम और मैंगनीज पाए जाते हैं। बादाम आपके स्वास्थ्य और सुंदरता को बढ़ाने के लिए फायदेमंद होता है। बादाम को आप कच्चा, पानी में भिगोकर या पीस कuर किसी भी प्रकार से खा सकती हैं सिजेरियन डिलीवरी के बाद आपको जंक फूड और अधिक वसा वाले आहार नहीं लेने चाहिए। इससे आपका वजन बढ़ सकता है। यदि आपको गैस की समस्या हो तो ज्यादा मसालेदार भोजन करने से भी दूर रहें। इस समय मसालेदार खाना खाने से आपके दूध में भी मिर्च का स्वाद पहुंच सकता है और इससे बच्चे को परेशानी हो सकती है।
Answer: आपको कैल्सीअम विटामिन और आयरन वाला खाना खाइए . और हेवी चीज़ें 6 मंथ तक नही उठाना hai
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hello मेरी डिलिवरी 14 को हुई है बट अभी तक मेरा मिल्क नही बना है मिल्क बनाने के liye mujhe kya karna चाहिए plz हेल्प me
उत्तर: आप जितना हो उतना ज्यादा दूध पिलाने की कोशिश करते रहे. बच्चा जितना सक करनी की कोशिश करेगा उतना जल्दी और ज्यादा दूध आएगा. आप खाने में मेथी सुवा जैसी भाजी का सेवन ज्यादा करे. ड्राई कोकोनट भी दूध लाने में हेल्प करता है. पानी में जीरा उबालकर वो पानी पाई. आप दिन में २ से ३ बार दूध ले और उसमे सतवारी का पाउडर मिलाये. नारियल पानी पिए. ये सबसे आपको जरूर दूध आएगा. लहसुन ज्यादा खाये. मेथी के लड्डू भी खा सकते हो. खसखस से भी ज्यादा दूध आता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेम मेरे पास पहले से दो गर्ल बेबी है मै फिर से प्रेग्नेन्ट हूँ . मै एक बॉय बेबी की चाहिए .. ऑर मै यही सोच कर डिप्रेशन me हूँ
उत्तर: Hello..dear बच्चे का बेटा होना या बेटी होना कोई भि नही तय कर सकता , ये पुरुष के क्रोमोसोम पर डिपेंड कर्ता है .. फिमेल मे सिर्फ़ x होता है और मेल मे x और y .. जब पुरुष का x महिला के x से मिलता है तब लड़की होती है और जब पुरुष का y महिला के x से मिलता है तब लड़का होता है .. x+x= girl y+x=boy आप अच्छा खाना खाएं , भरपूर आराम करे , बच्चा स्वस्थ होगा .भगवान आपको वही सन्तान दें जिसकी आपको चाह हो .ok...take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: ही क्या लेफ्ट राइट साइड से बेबी गर्ल या बेबी बॉय के बेअर मे पत्ता छलता है ऑर प्लेसंट पोस्टर या ाँटिएर से ऐसा कुछ नही होता ना
उत्तर: हेलो जी आप बिल्कुल सही कह रही हैं इस तरह प्लेसेंटा की पोजीशन या लेफ्ट राइट होने से बेबी के ब्वॉय या गर्ल होने का पता नहीं चलता यह सब झूठी बातें हैं आप इन पर ध्यान ना दें
»सभी उत्तरों को पढ़ें