11 महीने का बच्चा

Question: mera बचा सोता क्यू नही

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा बेबी दिन में बिल्कुल नही सोता है क्यू
उत्तर: हैलो डियर--सबसे पहले बच्चे का पेट ठीक से भरा होना चाहिए ।कमरा न जादा गरम न जादा ठंडा हो कमरे में जादा रौशनी न हों जिससे बच्चे को लगे कि सोने का समय हो चुका है। बच्चे के साथ लेट जाएं और उसे प्यार से सीने से लगाएं।कोई लोरी या गीत सुनायें खुद भी कुछ देर आंखें बंद करके लेट जाएं, ताकि बच्चे को लगे कि आप भी सो गई हैं।हिले डूले नही ताकि शिशु जान सके कि अब सोने का समय है।इससे रात को बच्चे के सोने का समय तय करने और उसे सुलाने में ज्यादा मुश्किल नहीं होगी। वह आराम से सो जाएगा। अगर बच्चा हर दिन एक ही समय पर सोएगा तो बच्चे कि आदत बनेगी और बच्चा बिना किसी परेशानी के आसानी से सो जाएगा। मालीश करके भी आप बच्चे को सुलानें कि कोशिश कर सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बच्चा रात भर रोता रहता है , बिलकुल भी नहीं सोता है। मुझे कुछ नहीं समझ आ रहा है, की इसे कैसे संभालूं?
उत्तर: आपको उसकी रोने की वजह का पता लगाना होगा। बच्चे के रोने के बहुत सरे वजह हो सकते हैं। सारी बातों पर ध्यान दें। सबसे ज्यादा कॉमन होता है बच्चे का कोलिक (colic) होना। अन्य कारण हैं ठण्ड या गर्मी की वजह से , हो सकता है आपके लिए तापमान नार्मल हो लेकिन बच्चे को गर्म या सर्द लग रही हो, उसके हिसाब से ही कपड़े पहनाया करो, उसकी नींद पूरी होनी चाहिए, बोर(bore) हो रहा हो, कुछ असहज महसूस कर रहा हो, गैस की वजह से अगर कोलिक हो तो कोलिक एसिड(colic acid) दें, अगर बच्चे को बर्पिंग(burping) नहीं आ रही हो तो उसे 20 मिनट तक गोद में रखकर उसकी पीठ थपथपाएँ। फिर भी राहत नहीं मिली तो किसी अच्छे डॉक्टर को तुरंत दिखाएँ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बचा पुरी रात अछे से सोता नही हेय ऑर रोता(bohat nahi) रेहता है
उत्तर: छोटे बच्चों के रोने की कई कारण हो सकते हैं जैसे उनके पेट में कृमि , सर्दी, या गैस।कई बार छोटे बच्चे भूख लगने पर भी रोते हैंकहीं बच्चे के पेट में दर्द तो नहीं।कभी-कभी बच्चे भूखे रहते हैं तब भी रोते हैं।उन्हें ज्यादा ठंडी या गर्मी लगे तब भी वह रोते हैं क्योंकि वह बता तो नहीं पाते कभी-कभी बच्चे थकावट की वजह से रोते हैं तो उन्हें मालिश कर देनी चाहिए जिससे उन्हें अच्छी निंद आय आपको परेशान होने के बजाए धैर्य के साथ यह पता करने की कोशिश करनी चाहीये कि आखीर बच्चे के रोने कि वजह क्या है।क ई बार समझ ही नही आता तब आप को डाक्टर को दीखाना चाहीये।
»सभी उत्तरों को पढ़ें