10 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mem mere left side ki kamar m bahut drd ho ra h 2 3 din se koi problem to nhi hogi

1 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी के दौरान कमर दर्द होना सामान्य बात होती है लेकिन बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी प्रकार की दवाई लेना गलत होता है गर्भावस्था के दौरान अगर कमर में दर्द हो रहा है तो इसके बहुत सारे कारण हो सकते हैं जैसे वजन का बढ़ना क्योंकि प्रेगनेंसी में लगभग 11 से 15 किलो वजन बढ़ जाता है जिसकी वजह से भी कमर में दर्द होना आम बात है। हार्मोन में परिवर्तन शरीर में रिलैक्सिन हार्मोन बनता है जोक वेजाइना के एरिया में लिगामेंट को आराम पहुंचाता है और जोड़ों को बच्चे के जन्म लेने के लिए थोड़ा ढीला करता है। बच्चे के जन्म के दौरान हम आपके पेट par dabav लगातार नीचे की ओर होता है इसलिए इस समय मांस पेशियों का पैर दबा दबा ज्यादा होता है सोने के समय कमर पर कम दबाव पड़े ऐसे सोए इसके लिए अपने घुटनों के बीच में तकिया लगाकर सोए ताकि घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से आपके कमर दर्द से राहत मिलेगा। कमर में बहुत ज्यादा दर्द हो तो आप गर्म तेल की मालिश करवा सकते हैं गर्म तेल की मालिश करवाने से ब्लड का सरकुलेशन अच्छा होता है और आपको दर्द से राहत मिलता है प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को हमेशा हल्का फुल्का व्यायाम करना चाहिए क्योंकि एक्सरसाइज करने से शरीर kada होने से बच सकता है लेकिन इस बात का ध्यान रखे कि लिगामेंट्स में ज्यादा खिंचाव ना पड़े अगर आपको कमर दर्द की परेशानी है तो आप हमेशा ढीले कपड़े पहने ताकि आपको आराम मिले आप बर्फ से सिकाई भी कर सकते हैं इससे भी दर्द से राहत मिलता है। और ज्यादा देर बैठने से बार आपके कमर पर पड़ता है इसलिए ज्यादा देर ना बैठे।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere pet m left side m kl se bht drd ho ra h plz koi btaega ki q ho ra h
उत्तर: Pragnacy में कभी राइट साइड या तो लेफ्ट साइड pain होता है क्युकी पेट के दोनों साइड राउंड लिगमेंट होते है जो कि उतेरुस से भी जुड़े होते है जो एक रबर कि भाटी होती है ये कभी कड़क और कभी मुलायम हो सकती है जब हम सेकंड ट्रिमस्टर में होते है तब उस टाइम उतेरुस का साइज बढ़ता है और उस लिगमेंट में प्रभाव पड़ने के कारन हमें कभी राइट साइड या तो कभी लेफ्ट साइड दर्द हो सकता है ये दर्द थर्ड ट्रिमस्टर तक हो सकते है उसके लिए घबराने नहीं चाहिए क्युकी ये सरीर के अंदर होने वाली एक सामान्य प्रोसेस है जो बच्चे के साइज बढ़ने पर निर्भर करता है अगर आपको बहुत ज्यादा दर्द हो रहा हो तो आप हॉट वाटर बैग का उपयोग कर अपने पेट के निचले हिस्से को।सेकै कर सकते हैं
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pet me 2 din se drd ho rha h achank achank se esse koi problem to nhi hogi n
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के शुरुआत में किसी किसी को हल्का हल्का सा पेट दर्द होता है यह आम बात है अगर आपको यह दर्द बहुत जोर से हो रहा है और किसी तरह का डिस्चार्ज आ रहा है तो आपको एक बार डॉक्टर को दिखा देना ही बेहतर होगा क्योंकि डॉक्टर चेक कर कर बता पाएंगे क्या आपको यह दर्द भी हो रहा है। अब ऐसे टाइम में ज्यादा से ज्यादा पानी पिए पानी पीने से आप हाइड्रेट रहेंगी और आपको यह तकलीफ कम होगी ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere back pain bahut jyada ho rha 2-3 din se koi pro tho nhi hogi
उत्तर: हेलो आपका बैक पेन एक ही पोजीशन पर ज्यादा देर रहने के कारण है। एक ही पोजीशन पर ना ज्यादा देर सोना है ना बैठना है और नहीं ज्यादा देर खड़े होना है। पेट का भार ज्यादा हो जाने के कारण एक ही पोजीशन पर रहने से हमारे बैंक पर खिंचाव होता है और जिसके कारण दर्द होता है और पैरों पर भी ब्लड सरकुलेशन अच्छे से नहीं हो पाता इसलिए पैरों पर भी दर्द होता है। आप कोई भी पेन बाम को सरसों तेल मिलाकर बैक पर लगवाए और पैरों पर लगाएं। नहाने के गुनगुने पानी में नमक डालकर नहाए। सोने से पहले गुनगुने नमक पानी से पैरों की सिकाई करें। पैरों को सिर के लेवल से थोड़ा ऊपर रखें पैरों के नीचे तकिया रख ले। ज्यादा देर खड़ी ना रहे आराम करें रात में सोने से पहले गुनगुने दूध में थोड़ा सा हल्दी मिलाकर पिए। आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe 2 3 din se white dicharge ho raha h koi problem to nhi hogi
उत्तर: प्रेगनेंसी के दौरान हल्की गंध के साथ सफेद दूधिया डिस्चार्ज एक आम बात है यह प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले हार्मोनल चेंजेस के कारण होता है इसका फायदा भी है यह आपको यूरिनल इंफेक्शन से बचाता है अच्छे बैक्टीरिया के लिए अनुकूल परिस्थितियां बनाता है बस प्रेगनेंसी के दौरान यह चिंता का कारण बनता है जब डिस्चार्ज के साथ आपको खून के धब्बे और धक्के दिखाई दे अधिक डिस्चार्ज उस समय चिंता का कारण बनता है जब डिस्चार्ज का रंग बदलना, जलन और खुजली ,सेक्स के दौरान दर्द साफ सफाई का ध्यान रखें संतुलित आहार लें आराम करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें