20 weeks pregnant mother

Question: mem bachhe ka moment pet me kis jagh se suru hota mujhe sujhav de

1 Answers
सवाल
Answer: हरकत कहाँ से करता इसका तो कोई जवाब नही ... पर सुरुवात पैरो से करता हे
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe gas or acidity bhot hota h please kuch sujhav de deliy ka problem h ye
उत्तर: हेलो डिअर, गर्भावस्था में पेट की गैस को दूर करने के घरेलू उपाय इस प्रकार से हो सकते हैं: आप जो भी खाना खाएं उसे खूब खूब चबा चबा कर खाएं ऐसे आपका खाना अच्छे से पच जायगा और आपको गैस नही बनेगी कोई भी बाहरी चीजे जैसे फ़ास्ट फ़ूड जैसे चीजे न खाए घर का बना सादा खाना खाये इससे गैस नही होगी रात तो थोड़े से पानी में मेथी दाने भिगो कर रख दें और सुबह उस पानी को पी लें। इससे गर्भावस्था में बनने वाली गैस में आराम आ जाता हैं ज़्यादा पानी पीए: इस अवस्था में अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए। समुचित मात्रा में पानी पीने से भोजन को पचने में आसानी होगी और न तो अपच होगा और न ही गैस बनेगी। फाइबर युक्त आहार:  फाइबर युक्त भोजन से पाचन क्रिया सही रहती है और पेट में सूजन नहीं आती है जिसके कारण गैस बनती है। आपको अगर ऍसिडिटी है तो आप आप तैलीय या मसालेदार खाना , और चॉकलेट, खट्टे फल, शराब और कॉफी, ये सभी चीजे एसिडिटी को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। आप इसे ना ले सोडायुक्त चीजो की बजाय पानी पीएं, बाहर की चीजो का सेवन कम करें, जैसे कि टॉमेटो कैचअप, अचार और चटनी आदि। इनमें बहुत ज्यादा मात्रा में नमक, प्रिजर्वेटिव्स और एडिटिव्स होते हैं। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही का सेवन एसिडिटी के लिये पुराना इलाज माना जाता है। एक कप अदरक की चाय भी आपको राहत पहुंचा सकती है। केला खाने से भी इसमें फायदा होता है। थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार खाना खाती रहें।खाना को अच्छी तरह चबाकर खाएं खाना खाने के दौरान लम्बा गैप रखे खाना के दौरान बहुत ज्यादा मात्रा में पानी न पीएं। गर्भावस्था के दौरान रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी हैं कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना भोजन कर लें। एसिडिटी होने पर आप ग्लास पानी मे एक चम्मच जीरे को डाल कर खौला ले फिर इसको पिये इससे भी बहुत आराम मिलता है एसिडिटी में आप इसमें 10 , 12 पुदीने की पत्तियों को रोज चबाये इससे भी फायदा होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Gajar ka halwa roj dene se kya bachhe ka pet me dard hota hai kya
उत्तर: जी हां. गाजर का हलवा मीठा होता है और शक्कर से बनता है. नमक शक्कर गुड़ शहद मिर्ची बच्चे के १२ महीने पुरे होने तक नहीं देना चाहिए. अगर आप हलवा दूध से बनाते हो तो गे भैस बकरी का दूध से बानी चीज रोज देना भी बच्चे के लिए अच्छा नहीं है. बच्चे के १२ महीने पुरे होने तक उसे गाय भैस बकरी का दूध नहीं देना चाहिए.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere pet ke upri hisse me halka dard ho rha 3 dino se sujhav de
उत्तर: अभी आप 25 वीक प्रेग्नेंट हो. और प्रेगनेंसी में कभी कभी पेट में और आपकी छाती में या स्तन में दर्द होना आम बात है| प्रेग्नेंसी के दौरान आपका गर्भाशय बड़ा हो रहा है जिसकी वजह से डायाफ्राम पर भी प्रेशर आता है| डायाफ्राम पेट और छाती को अलग करने वाली एक पतली सी झिल्ली है| तो इस वजह से आपको ब्रेस्ट में थोड़ा पेन हो सकता है| प्रेग्नेंसी के दरमियान ब्रेस्ट का कद भी थोड़ा बढ़ता है और इस प्रक्रिया के दरमियान भी थोड़ा दर्द होता है| प्रेगनेंसी में पेट और छाती या ब्रेस्ट में दर्द का दूसरा कारण इनडाइजेशन या गैस की समस्या हो सकता है| प्रेगनेंसी में कई चीजों खाने से इनडाइजेशन हो सकता है और जिससे गैस की समस्या से कारण पेट या तो फिर छाती में दर्द या जलन होता है| ऐसा ना हो इसके लिए आप खाने में ध्यान रखें| ज्यादा ऑइली य स्पाइसी फूड ना खाएं| और जब भी खाना खाए थोड़ा-थोड़ा करके ज्यादा बार खाए एक बार बहुत सारा खाना ना खाए|
»सभी उत्तरों को पढ़ें