9 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: me 7 week pregnent hu aj meri back me bhut pain ho rha h kya koi tblet le skti hu ?? please reply me fast

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेग्नंसी मे बिना आपने डॉक्टर से पुछे कोई भी दवा ना लीजिए।गर्भावस्था में कमर और पीठ में दर्द होना सामान्य बात है आप बिल्कुल भी मत घबराइए जैसे-जैसे गर्भावस्था अपनी चरम सीमा की तरफ बढ़ती है वैसे वैसे आपके पीठ और कमर में दर्द बढ़ता है क्योंकि बच्चे का पूरा वजन। आपकी पीठ और पेट पर पड़ता है जिसकी वजह से आपके पेट में और पीठ में दर्द होता है आप अपनी पीठ और कमर का दर्द करना दूर करने के लिए निम्न उपाय कर सकती है पीठ का दर्द दूर करने के लिए आपको सुबह-सुबह थोड़ा बहुत टहलना चाहिए और व्यायाम भी करना चाहिए। आप जब भी सोए पीठ के बल ना सोए बल्कि आप एक तरफ को करवट लेकर सोए । आप अपने आहार पर भी ध्यान रखें संतुलित और पौष्टिक भोजन ही लें। आप अपनी पीठ और कमर का दर्द दूर करने के लिये गुनगुना सरसों का तेल लगाकर मालिश भी कर सकती है
Answer: हेलो डियर आप डॉक्टर के सलाह के बिना कोई भी मेडिसिन ना लें पीठ में दर्द होना तो समान्य है मै आपको कुछ उपाय बता रही जीस्से आप पीठ दर्द में आराम ल सकती है भरपूर नीन्द लें इसके लिए आप एक ही करवट में ना सोएं करवट बदल बदल कर सोएं ऑर एक पैर के घुटनों को उपर मोड कर सोएं एक तकिया अपने घुटनों के बीच में ऑर दूसरा तकिया पेट के नीचे लगकर सोएं एस में आपको अराम मिलेगा अदिक वज़न ना उठा ए ऑर जादा हिल वाली सेन्देल का यूज़ ना करें व्यायाम करें पिट का सही तरीके से हलके हाथों से मसाज करवाऐ
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: muje bhut tej jukam ho rha h ky me koi goli le skti hu kya
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान बहुत सारी परेशानियां होने लगती है अगर इसके साथ-साथ हमें सर्दी हो जाता है तो परेशानियां और भी बढ़ जाती हैl गर्भावस्था के दौरान हमें ज्यादा दवाई का उपयोग नहीं करनी चाहिए क्योंकि यह बच्चे के लिए अच्छा नहीं रहता| छोटी परेशानियों के लिए ज्यादातर हमें घरेलू उपचार ही करना चाहिए ताकि इसे किसी प्रकार का कोई नुकसान ना हो सके| सर्दी ज्यादातर हमें वायरस के इंफेक्शन की वजह से होता है और गर्भावस्था के दौरान खासकर पहले 3 महीनों में ही या लक्षण दिखते हैंl इसके लिए आप कुछ घरेलू उपचार कर सकती है जैसे अगर आप इस दौरान नींबू पानी का सेवन करती है तो आप सर्दी जुकाम से राहत पा सकते हैं नींबू पानी के साथ साथ शहद और अदरक का रस भी मिला सकते हैं सर्दी जुकाम होने पर गले में बलगम जम जाने के कारण आपको खांसी की भी शिकायत हो सकती है इसके लिए आपको गर्म पानी से भाप लेना चाहिए ताकि इसे बलगम पिघले और आपका गला साफ हो सके| इस दौरान अगर आप तुलसी के रस में शहद मिलाकर रोजाना एक दो चम्मच का सेवन करती है तो आपको इंफेक्शन से छुटकारा मिलता हैl गर्भावस्था के दौरान आप ध्यान रखें कि अगर किसी व्यक्ति को सर्दी है तो आप उसके पास जाकर ना बैठे क्योंकि इसे इंफेक्शन होने का चांस रहता है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello dr mera dant bhut drd kr rha hai kya mai koi medicine le skti hu plz reply me mam
उत्तर: हेलो गम मे सूजन और दांत दर्द मुंह में होने वाले एक टाइप का फंगल इनफेक्शन है इससे से राहत पाने के लिए आप यह सब करें ब्रश करते समय हल्के हाथों से करे। ब्रश करने के बाद नमक पानी से माउथवॉश करें बबूल की छाल को पानी में उबालकर उस पानी से माउथवॉश कर सकते हैं। गम में लगाने के लिए आप इन सब चीजों का उपयोग कर सकते है जैसे लौंग का तेल लौंग एंटीऑक्सीडेंट होता है और सूजन कम करने की क्षमता होती है। सरसों के तेल में नमक मिलाकर गम पर लगाएं। मसूड़ों और दातों पर मसाज करें। इसे गम का दर्द और सूजन दोनों कम होता है और दांत भी सफेद हो जाते हैं।। एलोवेरा जेल से भी गम में मसाज करने पर गम मे फंगल इन्फेक्शन के कारण होने वाली सूजन और दर्द ठीक होता है।। एक गिलास गुनगुने पानी में एक चममच अदरक का रस और एक चम्मच नींबू का रस डालकर रात में सोने से पहले माउथवॉश करें। आराम मिलेगा टेक केयर
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam 4th mnth chl rha h back pain bhut jyada h kya kru koi pain killer le skti हु kya
उत्तर: प्रेगनेंसी में पीठ दर्द होना एक आम बात है अक्सर ज्यादातर महिलाओं को गर्भावस्था में पीठ दर्द होता ही है पीठ में दर्द के साथ साथ अक्सर कमर में भी दर्द हो सकता है पीठ और कमर दर्द कम करने के कुछ घरेलू उपाय-- 1) अक्सर दर्द में हल्की मालिश करने से मांसपेशियों को दर्द से आराम मिलता है 2) बैठते समय ज्यादा तन कर न बैठे बल्कि हल्का झुक कर बैठे हैं जितना आरामदायक हो कोमल गद्दा तकिया लगाकर भी बैठ सकते हैं जो पीठ दर्द कम करने में आपको मदद करेगा 3) पीठ और कमर दर्द से आराम के लिए आपको फ्लैट नरम और कंफर्टेबल जूते और चप्पल पहनने चाहिए गर्भावस्था में कोई भी मेडिसिन बिना डॉक्टरी सलाह के नहीं लेना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें