4 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: me din bhar jee gabrata h...or me 5-6 din se fresh b nhi ho paa rhi hu..gas ban rhi h pet me kua kru

2 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी में कब्ज की समस्या बहुत ही आम है , अधिकतर महिलाओं को प्रेगनेंसी में कब्ज की समस्या हो जाती है , अगर आपको कब्ज की परेशानी हैं मोशन पास करने में आपको समस्या आ रहे हैं तो कुछ घरेलू उपचार करके देखें आपको आराम मिलेगा एक बात का ध्यान रखें आप कभी भी जोर ना लगाएं, बहुत पानी पिए दिन में कम से कम आज से 10 गिलास पानी जरूर पीएं हैं पानी में आप थोड़ी मात्रा में नींबू और शहद मिलाकर पिएं इससे आपको कब्ज़ आराम मिलेगा खाने में ऐसी डाइट लें जिसमे फाइबर की मात्रा ज्यादा हो जैसे कि दलिया फल फ्रूट , जंग फूड मैदा खाने से बचें 8- 10 किशमिश लेकर रात में पानी में भिगो दें सुबह चबा चबा कर खाएं आप अंजीर भी खा सकते हैं इससे आपको कब्ज़ से राहत मिलेगी . आपको पेट में गैस ना बने इसके लिए आप कोशिश करेंगे आप दिन भर पानी पीते रहें और जब भी आप खाना खाए उसे अच्छी तरह से चबा चबा कर खाएं आप एक साथ खाना खाने से बच्चे अब थोड़ी थोड़ी अंतराल में थोड़ा-थोड़ा खाना खाए एक साथ बहुत सारा खा लेने से पेट में गैस की समस्या हो सकती है खाने में फाइबर ज्यादा ले जैसे कि ओट्स दलिया फ्रूट्स खाने के बाद आप थोड़ा सा जीरा पाउडर मैं मिश्री मिलाकर खा सकते हैं साथ ही खाने में hing का प्रयोग करें जिससे आपको गैस की समस्या मैं आराम मिल जाएगा. प्रेगनेंसी में शरीर में होने वाले बदलाव के कारण आपको कई बार घबराहट महसूस होती है, और आप थका थका महसूस करती है, आपकी साँस भी कई बार तेज हो जाती है, ये भी आम बात होती है, इसीलिए आपको प्रेगनेंसी में किसी भी काम को करते हुए तेजी नहीं करनी चाहिए, और न ही ऐसा कोई काम करना चाहिए जिसके कारण आपके पेट पर दबाव पड़े, क्योंकि यदि आप पेट के बल काम करती है, या किसी काम को करने में तेजी करती है तो आपको ज्यादा घबराहट महसूस हो सकती है
Answer: आप dupthalac पियो 15 ml रात को
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: 15 din ka baby h ..uske stomach m gas ban rhi h ...kua kare...suggest anything
उत्तर: हेलों आपकी बच्ची 15 दिन की है आप के बच्ची को गैस बन रही है ऐसे में आप अपना खान पान संतुलित और हेल्थी रखें अगर आप का बेबी ब्रेस्ट फीड करता है तो l फीड सही तरीके से करवाये लेट कर ना करवायें फीड कराते समय बच्चे का सर हलका उंचा रखें ताकि फीड के समय बेबी को साँस लेने में प्रॉब्लम ना हो फीड के बाद आप बच्चे को डकार dilwaye .इसके लिए आप बच्चे को डकार दिलवये डकार दिलवाने के लिए आप बच्चे को kandhe पे हल्क सा ऊपर कर के ले और उनके पीठ में हलके से हाथ फेरे ऐसा करने से बच्चे को डकार आएगी और गैस की समस्या से राहत मिलेगी आप जितनी बार फीडिंग करवायें उतनी बार बच्चे को डकार दिलवाये बच्चे के नाभि के पास घड़ी की दिशा में गोल गोल मसाज करे .बच्चे को गैस में राहत मिलेगी साइकल चलाने वाली एक्सर्साइज करायें बच्चे को गैस में राहत मिलेगीजयाद प्रॉब्लम होने पर आप डॉक्टर से सलाह कर कोलिक ड्रॉप्स लें सकती है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe 4-5 din se shi se shi fresh nhi ho pa rhi hu .. mera 3 month chal rha h
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान ज्यादा टेंशन लेना शारीरिक हलचल और फाइबर युक्त आहार में कमी से कब्ज की परेशानी होने लगती है गर्भावस्था के दौरान हार्मोन की वजह से भी आंखों की मांसपेशियों को आराम मिल जाने की वजह से भोजन और अपशिष्ट पदार्थ बहुत धीरे-धीरे बाहर निकलते हैं शरीर से कभी-कभी पेट के बढ़ने की वजह से गर्भाशय पर पड़ने वाले प्रभाव को भी कम करते हैं जब बच्चे का विकास होता है तो कब्जी का परेशानी होने लगता है क्योंकि यहां निकले पेट और आंतों पर दबाव डालता है जिसकी वजह से पार्टी करने में बहुत परेशानी होती है इसके लिए आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं जैसे नींबू का पानी पिए नींबू का रस डालकर हल्के गुनगुने पानी पिए इससे हाथों में होने वाली Hulchul क्रियाओं में मदद करता है आप पानी का उपयोग ज्यादा करें पानी की कमी होने से भी कब्ज की परेशानी होने लगती है इसलिए आप दिन में 8 से 10 क्लास तक पानी पिए आप संतरे का भी इस्तेमाल कर सकते हैं इसमें फाइबर होने की वजह से यह कब्ज में राहत पहुंचाता है आपको अलसी के बीज का भी उपयोग करना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: m achee se fresh nhi ho paa rhi hu jis din se dilivery hui h kuch gharelu uppai btao
उत्तर: हेलो डियर आपको कब्ज की प्रॉब्लम है Delivery के बाद कब्ज की दिक्कत हो जाती है जिसके कारण पौटी टाइट होती है और पौटी मे blood आ जाता है। ये remedy try कर सकती हैं। 1. जब आप सुबह उठे नींबू के साथ एक गिलास गर्म पिएँ। 2. प्रत्येक भोजन से पहले नारियल के तेल या जैतून का तेल का एक बड़ा spoon लें। मल को नरम करने में मदद करता है। 3. अनाज और ब्रेड, ब्राउन चावल, और सेम के साथ-साथ ताजा फल और सब्जियां जैसे उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ खाएं। 4: मुनक्का को रात मे दूध मे भिगो दे और सुबह उसी दूध के साथ मुनक्का भी खा लें 5: रात मे एक गिलास गर्म पानी या हर्बल चाय लें। 6: prunes रोज खाएं इससे पेट साफ होता है। 7: कैफीनयुक्त पेय से बचें। 8. जब भी आपको लगे की फ्रेश होने जाना चाहिए जरुर जाए मल को रोके नही। 9: मल वाली जगह पर नारियल तेल लगाए। 10. 8 10 गिलास पानी पियें रोज। 11. फाइबर युक्त आहार जैसे जई, अनार के बीज आदि लें। 12. रोज वॉक करे ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें