7 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: me 6week pregnent हु ऑर muje योनि me dard kyu raheta he bataiye pless

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर ,,,7 week ki pregneci me योनि में दर्द होना सेक्स के कारण हो सकता है गलत तरीके से सेक्स करना, सेक्स के दौरान लुब्रिकेट की कमी पोजीशन में गड़बड़ी प्रेगनेंसी के दौरान अगर सेक्स किया जाता है तो उसका दबाव योनि पर पड़ता है और कभी-कभी इनफेक्शन आदि के कारण भी योनि में दर्द होने लगता है आप योनि के दर्द दूर करने के लिए अपने प्राइवेट पार्ट को हल्के गुनगुने पानी से धोएं इससे योनि की हल्की सिकाई भी हो जाएगी और दर्द से राहत मिलेगी नियमित रूप से हल्की एक्सरसाइज करें इससे मांसपेशियां नरम पड़ते हैं और योनि के दर्द से आपको राहत मिलेगी| दही खाने में शामिल करें दही में गुड बैक्टीरिया होते हैं जो कि आपके योनि के संक्रमण को दूर करने के काम करते हैं पर्याप्त मात्रा में पानी की बॉडी के हाइड्रेट होने से योनि का कसाव कम होने लगेगा जिससे कि दर्द में कमी आएगी | आराम करें भारी सामान ना उठाएं सेक्स करने में सावधानी रखें जहां तक संभव हो सके फर्स्ट सेमेस्टर में सेक्स ना करें|
Answer: हेलो डियर Pregnancy में प्राइवेट पार्ट में दर्द होना नॉर्मल है जैसे जैसे बेबी की ग्रोव्थ बधती है तो uterus का साइज़ भी इन्क्रीज होने लगता है और पेल्विक हिस्से की मांसपेशियों पर दबाव पड़ने लगता है और प्राइवेट पार्ट में दर्द होने लगता है प्राइवेट पार्ट का दर्द दूर करने के लिए आप ज्यादा देर तक एक जगह पर खड़ी ना रहे और ना ही ज्यादा देर तक कहीं पर बैठे। आप एक करवट में भी ना सोए ।रोज सुबह थोड़ी देर के लिए टहलने जाए ।इससे आपको प्राइवेट पार्ट के दर्द में आराम मिलेगा। इससे आपके बेबी को कोई प्रॉब्लम नही होगी।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mera 6 mahina chal raha he muje pet me dard raheta he
उत्तर: हेलो डिअर , प्रेग्नेंसीय में हल्का पेट दर्द होना सामान्य बात है गर्भावस्था में पेट दर्द की समस्या शुरू से लेकर जब तक आपकी डिलीवरी नही हो जाती है तब तक लगी ही रहेगी ऐसा होना प्रेग्नेंसीय में हार्मोन चेंज की वजह से होता हैं , प्रेग्नेंसीय में बहुत जल्दी जल्दी हार्मोन चेंज होता है , प्रेग्नेंसीय में जब बेबी का आकार बड़ा होने लगता है जिसकी वजह से गर्भाशय का आकार भी बढ़ने लगता है ऐसी कंडीशन में पेट मे खिंचाव होने की वजह से पेट दर्द होने लगता है आपको अगर प्रेग्नेंसीय के समय कोई दिक्कत नही है और पेट दर्द हल्का फुल्का रहता है तो ये सामान्य बात है लेकिन अगर यही असाधारण दर्द होता है तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए , आप कुछ घरेलू उपायों से पेट का दर्द कम कर सकती है जो इस प्रकार से है आपका पेट जिस साइड दर्द होता है आप उसके दूसरे साइड करवट करके सो जाएं आराम मिलेगा । प्रेग्नेंसीय में पेट दर्द होने पर आप गुनगुने पानी से स्नान करे आपको आराम मिलेगा पानी पीते रहना चाहिए पानी की कमी नही होनी चाहिए , जब पेट दर्द होने लगे तब आप आराम करें!
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere पेरो me bohat dard rehte hai pless kya kare bataiye
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी में पैरों तक पर्याप्त रक्त संचार न हो पाने के कारण उसमें ऑक्सीजन की कमी से पैर दर्द होने लगता है। यह घुटनों, और पैरों की उँगलियों में भी होता है। कभी कभी पैर सुन्न पड़ सकता है।बदलते हॉर्मोन्स लेवल से पैरों में दर्द होता है। जैसे गर्भाशय का आकार बढ़ता है उस प्रकार बदन की निचली मांसपेशियां ढीली पड़ने लगती हैं। इस कारण महिलाओं में पैर दर्द होता है। बढ़ते वज़न के कारण उसकी पैरों की हड्डी पर प्रभाव पड़ता है जिससे मांसपेशियों और पैरों में दर्द होता है। पैरों के दर्द से बचने के लिए पैर की उँगलियों को हलके हाथ से दबाएं। साथ ही गुनगुने तेल से मालिश करें! यह धीरे धीरे बेहतर परिणाम देगा। गर्भावस्था में ऊँची हील की सैंडल न पहनें। आरामदायम फ्लैट्स और ढीली चप्पलें पहनें। इनसे भी आपके पैरों और एड़ियों को आराम मिलेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera 9 month chal raha he muje kamar dard or pero me bahu t dard raheta to uska
उत्तर: प्रेगनेंसी के दौरान कमर दर्द होना एक आम समस्या है कभी-कभी कमर दर्द कैल्शियम प्रोटीन और अन्य पोषक तत्वों की कमी से भी होने लगता है. अपने पेट के नीचे तकिया लगाकर करवट लेकर लेटने से दर्द कम करने में मदद मिलती है। गुनगुने पानी से स्नान करने पर भी कमर दर्द में राहत मिलती है। आरामदायक जूते चप्पल पहनने चाहिए ऊंची एड़ी के जूते चप्पल ना पहने यदि आपकी कमर में ज्यादा दर्द हो तो आप गर्म पानी के बैग से अपनी कमर की सिकाई भी कर सकते हैं इससे भी आपको कमर दर्द में राहत मिलेगी. गुनगुने पानी में नमक डालकर 15 मिनट तक पैरों को उस में डाल कर रखें इससे आपको पैरों के दर्द में राहत मिलेगी या फिर आप पैरों में मालिश करवा सकते हैं ब्लड सरकुलेशन सही रहेगा और दर्द कम होगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें