23 weeks pregnant mother

Question: mary पिट m dard rahta h ky karu

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो आपका बैक पेन एक ही पोजीशन पर ज्यादा देर रहने के कारण है। एक ही पोजीशन पर ना ज्यादा देर सोना है ना बैठना है और नहीं ज्यादा देर खड़े होना है। पेट का भार ज्यादा हो जाने के कारण एक ही पोजीशन पर रहने से हमारे बैंक पर खिंचाव होता है और जिसके कारण दर्द होता है और पैरों पर भी ब्लड सरकुलेशन अच्छे से नहीं हो पाता इसलिए पैरों पर भी दर्द होता है। आप कोई भी पेन बाम को सरसों तेल मिलाकर बैक पर लगवाए और पैरों पर लगाएं। नहाने के गुनगुने पानी में नमक डालकर नहाए। सोने से पहले गुनगुने नमक पानी से पैरों की सिकाई करें। पैरों को सिर के लेवल से थोड़ा ऊपर रखें पैरों के नीचे तकिया रख ले। ज्यादा देर खड़ी ना रहे आराम करें रात में सोने से पहले गुनगुने दूध में थोड़ा सा हल्दी मिलाकर पिए। आराम मिलेगा
Answer: आप पीठ सीधी कर के कुछ समय बैठी रहे . आराम मिलेगा
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mary nichy dard rahta h to m ky karu
उत्तर: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय में आपका यूट्रेस बढ़ जाता है जिसकी वजह के पेट कर निचले हिस्से में दर्द होने लगता है ऐसे में गर्भाशय को सहारा देने वाली मासपेशियो में दर्द होने की वजह से पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है , ऐसे में बेबी के भ्रूण के बनने का प्रोसेस होता हैं , ऐसा दर्द होता है तो ऐसा होना नार्मल बात है आपको जब ऐसा दर्द हो तब आप आराम कर ले , खूब पाने पीती रहे ,दर्द होने पर हल्की हल्की गुनगुनी पट्टी से सिकाई कर सकते है प्रेग्नेंसीय में ऐसा दर्द नार्मल होता है अगर ये दर्द असहनीय हो यो आप तुरंत डॉक्टर को दिखाए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mary nichy s dard ho raha h to ky karu
उत्तर: हैलो डियर-- यह परेशानी ज्यादातर प्रेगनेंसी में महिलाओं को होता ही है यह दर्द गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने के कारण पड़ने वाले दबाव के कारण योनि और उसके आसपास दरद और खिंचाव होता है।कभी-कभी मांसपेशियों और हड्डियों पर पड़ने वाले दबाव के कारण योनी में दर्द के साथ सूजन भी हो सकती है यह दर्द बच्चे के जन्म के साथ ही खत्म हो जाता है।आपको इस स्थिति में अधिक से अधिक आराम करना चाहीये।जादा खडे़ रहने चलने और सिढी़ नही चढ़ना चाहीये।अधिक हसहजता या दरद होने पर एक बार डाक्टर से कंसल्ट जरुर कर लें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mary in time m daad ho raha h to m ky karu
उत्तर: अगर आपको दाद की है तो आप नहाने से पहले हर दिन सरसों के तेल की मसाज करें एलोवेरा की पत्‍ती को बीच से चीर लें और इसका चिपचिपा गूदा, खाज या खुजली वाले स्‍थान पर सीधे लगा लें, बाद में गुनगुने पानी से धो लें,इससे काफी राहत मिलती है अगर शरीर में लाल चकत्‍ते, सूजन या खाज है तो भी काफी आराम मिलती है. नीम की पत्तियों को पानी में उबालकर उस पानी से नहाने करने पर शरीर से खुजली का संक्रमण सही हो जाता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें