32 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: Mare pet may pani kam ho gaya hai 7.6 hai muje salayan chalu hai. But har bar kuch second ke liy mare pet dard hota hai kya is vajah se dard hota hai. Kya ye normal hai.

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Muze constipation ke vajah se pet dard hai.. Ise rahat Milne K liy Kya kre
उत्तर: Helllo Dear आप बिल्कुल चिंता ना करें बस कुछ बातों का ध्यान रखें अपने खाने में सलाद ले ,रफेज की मात्रा बढ़ा दें तरल पदार्थों का उपयोग ज्यादा करें ,आप रोज 8 से 10 गिलास पानी पिएं , आप रात में में मुनक्का दूध मैं बॉईल करें ठंडा होने पर वही दूध पी लें और सारे मुनक्के खा लें इससे आपको बहुत अधिक राहत मिलेगी और धीरे-धीरे ठीक भी होने लगेगा constipation आप यह भी कर सकते हैं कि रात में अंजीर भिगो दें और सुबह फ्रेश होने के बाद खाली पेट अंजीर खा ले धीरे-धीरे जड़ से आपका कॉन्स्टिपेशन चला जाएगा ज्यादा तेल का बना हुआ और मसालेदार खाना अवॉइड करें अपने आहार में फलों को शामिल करें पत्तेदार सब्जियां और छिलके वाली दालें खाएं आप जितना टहल सकती हैं उतना टहले दिन भर बैठे ना रहे फिर भी अगर आपको कॉन्स्टिपेशन में आराम नहीं है तो अपने डॉक्टर से कंसल्ट जरूर kre...
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Muje pet ke nichle hise me dard ho raha he.tention ki vajah se aisa hota e kya?
उत्तर: हैलो डियर- जी हां अक्सर गर्भावस्था के शुरुआत में पेट दर्द होना सामान्य है इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं अक्सर पेट के निचले हिस्से में दर्द होने का कारण गैस होता है। जो तैलीय मसालेदार चटपटा भोजन और राजमा चना खाने से गैस बनने के कारण होता है।गर्भावस्था में जब तक आपको गैस बनने की समस्या है तब तक आपको इन सब चीजों को नहीं खाना चाहिए बाद में आप फिर से खाना चालू कर सकती हैं। गैस से राहत के लिए आप कुछ घरेलू उपचार अपना सकती हैं।1 लीटर पानी में 3 या चार चम्मच सौंफ और जीरा उबाल लें इसे ठंडा होने दें और इसे दिनभर थोड़ा-थोड़ा पीती रहें इसमें आप थोड़ा शक्कर या शहद भी मिला सकती हैं। Take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere baby को pet dard aur gas ki problem hai aur bar bar potty karne ke vajah se bum bhi red ho gaya hai kaise thik kare
उत्तर: किसी किसी बच्चों को गैस बहुत बनते हैं लेकिन अगर आपके दूध पिलाने की पोजीशन सही नहीं है तो बच्चे दूध पीते पीते भी बहुत ज्यादा गैस Ghatak जाते हैं जिससे उन्हें गैस पेट में बढ़ जाती है और पेट दर्द होने की शिकायत होती है इसके लिए आपने हर 2 घंटे में दूध पिलाने के बाद डकार दिलाते रहिए थोड़ी-थोड़ी मात्रा में दूध पिलाई है और डकार दिलाते रहिए आप अपने बच्चे के पेट को सर्कुलर मोशन में मालिश भी कर सकते हैं और उन्हें साइकिल चलाने जैसा एक्सरसाइज करें जिससे उन्हें गैस पास करने में आराम होगा। अगर आपको आराम नहीं मिलता है तो आप डॉक्टर से जरूर संपर्क कीजिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें