17 महीने का बच्चा

Question: Mara beta kuch khata nahi me kya karu...? Vo 1 sal or 5 mahine ka he

1 Answers
सवाल
Answer: माम आप अपने बेबी को khane के लिये ज़बरदस्ती ना करें .. हम मांओं की आदत होती है . बच्चे को ज़बरदस्ती खाना खिलाने की . जब बच्चे को भूख लगेगी to वो खुद हाइ खाने के लिये magega .. आप कुछ प्रयास कर सकती है जीस्से की बेबी को खेने मे इंटरेस्ट paida हो ... जिससे की आप की tenshon भि तोडी कम होगी . आप आपने बेबी को उसकी favrate cartoons caractor वाले प्लेस ऑर बाउल मे हाइ खाना दें .. आप जब बेबी को खाना सर्व करें टु अपनी प्लेट भि लगायें .. बेबी को अलग अलग तरह की डिशेज बना के दें .. बेबी को jaisa खाना मीठा या नमकीन पसन्द हो वैसा ही बनाये . ऑर khana khane k samay aap अपने बेबी से उस के फ़वरत कर्टुनस और animals के बारे मे बात करते रहें .. बेबी को acha लगेगा ..
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mera beta 10 mahine ka he to kuch khata nahi
उत्तर: हेलो डिअर बेबी छोटे होते है तो आपको ही चेक करना पड़ेगा की कोई प्रॉब्लम तो नही है बेबी को। बेबी क्यों खाना नही खा रही है। बेबी को कोल्ड और फीवर होगा तब भी नही खाएगी और रोने का रीज़न हो सकता है। बेबी के पेट् में दर्द तो नही है। बॉडी में कही और तो पीडा नही हो रहा है। टीथिंग के कारण भी ऐसा होता है। ऐसे में माँ को बेबी को खूब प्यार देना चाहिए उसके साथ ज्यादा टाइम स्पेंड करे। वो ख़ुशी से जो खाए सिर्फ वो खिलाइये। या बेबी जो कहे बनाकर देने को वो दीजिए । फाॅर्स मत कीजिये वो बॉडी में भी नही लगेग। कभी कभी एक ही तरह के खाने से भी बोर हो जाते है बेबी कोअलग अलग प्रकार का भोजन दीजिए। मिल्क के लिए फोर्स न करिये सॉलिड पे ध्यान दीजिए इस उम्र में सॉलिड ज्यादा जरुरी है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera beta 2 sal 2 mahine ka he but abhi bolta nahi kya karu me?
उत्तर: मुझे पता है आपका अब मां सुनने का मान होगा । बहुत इंतज़ार होगा । परेशां नहीं होइये।। बचा जल्दी ही मां बोलेग।।और इतनी बातें करेगा की आप बोलेंगी उफ़ कितनी बात करता है । नोर्माल बेबी 1 से 2 साल का 2 शब्द ही बोल पता है। 3 से 4 साल का 1000 शब्द का उसे करता है। कुछ उपाए है।। कर के देखे । मुझे उम्मीद है आपको हेल्प होगी । १) बछो को बच्चो के साथ प्ले करने देण।वह आपने आप उनसे सिखेंगे। २)सबसे पहली टीचर पेरेंट्स है।। आप समय देते है अब थोड़ा और समय दे बच्चे को। ३)स्टोरीज सुनाये फिर कुछ वर्ड्स बार बार बोले ।उनको एक्शन करके बताये और उनको भी करने बोलण। ४)आप बच्चे के सामने फोनिक्स बोले और उसको फिर से बोलने बोले। ५)कोई भी ऐसी एक्टिविटी बच्चे के अच्छे मूड होने पैर करे। मुझे पता है जल्दी ही आप मां सुनेंगी।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 4 साल का बेटा ः वो कुछ नहीं खाता बहुत वीक ः
उत्तर: हेलो डिअर, आपका बेबी खाना अच्छे से नही खाता है तो आप कुछ इस तरह से उन्हें खाने के लिए प्रेरित कर सकती है आप अपने बेबी को जब पूरे परिवार के लोग खाना खाने के लिए बैठे तब आप अपने बेबी का भी खाना एक अलग बर्तन में खाना निकाल दे , छोटे बेबी दुसरो की नकल करने में माहिर होते है आपका बेबी जब पूरे परिवार को खाना खाते देखेगा तब वो भी खाना खाने की कोशिश करेगा और खाना खायेगा आप अपने बेबी को रंग बिरंगी सब्जियां दिखाए इससे आपके बेबी को पता चलवाये की ये सारी सब्जियां खानी चाहिए आप अपने बेबी को खाना रंग बिरंगा घर पर ही बना कर खिलाये जिसको देखकर आपके बेबी को अच्छा लगे और वो खाना खाने लगे आप अपने बेबी को रंग बिरंगे और जिसमे कार्टून बना हो ऐसे बर्तनों में खाने को दे बर्तनों को देख कर आपका बेबी अच्छे से खाना खायेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा बच्चा 1 साल 1 महीने का ह और वो ऊपर का कुछ नहीं kहata ह इसलिए भूका रह जाता h
उत्तर: हेलो बच्चे जब शुरुआत में दूध के बाद कुछ सॉलिड चीजें लेना शुरू करते हैं तो एकदम से उन्हें एक्सेप्ट नहीं कर पाते और खाना नहीं चाहते या तो उन्हें उनका स्वाद अच्छा नहीं लगता या उनकी थिकनेस के कारण वह नहीं खाना चाहते क्योंकि उन्हें खाना गटकने की आदत नहीं होती इसलिए बच्चे उल्टी कर देते हैं और बच्चे उसे ठीक से पचा नहीँ पाते। और उन्हें दस्त की प्रॉब्लम होती है इसलिए बच्चों को लिक्विड के बाद डायरेक्ट सॉलि़ड ना देकर सेमी सॉलि़ड फूड देना चाहिए। सेमी सॉलि़ड फूड में सेरेलक दाल और चावल की मिक्स पतली खिचड़ी दलिया की खिचड़ी या दलिया का खीर चावल का खीर फलों की स्मूदीज या फ्रूट शेक देना शुरू करें बच्चा जब यह सब चीजें खाने लगे तो एक या दो माह बाद उसे यही सब चीजें थोड़ा गाढ़ा करके दे। और साथ में दाल चावल मसलकर और दूध रोटी मसल का या दाल रोटी मसलकर खिलाएं और जब बच्चा ऐसे भी खाने लगे तो उसके 2 महीने बाद फिर नॉर्मल खाना बच्चे को खिलाना शुरू करें स्टेप बाई स्टेप बच्चों के आहार को गाढ़ा करने से बच्चे आसानी से डाइजेस्ट कर लेते हैं और खाना भी सीख जाते हैं। इससे बेबी का वजन जरूर बढेगा।
»सभी उत्तरों को पढ़ें