37 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hlw mam presentation cephlic mtlb kya hota h..baby sahi position m h ya nhi

1 Answers
सवाल
Answer: गर्भ में बच्चा अपनी पोजीशन बदलता रहता है बच्चे समय पूरा होने पर बच्चा अपनी पोजीशन ले लेता है यानी के बच्चे का सर नीचे और पैर ऊपर की तरफ जिसे cefalic पोजीशन कहते हैं जन्म के समय बच्चे को सिर की तरफ से निकाला जाता है नॉर्मल डिलीवरी में बच्चे की यह सेफ पोजीशन मानी जाती है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Hello mam mujhe mera baby laniya nigra ke uper mtlb ki pet ke uper feel hota h kya mera baby breach position se sahi position le lega ya nhi m bahut confused hu plz koi solutions btaye
उत्तर: हेलो अगर प्रेगनेंसी में बच्चा उल्टा या ब्रीच बेबी है तो उसके सीधा होने के चांसेस बहुत कम होते हैं ब्रीच बेबी मूवमेंट करते हुए अपने आप कभी कभी सही पोजीशन में आ सकते हैं। अगर आप अपना सोने का उठने बैठने का पोजीशन सही रखें तो ऐसा हो सकता है। पीठ के बल कभी ना सोए लेफ्ट करवट सोये। ज्यादा देर एक ही पोजीशन पर ना रहै ब्रीच बेबी की पोजिशन बदलने के लिए बच्चे को पेट में ज्यादा जगह देना पड़ता है डॉक्टर पेट के बाहर से ही अपने हाथों से बच्चे की पोजीशन बदलने की कोशिश करते हैं और इस प्रक्रिया को एक्सटर्नल सैफेलिक वर्जन कहा जाता है यह प्रेगनेंसी की आखरी हफ्ते में किया जाता है और यह तभी किया जा सकता है जब आपकी ब्लीडिंग नहीं हो रही हो बच्चे का हार्ट रेट सही हो। फ्लूइड की मात्रा कम ना हो प्लेसेंटा गर्भाशय के मुख के पास ना हो। लेकिन इसके बाद भी इसमें चांसेस कम ही होते हैं इसलिए डॉक्टर ब्रीच बेबी होने पर ऑपरेशन की सलाह देते हैं क्योंकि यह मां और बच्चे दोनों के लिए सेफ होता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Cephalic presentation ka Mtlb kya hota h
उत्तर: मेरे ख्याल से सैफ लिख पोजीशन होने पर डिलीवरी नॉर्मल होती है इस समय गर्भ में बच्चे की स्थिति बिल्कुल सही होती है जिसमें बच्चे का सर नीचे की ओर और पैर ऊपर की ओर होते हैं इसलिए नॉर्मल डिलीवरी की संभावना बनती है क्योंकि मुझे भी प्रेगनेंसी के दौरान बच्चे की स्थिति से फ्लिक पर पोजीशन बताया गया था
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Kya pregnant m mobile chlana sahi hota h ya nhi..
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी नहीं मोबाइल चलाने से कोई भी परेशानी नहीं होगी इसलिए आप बिल्कुल भी टेंशन मत लीजिए लेकिन लगातार दो तीन घंटों तक ना देखें इससे आंखें खराब हो सकती है अपना ख्याल रखना
»सभी उत्तरों को पढ़ें