17 weeks pregnant mother

Question: mam neend nahi aati to kya karu

1 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी में यह समस्या आती है hormonal डिसबैलेंस होने के कारण हमारे हमें कभी भी घबराहट हो जाती है कभी भी हम खुश हो जाते हैं हमारा मूड स्विंग बहुत ज्यादा होता है नींद नहीं आती है इसके लिए आप बिल्कुल भी चिंता नहीं कीजिए प्रेग्नेंसी के जाने के बाद भी आप की डिलीवरी होने के बाद अपने आप ठीक हो जाएगा अभी आप अपने आप को खुश रखने की कोशिश कीजिए आप अपने मनपसंद का म्यूजिक सुन सकती है अपने पसंद के कपड़े पहन लिए अपने पसंद का भोजन कीजिए आप अच्छी किताबें पढ़ी है और अपने हस्बैंड से अच्छी बातें कीजिए आप थोड़ी देर साथ में टहलने भी निकल सकते हैं इससे आपका मन शांत रहेगा आप अपने मन की बातें शेयर किया कीजिए किसी से भी इससे आपको आराम महसूस होगा।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: muje neend nahi aati kya karu main meenakshi sharma hu
उत्तर: प्रेगनेंसी के दौरान भरपूर नींद लेना बहुत जरूरी है प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में बहुत से हारमोनल चेंज हो जाते हैं इसी के साथ ऐसी स्थिति में बहुत तनाव होता है जिस वजह से नींद ना आना स्वाभाविक है नींद ना आने पर आप कुछ उपाय कर सकते हैं जैसे कि खाने में तरल तरल पदार्थ लें जैसे पानी और जूस पिए ध्यान दें रात में सोने से पहले तरल पदार्थ ना लें इसे रात को बार-बार urine आ सकती है और नींद खराब होगी मॉर्निंग वॉक करें हल्की-फुल्की एक्सरसाइज करें इससे ब्लड सरकुलेशन होता रहेगा रात के समय पैरों में ऐंठन कम होगी तनाव बिल्कुल ना ले इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने आपको हर वक्त खुश रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mam muje five month laggne vaala hai muje neend nahi aati kya karu
उत्तर: मैन shant rakho, pisitve socho, music lagakar need aa jayegi. o
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe raat me neend nahi aati hai main kya karu koi pareshani to nahi hogi na
उत्तर: ज्यादा वक्त सीधे पीठ के बल नहीं सोना चाहिए वर्ना रक्त का प्रवाह सही न होने पर कई परेशानियां हो सकती हैं और कोई भी परेशानी नींद खराब कर सकती है. लेफ्ट सोने का ट्राइ करे , किडनी यूटेरेस तक खुन का प्रवाह अच्छा होगा .. जिसे आपकी नीन्द ना आने की तकलीफ़ कम होगी .. प्रेग्नेंसी के दौरान की जाने वाली एक्सरसाइज और टहलना नियमित रखें,इससे शरीर में रक्तका प्रवाह सही बना रहता है, रात में पैरों में ऎंठन की परेशानी कम करने में मदद मिलती है, इसके अलावा रात मे सोने से पहले एक ग्लास गरम मिल्क पी कर सोएं इससे हाथ पैर मे दर्द भी कम होगा और नीन्द भी ठीक से आएगी . आपको सोने मे ज़्यादा प्रॉब्लम हो तो आज प्रेग्रेंसी pillow का bhi use कर सकते है ,ये बहुत आरामदायक होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें