37 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mam mujhe mornig se वॉमिट ho rhi hai or baby kick bhi jada ho rhi h niche k taraf kya,karna chahiye mujhe aise mai..

1 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी की पूरी अवधि ४०वीक्स मानी जाती है। बहुत से बच्चे ३७वीक से ४० वीक के अंदर पैदा हो जाते है। वीक्स आपके पीरियड के पहले दिन से काउंट किय जाते है। Aap एक बार डॉक्टर को मिलिए और chekup कराये ...लास्ट लास्ट के month मे आप कुछ बातों का खास ध्यान रखिए। बच्चे का मूवमेंट दिन में कम से कम 15baar होना जरुरी हैं कभी कभी बच्चे सोते रहते हैं. यदि आपको मूवमेंट मेहसुस नहीं हो रही है तो आप ठंडा पानी पीजिए अपने पेट me हाथ फेरते रहिये... अगर कुछ मूव मेंट ना दिखे तो डॉ को जरूर दिखाए. लास्ट लास्ट प्रेग्नेन्सी में बच्चे का सर पेल्विक एरिया मि फिक्स होने लगता है जिससे बेबी का मुवमेंट थोड़ा कम या अलग लग सकता है. आप किसी भि प्रकार का वेजिनल लीकेज को नोटिस करते रहिए । जिससे आपको पता चलेगा अगर आपका वाटर लीक होगा तब और किसी भी प्रकार का डिस्चार्ज होगा तब आपको डॉ से संपर्क करना है।।।सफेद डिस्चार्ज नार्मल है उसमें घबराने की बात नहीं है।।। अगर किसी भी प्रकार का तेज़ पेट में दर्द होता है तो अपने डॉ से मिलिये।।यह लेबर पेन भी हो सकता है। आप अपने बेबी के लिए एक हॉस्पिटल बैग तैयार कर लीजिये जिसमे कुछ जरुरी सामान रखना होगा जेसे बच्चे के २...३ सेट धुले कपडे और धुप में अच्छे से सुखाय हुये।आपके २...३ सेट फीडिंग वाले गाउन दो तीन पैर अंडर गारमेंट... जरूरी हॉस्पिटल के डॉक्युमेंट्स... diaper... बेबी वाइप... एक टॉवल और बेबी को ढाक्ने और cuddle करने के लिए ब्लंकेत... दूध पिलाने के लिए एक स्टॉल... कोई भी एंटीसेप्टिक लिक्विड सोप और हैंड सैनिटाइजर.. पैड... एक छोटा मिरर और comb। आप अच्छा सन्तुलित खाना लीजिये।।खुश रहिये और अपने बेबी का वेट कीजिये।... जरूरी नहीं है कि बच्चे सिर्फ पेन से ही पैदा होते हैं कभी-कभी अवधि पूरी हो जाने के बाद बच्चों को ज्यादा देर तक पेट में रहने से नुकसान भी हो सकता है इसलिए आप डॉक्टर के निर्देशों का पालन करते रहिए।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mam mujhe achank se fiver aata hai or fhir apne thik bhi ho jata hai or mai 9 week ki pregnant hu mujhe aise me kya karna chahiye
उत्तर: प्रेग्नेंसी की शुरुआत में हार्मोनल बदलाव के कारण कभी कभार फीवर आना नोर्मल है। इसको कम करने के लिए आप आरामदायक और ढीले ढाले कपड़े पहने, सूती कपड़े आपके लिए ज्यादा उचित रहेंगे। आप हल्के गुनगुने पानी से नहा सकती हैं इससे शरीर का तापमान कुछ हद तक कम हो सकता है, जितना हो सके बुखार में शरीर को आराम दें, ज्यादा चले फिरे नहीं। बुखार को कम करने के लिए ठंडे पानी से सिकाई करें ऐसे बुखार कम हो सकता है। आप आधा चम्मच कटे हुए अदरक को एक कप पानी में डालकर 5 मिनट के लिए अच्छी तरह उबाले और उसको ठंडा करके उसमें शहद मिलाकर पी लीजिए इससे आप को बुखार से निजात मिल सकती है इसके अलावा आप एक गिलास में आधा चम्मच हल्दी अदरक पाउडर और आवश्यकता अनुसार चीनी डालकर गर्म करें और ठंडा होने के बाद उसको पी ले और साथ में आप बीच-बीच में नार्मल पानी भी पीते रहे हैं ताकि आपके शरीर पूरी तरीके से हाइड्रेट हो और आपको बार बार पेशाब आए जिससे आपका बुखार पेशाब के द्वारा निकल सके
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mera garbhnal niche k taraf ko bataya h iske liye mujhe kya karna chahiye
उत्तर: इसके लिए आपको प्रॉपर रेस्ट करना होगा ज्यादा काम ना करे कोई हैवी चीज़ ना उठाये इसमें सेक्स भी करने की मनाही होती है अगर ापमो ब्लीडिंग स्टार्ट हो जाती है तोह डॉक्टर को c सेक्शन करके बच्चे को निकालना पढता है लेकिन आप अपनी थोड़ी ज्यादा केयर करे आज कल 36 वीक्स तक मेडिसिन दी जाती है जिससे बच्चे को कोई प्रॉब्लम ना हो और इंजेक्शंस दिए jate है इसलिए डॉक्टर आपको जो ट्रीटमेंट देते है आप वो लीनीए और अच्छे से रेस्ट कीजिये
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mam mera 3week ka ek beta hai usse bht jhiik AA rhi h or naak se bht aawaj bhi AA rhi h aise me mujhe kya krna chahiye
उत्तर: आप को डॉक्टर को दिखा ले डॉक्टर बेबी के हिसाब से दवा दे देगा बेबी बहोत छोटा h
»सभी उत्तरों को पढ़ें