गर्भावस्था की तैयारी

Question: mAm meri utreus main डॉक्टर nay infection bataya tha aab woh bhi theek hai phir bhi maay conceive nhi kar paa rhi kya करु

2 Answers
सवाल
Answer: गर्भवती होने के लिए संबंध बनाने से ज्यादा जरूरी होता है कि सही समय पर संबंध बनाए और सही टाइम की जानकारी रिलेशन टाइम से पता चलती हैऔर यह टाइम गर्भधारण करने का एकदम ज्यादा उचित समय होता है अगर आप ओवुलेशन टाइम के बारे में जानते हैं तो आपको गर्भधारण करने के लिए कोई भी परेशानी नहीं आएगी| प्रेग्नेंट होने के लिए ivulationपीरियड सबसे अच्छा समय होता है। हर महिला का ovulation पीरियड अलग-अलग हो सकता है| और अभी नेशन का समय जानने के लिए सबसे पहले पीरियड का टाइम पता करना होता है| पीरियड शुरू होने के लगभग 12 से 14 दिन पहले का टाइम ही ओवुलेशन होता है आर्य पीरियड आने के 7 दिन पहले तक रहता है यही वो टाइम होता है जिसमें अगर आप संबंध बनाते हैं तो गर्भ ठहरने की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाती है|। ओवुलेशन का समय मतलब पीरियड्स के 12 से 14 दिन पहले और उसके अगले 5 दिन महिला की प्रजनन क्षमता बहुत ज्यादा होती है। अगर आप प्रेग्नेंट होना चाहती है तो शारीरिक मेल होने के बाद लगभग 15 से 20 मिनट तक पीठ के बल ही लेटे रहना चाहिए। इस समय अपने आहार में बहुत ज्यादा ध्यान देना पड़ता है और अगर आपका वजन बहुत ज्यादा है तो संतुलित होना बहुत जरूरी होता है वजन का और इस समय पुरुष को भी बहुत सारी बातों का ध्यान में रखना पड़ता है क्योंकि जैसे अगर अपने गुप्तांग को गर्मी से दूर रखना चाहिए जैसे कि अगर तारों पर लैपटॉप बहुत देर तक करते हैं तो गर्मी की वजह से उनके शुक्राणु पर असर पड़ सकता है। पीरियड के बाद भी अगर आप संबंध बनाते हैं तो यह भी बहुत अच्छा होता है लेकिन आपको सही समय का जानकारी होना बहुत जरूरी होता है जैसे अगर पीरियड 5 से 7 दिन तक चलते हैं तो उसके तुरंत बाद संबंध बनाते हो तो प्रेग्नेंट होने की संभावना ज्यादा होती है अगर पीरियड 6 दिन में बंद हो जाता है तो आपको सातवें दिन sarrikमेल करना जरूरी होता है जिसके वजह से प्रेग्नेंट होने की संभावना बढ़ जाती है। इसके 11 दिन बाद आप फिर से प्रयास कर सकते हैं क्योंकि इसके बाद ओवुलेशन पीरियड टाइम शुरू हो जाता है।
Answer: हेलो डियर , आपका अगर इन्फेक्शन सही हो गया है तो आपको किसी अच्छे गायकोलोज़ी से ऍड्वाइज लेना चाहिये कन्सिव ना कर पाने के kai कारन हो सकते है जैसे thairoyad , picos , ओव्यूलेशन का काउन्ट ना कर पाना , इंफेर्टिलिटी , ट्यूब का ब्लाक होना बहुत से कारनो से भी कन्सिव करने में प्रॉब्लम हो सकती है !
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Meri marriage ko 3 saal ho gya hai but mai conceive nhi kar rhi hu test bhi sab ho gye hai sabhi report theek hai
उत्तर: हेलो . डियर . आप बिल्कुल tenshon ना ले .. आप अगर कन्सिव करना चाहती है तों निम्न टिप्स यूज़ कर सकती है . जो आप को बेबी कन्सिव करने मे मददगार हो सकते है .... *आप टेंशन फ्री रहe। *आप अपनी diet का पूरा ख्याल रखे।ना कम खाए और न ही जयदा खaये। *रेगुलर एक्सरसाइज करे और एक्टिव रहe। *शादी क तुरंत बाद ही गर्भ thaharne के पूरी चान्सेस होती है। *हर २ दिनों क अंदर सेक्स करे esse सीरम की संख्या बढ़ती है। *सेक्स करने क बाद आप पीठ क बाल ही १५ से २० min.तक leti रहe.. *सेक्स करने क तुरंत बाद ही योनि को न dhoye.. *आप क पेरियड़ होने के १२ से १६ दिनों क पहले से सेक्स करे..es समय गर्भ ठर्ने क चान्सेस जयादा होते है।ओके ऑल द बेस्ट डियर
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैडम मेरी शादी को 1साल हो गया है फिर भी में कंसीव नहीं कर पा रही हूं
उत्तर: हेलो डीयर डोंट वरि 1 साल का समय बहुत नही होता है। आप अपने ओवुलेशन टाईम को मार्क करिये और उन दिनो मे रिलेशन बनाईए कंसीव करने के चांस ज्यादा होते हैं उन दिनो में।अगर पीरियड नियमित है तो ओवुलेशन डेज़ पीरियड के 12 दिन बाद होते हैं लेकिन पीरियड नियमित नही है तो ओवुलेशन डेज़ आगे पीछे हो सकते हैं। ओवुलेशन डेज़ को समझने के लिये नेचुरल तरीके भी है। ओवुलेशन डेज़ में पेड़ू में दर्द होता है और योनि से सफेद गाढ़ा पदार्थ निकलता रहता है। शरीर का तापमान बढ़ जाता है। इसके अलावा आप डाइट मे फोलिक ऐसिड लेना शुरु करिये फोलिक ऐसिड एक प्रकार का विटामिन बी ( बी9 ) है जो प्रजनन प्रणाली एग का प्रोदुक्तीअन को बढ़ाकर जल्दी गर्भ धारण मे मदद करता है। ये खून की कमी और थकान को भी दूर करता है इसीलिये प्रेग्नेंसी मे भी डॉक्टर ये खाने को बोलती हैं।फोलिक ऐसिड हरी सब्जियों जैसे पालक, मूली के पत्ते, शलजम, ब्रोकली फल जैसे अंगूर, संतरा आदि, साबुत आनाज, अण्डे और अंकुरित आनाज मे पाया जाता है. अगर आपको फिर भी कंसीव करने मे प्रॉब्लम आये तो किसी अच्छी गायनी से मिलें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hy mam mera 8th mnth ryning main hai jo ki 15 nov main complete ho jayega mujhe kl se tiolet krte time bahut pet main khichaab sa hai or fr main chl bhi nhi paa rhai baithti ya soti hu too theek ho jaata hai or jb chlti hu to chl bhi nhi paa rahi plz mam mujhe batao main kya kru?
उत्तर: .hello dear ..जी हाँ इस टाइप के दर्द ya khichav होना प्रेग्नेन्सी मे नॉर्मल होता है .. आप घबराये नही ...गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है..इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।...jiske karan aap ko pet k aas pass k jagah mei dard ya sujan ki samasya ho sakti hai. इसको थोड़ा कम करने के लिए आप आप जब भि करवट ले तों अपने दोनों पैरों के बीच मे पिल्लो लगायें .. ऑर कमर के पीछे भि एक पिल्लो लाग ले .. झटकें से उठना बैठना नही . आइस को कॉटन के कपड़े मे लेकर हलके हाथों से अपनी योनि के ऊपर रखें .. आप को bahut आराम लगेगा . ओके टेक केयर .. डियर
»सभी उत्तरों को पढ़ें