10 weeks pregnant mother

Question: mam meri kamer m bohat jada dard hota h m so bhi nhi pati kuch upay bataye

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय में कमर दर्द होना यूट्रेस के बढ़ जाने की वजह से होता हैं कमर दर्द होने पर आपको कुछ इस तरह से घरेलू तरीके से ठीक किया जा सकता है आप सरसो के तेल में अजवाइन , लहसुन डालकर पका दे जब लहसुन अच्छी तरह से पक जाए तब आप उस तेल से अपने कमर की मॉलिश करे आपको फायदा होगा , कमर दर्द में आप गरम पानी से सिकाई भी कर सकती है , कोई भी चीज को उठाने के लिए कमर के बल से ना झुके बल्कि अपना घुटना मोड़ कर ही झुके , ज्यादा देर तक कुर्सी पर ना बैठे थोड़ी देर लेट भी जाये , कोई काम ज्यादा देर तक एक ही पोजीशन में होकर ना करे ।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe so ke uthne k bad vagina m dard hota ,me chal bhi mhi pati plz koi upay bataye
उत्तर: Dear pregency me aisa hota hai jaise jaise baby ka growth hona waise he ye pain badhega bachadani badhne ki wajah se to aap tension na le jada problem lag raha to doc se dikha lijiye , waise ye प्रॉब्लम mujhe v hai baithne uthne khare hone jada time tk to mujhe v pain hone lagta hai bahut jo normal hai .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam meri kamer m bhut dard hota hai or pero m bhi to kya krna chahiye
उत्तर: कमर दर्द कम करने के लिए आप कुछ उपाय अपना सकते हैं जैसे kamar और पीठ के व्यायाम कर सकती हैं आप सरसों के तेल की मालिश भी करवा सकते हैं, मालिश करने से मांसपेशियों का आराम मिलता है सही मुद्रा अगर आपकी आदत सही मुद्रा में बैठने की नहीं है तो भी आप kamar दर्द के शिकार हो सकते हैं गर्म स्नान दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं उचित जूते या सैंडल पहने कम ऊंचे और आरामदायक जूते पहने फिर भी आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं प्रेगनेंसी में पैरों में दर्द होने का एक कारण हो सकता है कैल्शियम की कमी कुछ घरेलू उपचार के साथ आप अपने पैरों के दर्द को ठीक कर सकते हैं हल्का चलना-फिरना आपके और आपके होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन होगा सुबह शाम थोड़ा थोड़ा वॉक करें वॉक अप उतना ही करें जिसमें जिसमें आपको थकान महसूस ना हो गर्म पानी में आप थोड़ी देर अपने पैर डालें उस गर्म पानी में पहले थोड़ा सा नमक डालें फिर उस पानी से अपने पैरों की सिकाई करें अपने खाने-पीने का भी ध्यान रखें ,कैल्शियम रिच डाइट लें दूध दही पनीर यह सब अपने आहार में लें.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: m am meri kamer m bhut dard hota h
उत्तर: महिला के अंदर हर समय हो रहे हार्मोन में बदलाव भी दर्द का कारण बनते हैं। पेट का भार लगातार नीचे की ओर होता है। इसलिए इस समय मांसपेशियों का पर दबाव ज्‍यादा होता है तभी गर्भवती महिला को अपना पोस्‍चर हमेशा बनाएं रखना चाहिये। टहलना, सीधे बैठना, पैरा खीचना और नीचे की ओर न झुकना आपकी कमर पर बिल्‍कुल भी दबाव नहीं डालेगें। दर्द को अगर कम करना है तो रात को सोते समय पीठ के बजाय करवट लेकर ही सोएं। कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं। अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं। इस समय हल्‍के तथा ढीले-ढाले कपड़े पहनने चाहिये। टाइट कपड़े पहनने से शरीर में खून का दौरा कम होने लगता है और इसी कारण मांसपेशियां दर्द होने लगती हैं। इसलिए सूती के आरामदायक कपड़े ही पहनने चाहिये। इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें