26 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hlo mam meri kamar me bahut dard hai kya kru

2 Answers
सवाल
Answer: हेलों आपको कमर में दर्द हो रहा है आप 26 वीक प्रेगनेंट है प्रेग्न्सी में होर्मोन चेंजेज और माँ और बच्चे के बढ़ते वेट के कारण गर्भाशय पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आसपास के अंग पर भी प्रेशर पड़ता है जैसे कमर पीठ पैर हाथ पेट etc प्रेग्नेन्सी में back में दर्द होना तो समान्य है आप कोई ओइनमेन्त क्रीम जैसे मूव फ़ास्ट रिलीफ लगा सकती है आपको राहत मिलेगी इसके लिए आप प्रॉपर सपोर्ट लें के बैठे lलंबे टाइम के लिए ना बैठे l रेस्ट करे , धीरे धीरे हलकी हलकी एक्सर्साइज करे l कमर और पैरों मे सरसों के ऑयल से हलकी मालिश भी लें सकती है आपको आराम मिलेगाl आराम करे lआप गरम पानी की बॉटल से सीकाइ भी कर सकती है आपको आराम मिलेगा सोते समय सपोर्ट ले के सोएं और तकिया ना लगायें एक ही postion में ना सोएं करवट बदलते रहे कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता hai.हेवी saaman ना उठा ये हलकी हलकी एक्सर्साइज करे जिसके कारण आपको बैक पेन में राहत मिलेगी सूर्य के प्रकाश में20 से 25 मिनट बैठे सन रेज से मिलने वाले विटामिन डी आपके बैक पेन और बच्चे के विकास में हेल्पफूल है पानी भरपूर पीये स्ट्रेस ना ले
Answer: हेलो डियर 26 week की प्रेग्नंसी में कमर दर्द होना नॉर्मल है इसलिए आप परेशान मत हो ।जैसे-जैसे गर्भावस्था में आपका गर्भ बढ़ता है और बच्चे का आकार बढ़ता है ।वैसे-वैसे नसों में खिंचाव पैदा होने लगता है जिसकी वजह से कमर में दर्द होने लगता है ।यह हारमोनल परिवर्तन के कारण भी होता है। कमर दर्द को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं ज्यादा देर तक एक ही स्थिति में ना बैठे । संतुलित और पौष्टिक भोजन लीजिए । ज्यादातर देर तक एक ही अवस्था में ना लेटे थोड़ी थोड़ी देर पर करवट बदलते रहे। कमर दर्द दूर करने के लिए आप कुछ एक्सरसाइज और योगा भी कर सकती हैं। कमर दर्द को दूर करने के लिए आप अपने कमर की मालिश सरसों के तेल से कीजिए।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hlo mam mere kamar me bahut dard rahta एच mai kya kru
उत्तर: हेलो डियर कमर मे दरद होना तो सभी गभवती स्त्रियो के लिए सामान्य सी बात हैक्योकि इसी समय मे मासपेसियो मे बहोत खिचावहोता है और हमारे शरीर का हामोनस भी बदलता हैइसके राहत के लिए आप घूटनो मे तकिया लगाकर सोए व्यायाम करे।मगर ध्यान रखे कि जादा व्यायाम नही करे । कमर की हल्के हाथो से मालिस करेएक ही स्थित मे जादा देर रहने से बचे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hlo mam ,,, Meri kamar mein dard hoti reheti hai . Kya kru
उत्तर: हेलो डियर कमर मे दरद होना तो सभी गभवती स्त्रियो के लिए सामान्य सी बात है क्योकि इसी समय मे मासपेसियो मे बहोत खिचाव होता है और हमारे शरीर का हामोनस भी बदलता है इसके राहत के लिए आप घूटनो मे तकिया लगाकर सोए व्यायाम करेमगर ध्यान रखे कि जादा व्यायाम नही करे । कमर की हल्के हाथो से मालिस करे। एक ही स्थित मे जादा देर रहने से बचे एवं डाक्टर की सलाह ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hlo mam meri kamar m bhut dard ho rha h kya kru plz help me
उत्तर: हेलो प्रेग्न्सी में होर्मोन चेंजेज और माँ और बच्चे के बढ़ते वेट के कारण गर्भाशय पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आसपास के अंग पर भी प्रेशर पड़ता है जैसे कमर पीठ पैर हाथ पेट etc प्रेग्नेन्सी में back में दर्द होना तो समान्य है इसके लिए आप प्रॉपर सपोर्ट लें के बैठे lलंबे टाइम के लिए ना बैठे l रेस्ट करे , धीरे धीरे हलकी हलकी एक्सर्साइज करे l कमर और पैरों मे सरसों के ऑयल से हलकी मालिश भी लें सकती है आपको आराम मिलेगाl आराम करे lआप गरम पानी की बॉटल से सीकाइ भी कर सकती है आपको आराम मिलेगा सोते समय सपोर्ट ले के सोएं और तकिया ना लगायें एक ही postion में ना सोएं करवट बदलते रहे कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं हेवी saaman ना उठा ये हलकी हलकी एक्सर्साइज करे जिसके कारण आपको बैक पेन में राहत मिलेगी सूर्य के प्रकाश में 20 से 25 मिनट बैठे सन रेज से मिलने वाले विटामिन डी आपके बैक पेन और बच्चे के विकास में हेल्पफूल है पानी भरपूर पीये स्ट्रेस ना ले.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: muze bahut kamar dard hai kya kru
उत्तर: कमर मे दरद होना तो सभी गभवती स्त्रियो के लिए सामान्य सी बात है क्योकि इसी समय मे मासपेसियो मे बहोत खिचाव होता है और हमारे शरीर का हामोनस भी बदलता है इसके राहत के लिए आप घूटनो मे तकिया लगाकर सोए व्यायाम करे। मगर ध्यान रखे कि जादा व्यायाम नही करे । कमर की हल्के हाथो से मालिस करे। एक ही स्थित मे जादा देर रहने से बचे एवं डाक्टर की सलाह ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें