14 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mam mere hath pair me bhot jhinjhini chdta h esa q ho rha h pls riply

1 Answers
सवाल
Answer: hello dear, प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले हार्मोन चेंज और बच्चे के बढ़ते पेट के कारण इस तरह झनझनाहट होती है इसलिए आप अपने body posture का ध्यान रखें खास करके अपने लोअर बॉडी पोस्टर का ध्यान रखें| ज्यादा देर खड़े ना रहे,जहां भी बैठे ध्यान से बैठे ,एक ही पोजीशन पर काफी देर तक नहीं बैठना है| एक ही पोजीशन पर काफी देर तक खड़े बैठे रहने से भी स्वेलिंग आती हैl daily थोड़ी देर मेडिटेशन, वॉक करना करना bi हेल्पफुल होता है| जब भी आप सोने जाए सोने से पहले गरम पानी में सेंधा नमक डालकर अपने पैरों को 15 से 20 मिनट उस पानी में रखिए इससे आपके पैरों को काफी आराम मिलेगाl जब भी आपके पैरों में खिंचाव है या तनाव या झनझनाहट महसूस हो आप उठ कर के कुछ देर एड़ियों के बल चलेl
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hi mam mere right said pair me bhot drd ho rha ak hpte se esa q ho rha h pls bto mai kya kru riplyy fhsttt
उत्तर: प्रेग्नेन्सी में ऐसा होता ही ....मुझे भी राइट पैर में बहुत दर्द होता था ...आप सोने से पहले सरसों या कोकोनट ऑयल से पैरों की मालिश करे ...आपको रिलेक्स फिल होगा ..और डे में भी मालिश करे ...सरसों के ऑयल के अलवा और लहसुन का ऑयल भी उसे कर सकती ही ...
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere right pair or right hath me bhot swelling hi aisa q h plzz bataye
उत्तर: प्रेगनेंसी में सबसे ज्यादा सूजन पैर और पेंडुली में आ जाती है। दरअसल, प्रेगनेंसी में शरीर का ऊपरी हिस्सा भारी हो जाता है और पूरा भार पैरों पर पड़ता है, जिससे उनमें सूजन आ जाती है। प्रेग्नन्सी में लेडी का शरीर लगभग 50% ज्यादा खून का बनाता है। साथ ही इतनी ही मात्रा में लिक्विड्स भी बनाता है। दरअसल, पेट में बच्चे को भी मां के ही शरीर से पोषण मिलता है जिसकी वजह से मां का शरीर ज्यादा मात्रा में खून और फ्लूइड बनाता है। पैरो में अगर सुजन है या किसी प्रकार का दर्द है तो आप गरम पानी की सिकाई करे।ठोड़ा आयल मसाज भी करे। पैरो को थोड़ा तकिया का सहारा देकर उप्पेर रखे। पानी खूब पियें । ध्यान रखे की जयाद खड़े होकर काम नहीं करे। तोड़ा आराम करे। take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hello mam mere back Mai bhut pain ho rha h esa q ho rha h
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान अक्सर डाक में पेन होना शुरू हो जाता है पेट के अंदर की नसें खींचती है इस वजह से बैक पर भी असर पड़ता है आप हॉट वॉटर बॉटल से सिकाई कीजिए गर्म हल्दी से हल्के हाथ से मसाज कराइए हमेशा बात के पीछे तकिया लगाकर बैठिए आपको आराम मिलेगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें