10 weeks pregnant mother

Question: mam mere dono chest me bahut darad rahta hai

सवाल
Answer: हेलो डिअर, प्रेगनेंसी में शरीर में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन का स्तर बढ़ जाता है। जिस वजह आपके स्‍तनों में में बदलाव नज़र आते हैं। ऐसा होना नार्मल है ऐसे में स्तनों में दर्द और सूजन भी होने लगता है स्‍तनों का दर्द कम करने के लिए हल्‍के गर्म और ठंडे पैक का प्रयोग कीजिए। आइस पैक स्‍तनों पर रखने से राहत मिलती है और थोड़ी देर वो जगह सुन्‍न हो जाती है, जिसके कारण सूजन भी कम हो जाती है। यदि आप गर्म पैक का प्रयोग कर रहे हैं तो उससे रक्‍त का संचार बढ़ जाता है इसकी वजह से भी आपको आराम मिलेगा। लेकिन ज्‍यादा गर्म पैक का इस्‍तेमाल भी न करें। 
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mere dono hatho ki kalae m bahut dard rahta h.
उत्तर: हेलो डियर आप हो सकता है की हाथ के ऊपर सो गयी होंगी और आपके हाथों में दर्द होने लगा होगा आप अपने हाथों की कलाइ की भी तेल से मालिश करे और कपड़े से हलकी सीकाइ करे या आप मूव भी लगा सकती है और मालिश कर सकती है आपका दर्द कम हो जाएगा
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mere pet me dard bahut rahta hai plz kuch batae
उत्तर: हेलो डियर हल्का फुल्का पेट दर्द तो आपकौ पूरी प्रेग्नंसी मे ही होगा ।जैसे-जैसे प्रेग्नन्सी बढ़ती है बेबी का वजन भी बढने लगता है और baby की ग्रोव्थ के बढ़ने के साथ-साथ उतरुस में मांसपेशियों में खिंचाव पैदा होने लगता है जिसकी वजह से पेट दर्द जैसी प्रॉब्लम होने लगती है ।कभी कभी पेट दर्द गैस या कब्ज की वजह से भी होता है। पेट दर्द को दूर करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकती हैं- आप लगातार एक ही स्थिति में खड़ी ना रहे ,ना ज्यादा देर तक कहीं पर बैठे ।संतुलित और पौष्टिक भोजन ही करें । ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिए । तनाव मुक्त रहें । जमीन पर पैरों को मोड़ कर ना बैठे । एक ही स्थिति में ज्यादा देर तक ना सोए। और अगर आपको ज्यादा पेट दर्द हो रहा है तो आप तुरंत ही अपने डॉक्टर से मिलें ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Mere pith aur dono sides ko bahot dard rahta hai, sone me bahot dikkat hoti hai
उत्तर: Hello Dear! गर्भावस्था के दौरान कई बार कमर दर्द की मुख्य वजह शरीर में कैल्शियम, प्रोटीन और तमाम पौष्टिक तत्वों की कमी भी हो सकता है। पीठ दर्द गर्भवती महिलाओं में एक आम समस्या होती है अतः इसे कम करने के कुछ उपाय है। विशेष तकिया: अपने पेट के नीचे पच्चर के आकार का तकिया लगाकर करवट लेकर लेटने से दर्द कम करने में मदद मिलती है। ताप और पानी: एक गर्म स्नान, एक गर्म पैक या फिर शावर से गर्म पानी का तेज प्रवाह, ये सभी दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं। सहारा देने वाली पट्टी: ये पट्टी पेट की मांसपेशियों और पीठ पर पड़ने वाले आपके शिशु के कुछ वजन को अपने ऊपर ले लेती हैं। अपने लिए सही नाप की पट्टी के बारे में डॉक्टर से पूछें। उचित जूते या सैंडल पहनें: उचित सहारा देने वाले कम ऊंचे और आरामदायक जूते या सैंडल, आपकी पीठ के लिए हितकर हो सकते हैं। ऊंची ऐड़ी के सैंडल या जूते आपकी कमर के निचले हिस्से पर बहुत ज्यादा दबाव डालते हैं। इसकी वजह से वजन बढ़ने पर आपको पीठ दर्द शुरु हो सकता है। आपके शरीर में होने वाले परिवर्तन के कारण आपका गुरुत्वाकर्षण केंद्र भी बदलता है। इसलिए आपको ऊंची ऐड़ी के जूतों में सही तरह से संतुलन बनाने में मुश्किल हो सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें