3 महीने का बच्चा

Question: Mam , mera beby 3 month ka ho chuka bt fir bhi ye qustion puchna tha ki dudh pilane k bad kbhi kbhi dakar nhi aati to,plz bataiye ki dakar kaise dilaye qkim use sote vkt dudh pine ki aadt hai ,so plz mam suggest a solution.

1 Answers
सवाल
Answer: after feeding aap usko apne kndhe se lgakre thodi der tehl le..or hlke hlke ouski back pr hath feriye..deffinatly vo dhkar le lega
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe 5 th mnth start hua h aj se mujhe hichki aati h kbhi kbhi phle nhi aati thi itni kbhi .. bs ye puchna h ki vo hichki bcchha le rha h ya mujhe hi aati h .. or agr meri h to bchhe ki hichki ka kaise pta chlta एच plz ans
उत्तर: hello dear apko baby ke liye badhai, main apko batana chahungi ki pregnancy main hichki aa jati hai app tension na le zada tikha khana avoid kare, ma'am jab bacha hichki lega to apko continously pet main halka jhatka feel hoga kuch minutes ke liye..aur jab apko hichki ayegi to wo apko naturally pata chal jayegi..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hello mam mera baby farmula milk hi pjta hai suruwat se kyu ki muze bilkul hi dudh nahi tha to mere baby ko iran kaise milega plz bataiye.....
उत्तर: हेलो। फार्मूला मिल्क उन्हीं मिल्क से बनता है जिसे हम उपयोग करते है। कोई भी दूध को सुखाकर उसके प्रोटीन को पाउडर फॉर्म में लाना और उसे ब्रेस्ट मिल्क के जैसा बनाना ही फार्मूला मिल्क होता है। फॉर्मूला मिल्क में भी लगभग वह सारे पोषक तत्व होते हैं जो मां के दूध में होता है। इसे दूध पाउडर भी कहते हैं ।यह तीन प्रकार के होते हैं। पहला गाय के दूध से बना हुआ फार्मूला मिल्क इसमें गाय के दूध के प्रोटीन को सुखाकर पाउडर के फॉर्म पर लाया जाता है और ब्रेस्ट के दूध जैसा बनाते हैं दूसरा है सोया बेस्ट फार्मूला मिल्क। जिन बच्चों को गाय के दूध के लैक्टोज से एलर्जी होती है उनके लिए सोया मिल्क का फार्मूला में अच्छा रहता है तीसरा फार्मूला मिल्क है हाइड्रोलाइज्ड फॉर्मूला मिल्क जो बच्चे गाय या सोया बेस्ट फार्मूला मिल्क को डाइजेस्ट नहीं कर पाते उन बच्चों को यह फार्मूला मिल्क दिया जाता है। आप इसे माँ के दूध के जैसे ही हर 2 घंटे में पिला सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mujhe ye puchna tha ki sakar ka dhudh pine se beby ko koi skin se riletiv ya kisi bhi tarah ki koi probelam to nhi hogi kabaj to sakar ke dudh se tik h
उत्तर: केसर के दूध के बारे में अभी तक यह जानकारी तो किसी को नहीं हुई है के बच्चे को इससे constipation की प्रॉब्लम हो जाए हां गर्भावस्था के दौरान केसर का मिल्क लेना तो चाहिए लेकिन बहुत ही संतुलित मात्रा में इससे गर्भावस्था में होने वाली घबराहट कम हो जाती है केसर का दूध पीने से बच्चे का रंग साफ होता है इससे ब्लड प्रेशर भी संतुलित रहता है जिससे आंखों के लिए फायदा होता है आपकी नजर कभी भी कमजोर नहीं होगी डाइजेशन को मजबूत बनाते हैं नार्मल डिलीवरी के चांस बढ़ जाते हैं ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है और मसल्स भी स्ट्रांग रेट बनती है लेकिन इसको संतुलित मात्रा में ही लेना चाहिए यह ध्यान रखने वाली बात है इसका अधिक सेवन करने से गर्भवती महिला और उसके बच्चे को नुकसान भी हो सकता है प्रेगनेंसी के टाइम पर केसर वाला दूध पांचवे महीने से ही लेना चाहिए एक गिलास में केसर के चार रेशे ही काफी 1 दिन में
»सभी उत्तरों को पढ़ें