16 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mam mera 4th month chal rha h to kya me gud kha skti hun

1 Answers
सवाल
Answer: हेलों हा आप गुड खा सकती है लेकिन इसका सेवन सिमित मात्रा में करे .आयरन, कैल्शियम और फॉस्‍फोरस जैसे गुणों से भरपूर गुड़ खाने से खून की कमी दूर होती है, पाचन संबंधी समस्‍या को ठीक होती है और हड्डियों को मजबूती मिलती है। प्रेगनेंसी में आयरन की कमी को पूरा करता है इसलिए इससे बच्चे का वजन और सेहत अच्छी बनी रहती है।गुड़ में मौजूद फोलेट के कारण इससे भ्रूण का भी सही विकास होता है। गुड खाने से खून साफ होता है गुड़ में सोडियम की मात्रा कम होने के कारण यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में रखता हैlगुड में मौजूद मिनरल और पोटैशियम शरीर में पानी की कमी नहीं होने देते है। पोटैशियम के कारण शरीर में इलेक्ट्रोलाइट संतुलित मात्रा में बना रहता है। जिससे प्रेगनेंसी के दौरान हुई सूजन और दर्द को कम करने में मदद मिलती है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मेरा 4th month chal rha h kya gud kha skti hu
उत्तर: हैलो डियर- जी नहीं अभी आपको गुड नहीं खाना चाहिए गर्भवती स्त्रियों को 7 महीने से गुड़ खाना शुरू कर देना चाहिए। गुड एंटीऑक्सीडेंट का भंडार है इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनाता है गुड़ के सेवन से गर्भावस्था में होने वाले जोड़ों के दर्द से आराम मिलता है।क्योंकी गुड़ आयरन की कमी को पूरा करता है इसलिए इससे बच्चे की वजन और सेहत अच्छी बानी रहती है। इसे रोज़ अपने खाने के साथ में लेने से गर्भवती स्त्रियों के दूध की अशुद्धियाँ कम हो जाती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera 3rd month chal rha h to kya m egg kha skti hun ya nhi
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अपने खान-पान का विशेष तौर पर ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि, आपके उचित आहार पर ही आपके बच्चे का विकास निर्भर करता है। लेकिन, यह भी सच है कि इन दिनों महिलाएं बिना सोचे-समझे या डॉक्टर की सलाह लिए किसी भी चीज़ को खुद से खाने की कोशिश न करें। क्योंकि, कुछ आहार आपके भ्रूण पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं।ह बिल्कुल सच है कि अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो, भ्रूण के विकास में सहायक माना जाता है। इतना है नहीं, विकसित हो रहे हर भ्रूण की कोशिका प्रोटीन से बना होता है। ऐसे में, एक उचित मात्रा में अंडे का सेवन करना गर्भवती महिला के लिए अच्छा माना जाता है। कैलोरी की मात्रा अंडे में कैलोरी की इतनी अधिक मात्रा पाई जाती है कि यह गर्भवती महिला के लिए फायदेमंद होता है। क्योंकि, इस समय महिला को कम से कम 150 सी 250 कैलोरी की जरूरत होती है। और अगर देखा जाए तो अंडे में करीब 60 से 75 के आसपास कैलोरी होती है, जो कि गर्भवती महिला के लिए अच्छा माना जाता है। ओमेगा -3 फैटी एसिड अंडे में न केवल प्रोटीन की मात्रा मौजूद होती है बल्कि इसमें ओमेगा -3 फैटी एसिड भी होता है जो शिशु के सम्पूर्ण विकास के साथ-साथ उसके दिमाग को भी विकसित करता है। यह आपके शिशु को न्यूरल ट्यूब दोष की समस्या को रोकने में मदद करता है।  
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera six month chal rha h kya mai gud kha skti hu
उत्तर: hello प्रेग्नेंसीमें पहले तिमाही में गुड नहीं खाना चाहिए लेकिन सातवें महीने से गुड़ खाना शुरू कर देना चाहिए। गुड में कैल्शियम होता और आयरन होता है जो हड्डियों को मजबूत करता है गुड में फ्री रेडिकल्स होते हैं जो रेड ब्लड कॉरपसल्स बनाने में सहायक होता है और खून की कमी को पूरा करता है इसको खाने से इम्युनिटी पावर स्ट्रांग होती है और घुटने तथा जोड़ों के दर्द को ठीक करता है इसमें मौजूद मिनरल्स और पोटेशियम शरीर में पानी की कमी को दूर करने में मददगार होता है और सूजन कम करता है। लेकिन गुड़ की तासीर गर्म होती है और इसे एकदम कम मात्रा में खानी चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मेरा 4tह मंथ chal रहा h प्रेग्नेंसी का ...क्या एम अरबी kha सकती हूँ
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान आप अरबी की सब्जी खा सकती हैं इसमे फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिससे कब्ज की प्रॉब्लम नहीं होती है लेकिन आप इसका सेवन उचित मात्रा में ही करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें