गर्भावस्था की तैयारी

Question: mam mari marrige ko 2year ho gye h lakin abhi tak concive nhi hua h docter se conselt kiya unhonhe kha egg ban rahe h par size 9or14 mm se jada nhi ho rha iske liye main kya karu jisse ki mera egg size bad ja ye or main concive kar saku plz mam mujhe btaye

2 Answers
सवाल
Answer: ओवुलेशन महीने का वो समय होता है (12 से 24 घंटे) जब अंडे वीर्य या स्पर्म के साथ मिलने को तैयार होता है ।इसमें अंडे अन्डकोशों से ऋतुचक्र के समय निकलते हैं। इस ऋतुचक्र को समझने से ही आप समझ पाएंगे की ओवुलेशन कब होगा। हर महीने एक महिला के अंडकोष से 15 से 20 अंडे निकलते हैं। ये अंडे फैलोपियन ट्यूब से होते हुए गर्भाशय तक पहुँचते हैं।महिला के शरीर के नीचे तकिया डालकर नितंब को ऊपर उठाएं। यह पोजिशन भी काफी फायदेमंद हो सकती है क्योंकि इस स्थिति में पुरुष द्वारा जितना सीमेन रिलीज होगा, वह फीमेल सर्विक्स तक आसानी से पहुंच जाएगा और वहां से अंडाणुओं के संपर्क में आएगा।प्रेगनेंट होने के लिए जिस पोजिशन को बेस्ट माना गया है, वह है मिशनरी पोजिशन। इस पोजिशन में संभोग के दौरान पुरुष ऊपर होता है और महिला नीचे। इस पोजिशन का फायदा यह होता है कि पीनिस का काफी अंदर तक प्रवेश संभव हो पाता है और स्पर्म गर्भाश्य तक जाने वाले टिशू ग्रीवा या सर्विक्स के काफी करीब में जमा हो जाता है। 
Answer: हेलो डिअर , आप अगर एग साइज की वजह से प्रेग्नेंट नही हो पा रही है तो आप ऐसे में कुछ घरेलू तरीके से एग का साइज बड़ा कर सकती है आप इसके लिए दो गिलास पानी उबाले फिर इसमे एक चम्मच सौफ , 4 से 5 इलायची छोटी वाली , एक बड़ा चम्मच सफेद पोदीना डाले इसको उबाल लें जब 11/2ग्लास पानी राह जाए तो इसे छान कर रोज सुबह , दोपहर , शाम को एक कप पिये रोज पिये आप कुछ दिनों बाद अपनी अल्ट्रा साउंड में चेक करवा कर पता कर ले आपका एग साइज पहले की अपेझा बढ़ जाएगी आप इसको ट्राय करके देखे
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mera periad 24oct ko aaya to plz mujhe batay ki main kub sex karu jisse main concive kar saku Main bahut din se try kr rahi hun but concive hi nhi ho raha plz help me
उत्तर: आवुलेशन पीरियड को गर्भधारण के लिहाज से सबसे अच्‍छा माना जाता है। पीरियड शुरू होने के 12वें से 16वें दिन यह क्रिया होती है।यदि आप एक दिन या अंडाशय (अंडाशय से अंडे मुक्त करना) के भीतर यौन संबंध रखते हैं तो आपको गर्भवती होने की संभावना है। यह आमतौर पर आपकी पिछली अवधि के पहले दिन के लगभग 14 दिन बाद होता है, यदि आपका चक्र लगभग 28 दिन लंबा है। जारी होने के बाद लगभग 12-24 घंटे तक अंडा रहता है।आप जब भी इंटरकोर्स करती हैं अपने कमर के नीचे एक तकिया रखें और साथ ही आप 10 se 15 मिनट तक वहीं पर लेटी रहे .उठी नहीं और बाथरूम भी ना जाए.
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hi mam meri marrige ko 8 years ho gy h abhi 16 ko laproscopy krvai h all test is normal dr ne bola k eggs jyada ban rahe h but foot nhi rahe kya करु
उत्तर: आपको एग बन रहा है परफेक्ट नहीं रहे हो सकता है आपको पीसीओएस पीसीओडी की प्रॉब्लम हो पीसीओएस महिलाओं में यह समस्या होना बहुत कॉमन बात हो गई है बहुत बड़ी बीमारी नहीं है जिससे आप कंसीव नहीं कर पाए इसका इलाज है पीसीओएस को पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम कहते हैं जिसमें महिलाओं में में हार्मोन असंतुलन हो जाता है जिसमें मेल हारमोंस एंड रोगन का स्तर महिलाओं में बढ़ जाता है हो सकता है इस समस्या के कारण आप के अंडे बनते रह पर सूट नहीं रहा है जिसके कारण आप का ऑपरेशन नहीं हो पा रहा है जिसके कारण आप कंसीव नहीं कर पा रही है आप एक बार अपने डॉक्टर से मिले और इसकी जांच करवाएं कहीं आपको पीसीओएस पीसीओडी की प्रॉब्लम तो नहीं है आप अपने खान-पान पर ध्यान रखें अपने वजन को कंट्रोल पर रखकर गोल्ड रिंग जंक फूड बाहर की चीजें बिल्कुल अवॉइड कीजिए ग्रीन वेजिटेबल कैल्शियम प्रोटीन इन सब चीजों का अधिक सेवन करें चाय कॉफी पीने का कम यूज करें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam dr ka bolna h ki आपका , egg sahi nahi ban rahe to kya karna chahiya or main pragent ho sakti kya
उत्तर: हेलो डियर , आपका अगर एग कम बन रहा है तो ऐसे में आप अगर प्रेग्नेंट नही हो पा रही है और आपका अंडाणु कम बन रहा है तो आप अपना इस जड़ी बूटियों को अपनाकर देख ले ये बहुत ही कारगर है अंडाणु के बनने में जो इस प्रकार से है @दशमूल क्वाथ के एक चमच्च को एक गिलास में धीमी आंच में पका कर जब वह आधा रह जाय तब पी ले यह काढ़ा कुछ समय सुबह शाम लेते रहे इससे पीरिएड सही समय पर आएगा कपालभाति करे इससे भी बहुत फायदा होगा @ अगर अंडाणु कम बन रहे है तो शिव लिंगी और पुत्र जीवक के बीज का पाउडर बराबर मात्रा में मिलाकर रख ले यह पाउडर एक ग्राम सुबह शाम लेने से भी महिला प्रेग्नेंट हो जाती है!
»सभी उत्तरों को पढ़ें