5 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mam mare pet me dard hota rhta h mai kya karu

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर प्रेग्नेन्सी में हल्का फुल्का पेट में दर्द होना नॉर्मल है प्रेग्नेन्सी में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन की वजह से ऐसा होता है ।आप परेशान ना हो।कभी कभी पेट दर्द गैस और कब्ज की वाजह से भी होने लगता है इसलिए आप सन्तुलित और पौष्टिक फ़ूड खाइए ज़्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीजीए ।तनाव मुक्त रहिए।कोई भी भारी समान ना उठाये ।ज्यादा देर तक एक ही जगह पर खडे ना रहे और ना ही बैठे।रात मे एक ही करवट लेकर ना सोए।अगर ज्यादा तेज पेट मे दर्द होता है तो डॉक्टर से सलाह लीजिए।
  • avatar
    Nikita Thapa171 days ago

    thanks mam lakin mare hotho me sujan aur andar se red red ho gya h

समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mam mera 7week h mujhe pet me kamar me bohot dard hota h kya karu
उत्तर: hello dear प्रेगनेन्सी में पेट और कमर दरद नॉर्मल होता है जैसे जैसे आपके बेबी की ग्रोथ होती है और आपका वज़न बढ़ता है आपके कमर और पेट में दर्द होने लगता है कमर और पेट का दरद दूर करने के लिए आप निम्न उपाय कर सकती है ।आप सन्तलीत और पौस्तिक भोजन लीजिए।ज्यादा देर तक कही खडे और बैठें मत रहिए। एक ही पोजिशन में ज़्यादा देर तक ना सोयें। पैरो को मोड़कर ज़मीन्ं पर ना बैठे।पेट और कमर का दर्द दूर करने के लिए आपने डॉक्टर से पुछ्कर व्यायाम करे। कमर दर्द और पेट दरद होने पर थोड़े देर तक घुमे।कमर दर्द को दूर करने के लिए आप आपने कमर की सरसो के तेल से मालिश भी कर सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mere pet me marode jaisa dard h mai kya karu plz suggest me
उत्तर: Aap ajwaen Khake tha thanda doodh piyen Aram melega गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द, पीड़ा और मरोड़ होना सामान्य बात है। अगर आपकी गर्भावस्था एकदम स्वस्थ चल रही है, तो पेट दर्द आमतौर पर चिंता का कारण नहीं होते। गर्भ में शिशु के होने की वजह से आपकी मांसपेशियों, जोड़ों और नसों पर काफी दबाव पड़ता है। इससे आपको पेट के आसपास के क्षेत्र में काफी असहजता महसूस हो सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mere pet me marod jaisa dard h mai kya karu plz suggest me.
उत्तर: आपको कब्ज की समस्या हो रही है गर्भावस्था में कब्ज होने के सबसे आम कारण हैं: प्रेग्नेंसी हॉर्मोन प्रोजेस्टीरोन, जो कि पाचन तंत्र से भोजन के गुजरने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। । आप अपने आहार और जीवनशैली में कुछ बदलाव कर सकती हैं, जो कि कब्ज से राहत दे सकते हैं: हर रोज उच्च फाइबर युक्त भोजन खाएं जैसे कि सीरियल्स और दलहन (राजमा, छोले, रागी), साबुत अनाज की ब्रेड जैसे कि पूर्ण अनाज की चपाती और ताजा फल व सब्जियां। फल जैसे कि अमरूद, सब्जियां जैसे कि गाजर और फूलगोभी में उच्च मात्रा में फाइबर होता है। अगर आप पहले से कम फाइबर वाले आहार का सेवन करती रही हैं, तो धीरे-धीरे अपने आहार में फाइबर की मात्रा बढ़ाएं, ताकि आपका शरीर इस बदलाव के लिए तैयार हो सके। अचानक से उच्च फाइबर युक्त आहार लेने से आपको शायद पेट में मरोड़ हो सकते हैं और आपको फुलावट महसूस हो सकती है। जब आप अधिक फाइबर वाले भोजन खाती हैं, तो यह भी महत्वपूर्ण है कि आप पर्याप्त मात्रा में तरल पदाथ लें, वरना इससे कब्ज और बढ़ सकती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें