2 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: hlo mam kon sa fruit khana chiya 1 month pregent hu or bccha ki growth ka liya kya khana chiya or kya nhi

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप प्रेग्नेन्सी में भूत से फ्रूट खा सकती है जो आपके ऑर आपके बेबी के लिए बहुत फ़यदेमन्द होंगें केला सरीफ़ा चीकू तरबुज आम सेव कीवी अमरुद सन्तरा अनार ये सभी फल आप खा सकती है मगर इनका उपयोग सिमित में करें बहुत जादा मात्रा में ना खाएँ
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Baby ke growth ka liya kya khana chiya
उत्तर: hello डियर,,, प्रेग्नेन्सी में आपको बेबी की ग्रोथ के लिए आपको अपने खान पान का विशेष ध्यान देना होगा आप अपने खाने में आयरन कैल्शियम प्रोटीन से भर पू र चीज़ों को शामिल करें वेट बढ़ाने के लिए आप दूध और दूध से बनी चीज़ें दही पनीर छाछ इनका सेवन दिन में 3 से 4 बार करें संतुलित भोजन करना चाहिए जिसमें पोष्टिक पदार्थ शामिल हो जैसे कि दाल हरी सब्जियां बीन्स हरी पत्तेदार गाजर मूली चुकन्दर ताजे फल और उनका जूस ड्राईफ्रूट इन सब का सेवन हर 2 घंटे बाद करते रहें इस से वेट ज़रूर बढ़ेगा |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hlo mam ,,mra dusra month chl rha h me kon kon sa fruit kha skty hu
उत्तर: hlw mam aap saare fruits kha skti hi..bs papaya or pineapple ni khayiyega...or koi v chiz limit me ..qki pregnancy me khanshi bahut jldi hoti hi..kosis ye v rkhe ki koi v fruit khali pet na le
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: hi mam pregent hona ka liya sex ka kitni der bad toielt jana chiya
उत्तर: aap koshish kre pehle hi fresh ho jaye sex k kaafi dair tak toilet ni jaana chahiye tabhi aap pregnent ho paogy
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Doctor sa kahakara kara sati hu kya mam my baby ki growth janaka liya batao
उत्तर: हेलो डियर ... डॉक्टर के द्वारा अल्ट्रासाउन्ड किया जaता है . उसे बच्चे की सही सही पुरी जानकारी मिल जाती है . जी हाँ आप डॉक्टर से सलाह करे . अगर आप अभी 30 वीक्स मि है टु हम अनुमान लाग सकते है की आपकी बेबी ग्रोथ कितनी होनी चाहिए 30 वीक मि . आप 30 हफ्ते में है.बच्चे का वजन approximately 1350 gm = 1.35 kg होता है. प्रेगनेंसी के 4th और 5th स्केन 28 से 32 weeks और 38 से 40 वर्ष के बीच में होते हैं इसे ग्रोथ स्कैन भी कहते हैं इसे स्कैन में बच्चे के खोपड़ी का डायमीटर लिया जाता है. सिर की परिधि. peit की परिधि और लंबाई को मेजरमेंट किया जाता है. जिसके आधार पर डॉक्टर बच्चे की ग्रोथ रिपोर्टिंग बना कर देता है .जिससे हम पता कर सकते हैं कि बच्चे की ग्रोथ इस समय के हिसाब से सही हो रही है कि नहीं हो रही है और हमारी आने वाली कोई परेशानी को हम इस समय से ही देख कर समझ कर उसे सॉल्व कर सकते हैं. पेट में अगर पानी की मात्रा का पता करना हो तो इस स्थान से हम पता कर सकते हैं .अगर डिलीवरी जल्दी होने के चांसेस हैं तो उसके लिए भी डॉक्टर अभी से हमें बता सकते हैं कि हमें क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए .प्लेसेंटा अगर बच्चे के गले में लपेट गया है तो उसके लिए भी हमें डॉक्टर पहले से बता देते हैं. Doppler Scan hota hai. यह एक प्रकार की स्कैन है .जिससे आपके बच्चे के शरीर के अलग-अलग अंगों के बारे में जानकारी मिलेगी. जैसे प्लेसेंटा ,ब्रेन ,हॉट. बच्चों के शरीर में हो रहा ब्लड फ्लो भी इससे पता चलेगा. इससे यह भी पता चलेगा कि बच्चे को ऑक्सीजन और सभी पोषक तत्व बराबर से मिल रहे हैं कि नहीं. यह स्कैन नार्मल अल्ट्रासाउंड के साथ ही हो जाता है .जो ध्वनि तरंगे अल्ट्रासाउंड से निकलती है वह प्रजेंटर के जरिए बेबी के शरीर में हो रहे ब्लड फ्लो और साथ ही उसकी रक्त संचरण प्रणाली को छू कर वापस आ जाती है .isse स्क्रीन पर तस्वीर बन कर देखती है जिससे डॉक्टर को पता चलता है कि खून किस तरह flow हो रहा है .इससे आपके baby की सेहत का बेहतर अंदाज लगाया जा सकता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें