33 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mam muje aaj white discharge ke shat iching bhi ho rhi he ....koi problem h kya

1 Answers
सवाल
Answer: इचिंग हो रही है तो आप यूरिन टेस्ट करवा लीजिए क्योकी इन्फेक्शन हो सकता है or आप पानी जादा पीजीए.
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: Mam mujhe white discharge ho rha h and iching bhi bhut ho rhi h kya kru
उत्तर: hello dear ,प्रेगनेंसी में वाइट डिस्चार्ज किसी भी समय हो सकता है नॉर्मल है इसमें कोई टेंशन की बात नहीं है। इससे कोई नुकसान नही है फैयदा ही है क्योकी यह ग्रीवा में किसी भी तरह के infection को रोकता है लेकिन आपको यह ध्यान रखना है कि अगर इसमें किसी तरह की smell आती हैं या डिस्चार्ज के समय दर्द होता है तो यह इंफेक्शन हो सकता है। अगर इन्फेक्शन के लक्षण हैं तो आप ज्यादा से ज्यादा पानी पीजिए जिससे यूरिन के साथ infection के बैक्टीरिया फ्लश हो जाएं। रोज एक गिलास नींबू पानी पीये। नींबू में विटामिन सी होता है जो बैक्टीरिया को निकालने में मदद करता है। अगर इंफेक्शन से आराम नहीं मिलता है तो डॉक्टर से कंसल्ट करें। ख्याल रखें .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: muje aaj thoda white discharge hua koi problem h kya
उत्तर: अगर गर्भावस्था के दौरान सफेद पानी आ रहा होगा तो इस से डरने वाली कोई जरूरत नहीं है बल्कि गर्भावस्था के दौरान सफेद पानी का आना बहुत अच्छा बात होता है क्योंकि यह शरीर का एक नेचुरल प्रोसेस होता है जोकि आपकी योनि को साफ और इंफेक्शन से फ्री रखता है इस दौरान बहुत सारे बदलाव होते हैं उन बदलाव में से यह वाइट डिस्चार्ज आना भी एक बदलाव है यह सफेद पानी में किसी प्रकार की बैक्टीरिया नहीं होती बल्कि यहां बैक्टीरिया और इंफेक्शन को नहीं होने देता योनि में सफेद पानी यौन अवस्था से लेकर कब तक आता रहता है जब तक कि औरत प्रजनन करने में सक्षम होती है यह सफेद पानी का आना हर महीने हो सकता है लेकिन इससे कोई नुकसान नहीं होता यह सफेद पानी सर्वाइकल म्यूकस होता है जोकि गंधहीन सफेद पदार्थ है बच्चे को सुरक्षा प्रदान करती है और उसे इंफेक्शन से बचाकर भी रखता है जो गर्भाशय ग्रीवा में बनता है जिससे कि बच्चा भी इसे सुरक्षित रहता है गर्भावस्था के दौरान यह सफेद पानी का टेक्सटमी बदलते रहता है कभी-कभी गाना गुलाबी या बुरा हो सकता है इस से डरने वाली कोई बात नहीं है क्योंकि क्या एक पुरानी और मृत रक्त कोशिकाओं के कारण होता है जो कि बाहर निकलते रहता है शरीर से यहां एस्ट्रोजन की मात्रा अधिक होने के कारण होता है यह 14 से 26 सप्ताह में जब निकलता है तो कुछ गाढ़ा सफेद अंडे के भाग जैसा होता है लेकिन इसे कोई परेशानी नहीं होती लेकिन अगर इसके साथ खून आता है तो आपको डॉक्टर की सलाह की जरूरत पड़ती है 27 से 40 फीट में यह सफेद पानी कैसे निकलता रहता है उसका रंग थोड़ा पहले की अपेक्षा बदल जाता है और प्रेगनेंसी का जब लास्ट महीना आता है तब कभी-कभी थोड़ा थोड़ा खून भी आने लगता है औरत डिलीवरी के आसपास की समय में अगर यह पानी आता है तो इसका मतलब है कि बच्चा जन्म के लिए तैयार है यदि कुछ दिन या समय पहले के साथ जैसे पदार्थ निकलता हुआ महसूस हो तो आप समझ जाइए कि एमनीओटिक फ्लूइड है अगर इस पानी के निकलने से आपको गिला पन का एहसास हुआ है तो आप साफ और सूखा हल्के कॉटन के अंडरवीयर ही पहने और उन्हें समय-समय पर बदलते रहें आप पार्ट्स का भी उपयोग कर सकती हैं अगर आपको बहुत ज्यादा परेशानी हो रही है तो और पेशाब के दौरान हर बार अपनी योनि को साफ रखें
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मैम... मुझे वाइट डिस्चार्ज हो रहा h और इचिंग भी हो रही h ... प्लीज कोई सोलूशन्स बताइए
उत्तर: प्राइवेट पार्ट मे इचिंग होना प्रेगनेंसी नार्मल है वजाइना को क्लीन एंड क्लीन रखे।अगर वाइट डिस्चार्ज जो की प्रेगनेंसी मे नार्मल है,तुरंत पेंटी चेंज करें निचे के वेट नहीं रेहना देन। वजाइना ईचिंग रिलेशनशिप बनाने से भी होती है तोह आप रिलेशन बनाने से पहले और उसस्के बाद अच्छे से क्लीन और टिल करे। बार बार यूरिन आने की वजह से भी इचिंग हो सकती है तोह आप ज़्यादा से ज़्यादा वाटर इन्टेक करे। अगर बहुत इचिंग हो तोह पानी में बेकिंग सोडा डाल कर वाश करे,बकिंग सोडा फ लेवल को काम करने मे हेल्प करता है। वागिना को बिल्कुल क्लीन रखे, आप व्-वाश भी उसे कर सकते है कॉटन की पैंटी पहने और ढीले ढाले कपड़े पहने
»सभी उत्तरों को पढ़ें