33 weeks pregnant mother

Question: Mam Muje 8th month chal raha or mere pat k niche bht pain ho rahi a or bathroom v bar bar a raha a

2 Answers
सवाल
Answer: हैलो डियर-गर्भावस्था में पेट दर्द होना सामान्य है इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं अक्सर पेट के निचले हिस्से में दर्द होने का कारण गैस होता है। जो तैलीय मसालेदार चटपटा भोजन और राजमा चना खाने से गैस बनने के कारण होता है।गर्भावस्था में जब तक आपको गैस बनने की समस्या है तब तक आपको इन सब चीजों को नहीं खाना चाहिए बाद में आप फिर से खाना चालू कर सकती हैं। गैस से राहत के लिए आप कुछ घरेलू उपचार अपना सकती हैं।1 लीटर पानी में 3 या चार चम्मच सौंफ और जीरा उबाल लें इसे ठंडा होने दें और इसे दिनभर थोड़ा-थोड़ा पीती रहें इसमें आप थोड़ा शक्कर या शहद भी मिला सकती हैं। प्रेगनेंसी में बार बार बाथरूम जाना आना प्रेगनेंसी की निशानी है। प्रेगनेंट होने पर आपको बार बार युरिन आ रहा है ऐसा महसुस होता है। खासकर प्रेगनेंसी के शुरूआत और अंतिम में यह गर्भावस्था के लक्षणों मे से एक है।इसके लिये आपको परेशान नही होना चाहीय कभी कभी तो पेशाब न लग रहा होता है। फिर भी बार बार वाशरूम जाना पड़ता है।हारमोन्स में बदलावों के कारन मुत्राशय खाली होने पर भी भरा हुआ महसुस होता है। रात को नींद खराब न हो इसलिये आपको रात में कम से कम पानी पिना चाहीये ।जिससे रात को बार बार पेशाब करने बाथरूम न जाना पडे़। Take care
Answer: hello आठवें महीने में पेट की साइज बड़ी हो जाती है और ज्यादा देर तक एक ही पोजीशन में रहने से पेट पर खिंचाव पड़ता है और दर्द होने लगता है ज्यादा देर तक खड़े रहने से पेट नीचे लटकता है जिसके कारण पसलियों में और सीने में भी दर्द होता है बच्चा पूरा डेवलप हो चुका होता है जिसके कारण उसके लिए पेट में जगह कम होती है इस समय बेबी का मूवमेंट बहुत कम हो जाता है और जब वह मूवमेंट करता है तो वह शरीर के आंतरिक अंगों से टकराता है जिसके कारण ही पेट और चेस्ट में दर्द होता हैऔर कभी कभी डिस्चार्ज भी होता है।आप परेशान ना हो।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mam muje 3 month chal raha h mere kamar legs or sar bht pain ho raha h
उत्तर: महिला के अंदर हर समय हो रहे हार्मोन में बदलाव भी दर्द का कारण बनते हैं। पेट का भार लगातार नीचे की ओर होता है। इसलिए इस समय मांसपेशियों का पर दबाव ज्‍यादा होता है तभी गर्भवती महिला को अपना पोस्‍चर हमेशा बनाएं रखना चाहिये। टहलना, सीधे बैठना, पैरा खीचना और नीचे की ओर न झुकना आपकी कमर पर बिल्‍कुल भी दबाव नहीं डालेगें। दर्द को अगर कम करना है तो रात को सोते समय पीठ के बजाय करवट लेकर ही सोएं। कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं। अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं। इस समय हल्‍के तथा ढीले-ढाले कपड़े पहनने चाहिये। टाइट कपड़े पहनने से शरीर में खून का दौरा कम होने लगता है और इसी कारण मांसपेशियां दर्द होने लगती हैं। इसलिए सूती के आरामदायक कपड़े ही पहनने चाहिये। इसी के साथ हाई हील चप्‍पलें या जूते भी कमर की मांसपेशियों पर असर डालते हैं, जिस कारण दर्द होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mere 8 month chal raha h muje right side me niche pet or right leg m pain ho raha h
उत्तर: पेट मे'दारद होना बहुत आम हैं लेकिन अगर बहुत ज्यादा और लगातार दे रहा हो तोह आपको डॉक्टर्स को बताना चाहिए क्यों कि कई बार परेशानी बढ़ जाती हैं इसलिए प्रेग्नस्य मे' कुछ भी ज्यादा हो रहा हो तोह तुरंत डॉक्टर्स को बताना है जीसे जैसे उतेरुस बढ़ता हैं आपके योनि मे' खिचाव और निचले हिस्से मे' दर्द होगा गस और कब्ज भी एक कारन हो सकता है आईसे मे' बहुत पानी पीए पत मे'संकुचान जैसे दर्द हो तोह वह रक्त का प्रभु बढ़ने से होगा है इसके लिए आप गरम पानी कि बोतल से सके कर ले गस के दर्द को दूर करने के लिए आपको एक्सरसाइज करना होगा आराम करे पणी पीए बार बार लेकिन थोड़ा भोजन करे गर्भवस्था के दौरान बहुत साडी परेशानिओ से गुजरना पड़ता है उनमे से ये पैरो में दर्द प्रमुख समस्या है और ये दर्द रात में और बढ़ जाता है इस समय वजन बढ़ जाने के कारन पैरो में दर्द होता इससे आपका पुरे शरीर का वजन पैरो पर पड़ता है और पैरो में थकन होती है इस दौरान आपका गर्भाशय का आकर बढ़ जाता है जिसके कारन पैरो कि नसे डाब जाती है और वह तक ब्लड अच्छे से नहीं पहुँच पात इस दौरान आपके शरीर में मैग्नेसीउम्, पोतसीउम्, कैल्सियम कि कमी हो जाती है इससे कारन दर्द होता है दरद से रहतpane का सबसे अच्छा उपाय एक्सरसाइज है स्ट्रेचिंग करना आपको सुबह शाम लाभदायक होगा पईड़ो के दर्द से रहत paneके लिए आप रात में सोने से पहले हलके गरम पानी मी३०मिनट डूबकर रखे बहुत आराम मिलता है इस दौरान आप अपने पैरो को मोड़ कर ज्यादा देर नाबैथे
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mam mera 32 week chal raha hai aur aj mere stomach k niche aur back kamar me bht pain ho raha hai aur bar bar washroom jana pad raha hai koi problem to nhi h na
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान पेट के निचले हिस्से में दर्द होना आम बात है पेट में दर्द होना इस बात पर निर्भर करता है कि अभी आपका कौन सा मन है आप कौन सी स्थिति में है। अगर गर्भावस्था के अंतिम चरण में पेट में दर्द होता है तो इसका कारण होता है बच्चे का सर नीचे की तरफ आना तो ऐसे में आपको पेट दर्द महसूस होता है इस प्रकार का दर्द दोस्ती या इससे अधिक बार की गर्भावस्था में अधिक आम माना जाता है। लास्ट महीने में गर्भावस्था में एसिडिटी गैस की वजह से भी दर्द हो सकती है लेकिन अगर इसकी वजह से दर्द होता है तो यह दर्द पेट के निचले हिस्से तक सीमित नहीं रहता इसके वजह से कभी-कभी कमर दर्द और पैरों में दर्द भी होता है। अगर आपके पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है तो आप थोड़ी देर बैठ जाएं और अपने पैरों को आराम दें आराम करने के बाद आपके पेट में दर्द कम होना चाहिए क्योंकि गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द होना सामान्य बात होती है और या आराम करने या फिर अपना ध्यान कहीं और भटकाने से दर्द खत्म हो जाना चाहिए। अगर आपको बैठने के बावजूद भी दर्द से आराम नहीं मिलता है तो आप थोड़ी देर सो सकती हैं। और जब आप बिस्तर से उठते हैं तो हमेशा एक तरफ करवट लेकर धीरे से उठे अपनी बाहों का सहारा लेकर उठे क्योंकि इससे आपके पेट पर दबाव कम पड़ता ह। गर्भावस्था के दौरान बार बार पेशाब आने के बहुत सारे कारण होते हैं जैसे हार्मोन में परिवर्तन, यूरिन में पाया जाने वाला एचसीजी हार्मोन इस समय बहुत सक्रिय हो जाता है जिसके कारण यहां पर भी गौर वैजाइनल क्षेत्र के एरियाmuscels मे रक्त प्रभाव को बढ़ा देता है जिसकी वजह से यह ज्यादा अच्छे से काम करने लगते हैं और दूसरी वजह यह है कि किस समय बच्चे के विकास के दौरान गर्भाशय का आकार बढ़ने की वजह से वह मूत्राशय पर दबाव डालता है नॉर्मल अवस्था में मूत्राशय लगभग 500 मिली लीटर मूत्र एकत्रित करके रखता है लेकिन गर्भावस्था के दौरान या संकुचित होने के कारण ज्यादा मुंह पर एकत्र नहीं कर पाता और हमें बार बार यूरिन जाना पड़ता है गर्भावस्था के दौरान रक्त का स्तर बढ़ जाने के कारण अतिरिक्त तरल पदार्थ बनते हैं जो किडनी में एकत्रित होते हैं और हमें बार बार यूरिन लगता है इस समय आप बार बार यूरिन जाने से बचने के लिए कुछ उपाय कर सकते हैं जैसे अगर आपको चाय कॉफी पीने की बहुत ज्यादा आदत होगी तो इसे आपको छोड़ना चाहिए क्योंकि यह पदार्थ एक डाइयुरेटिक्स जैसा काम करते हैं जो अधिक मूत्र बनाने बनाने में हेल्प करते हैं जिसकी वजह से हमें बार बार यूरिन लगता है जब आप पेशाब करते हैं तो मूत्राशय को पूरी तरह से खाली करने के लिए आपको आगे की और थोड़ा झुकना चाहिए इसे urine से पूरी तरह से खाली हो जाता है इस दौरान अगर आपको बार बार यूरिन होता है तो आप पेशाब को रोक करना रखिए क्योंकि इससे पेल्विक मसल्स कमजोर हो जाते हैं अगर आपको खास नहीं आती अपने से थोड़ी मात्रा में भी यूरिया जाते हैं तो इसके लिए आप पाठ का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि इस समय गर्भावस्था में दबाव पड़ने के कारण ऐसा हो जाता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Hello, Mam.., Mera 8th month chal raha h nd muje pet me bht pain hota hai.. aese me muje kya karna chahiye..?
उत्तर: doc se btt kro becoz mujy bhi asa hi rha tha pain.chckup k bdd pta chla ki bcchydani mai paani km h jisky wjh se pet m drd ho ra tha
»सभी उत्तरों को पढ़ें