14 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: maine double markar test करवाया low risk aai hai aage test karvana chahiye ya low risk mai जरुरत nhi hai

0 Answers
सवाल
अभी तक इस सवाल का कोई जवाब नहीं है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: ही dr. मेरा डबल marकेr टेस्ट लो रिस्क m आया है क्या मुझे निपट करवाना चाहिए ??और क्या लो रिस्क बेबी ke लिए हार्मफुल है ??प्लीज सजेस्ट में
उत्तर: अगर आपकी डबल मार्कर टेस्ट में लो रिस्क आया है तो ऐसे में डॉक्टर ने अगर आपको एन आई पी टी टेस्ट कराने के लिए बोला है तो आप जरूर करा लीजिए इससे आपके बच्चे का विकास सही तरीके से हो रहा है या नहीं या पता चल जाएगा और अगर बच्चे को किसी तरीके की प्रॉब्लम होती है तो भी पहले से पता चल जाता है जिससे उसके हिसाब से उसका ट्रीटमेंट किया जा सकता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: double markar test kya hoti hai ?
उत्तर: Featous में किसी भी क्रोमोसोमल प्रॉब्लम को सॉल्व करने के लिए गर्भावस्था के दौरान डबल मार्कर टेस्ट किया जाता है जो की ब्लड टेस्ट के द्वारा होता है यह टेस्ट यह पता लगाने में मदद करता है कि बच्चे को डाउन सिंड्रोम या एडवर्ड सिंड्रोम जैसे क्रोमोसोमल प्रॉब्लम तो नहीं है यह ज्यादातर 35 ईयर्स से ज्यादा जिन वूमेन की एज होती है उनका टेस्ट किया जाता है यह टेस्ट गर्भावस्था के 8th और 14th week के बीच में किया जाता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: Maine test karvaya hai to negative aya hai muze H C G test karvana chahiye kya
उत्तर: hello डियर गर्भावस्था के दौरान एचसीजी टेस्ट करवाना आवश्यक है क्योंकि एचसीजी का स्तर यदि गर्भवती महिलाओं में कम होता है तो गर्भपात होने का खतरा भी रहता है। इसीलिए गर्भावस्‍था में देखभाल सही रूप में होना जरूरी है।शुरूआत के तीन महीनों में एचसीजी का इंजेक्शन कंटीन्यु दिया जाता है जिससे हार्मोनल संतुलन बना रहें।ब्लड टेस्ट से hcg की मात्रा का पता लगाया जाता है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें