13 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: mai kuch bhi khati hu to seene me jlan hone lgti h esa q hota h koi serious dikkat to nh h

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर- अक्सर महिलाओं को पहली बार गर्भावस्था के दौरान एसिडिटी और छाती या पेट में जलन दरद और गैस होती है।गर्भावस्था के दौरान सीने में जलन और दरद एसिडिटी शरीर में हॉरमोनल बदलावों के कारण होती है। तैलीय या चटपटा मसालेदार खाना चॉकलेट, खट्टे फल, चाय और कॉफी, एसिडिटी को बढ़ाते है। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही लेने से एसिडिटी और जलन में आराम मिलता है।गर्भावस्था मे 12 गिलास पानी पीना चाहीये।एसीडिटि से बचने के लिये सोने से करीब तीन घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए जीर्ण भोजन न करें जल्दी पचने वाले हल्के और सुपाच्य भोजन और फल फुल जूस हरी सब्जियां आदि लें।खाना खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही सोना चाहिए जादा परेशानि होने पर डाक्टर से सलाह लें।
Answer: सीने मे जलन ऍसिडिटी की वजह से होती है ,प्रेगनेन्सी मे पाचन क्रिया स्लो हो जाती है जिसकी वजह से ऍसिडिटी गैस होता है , एक खाना से दूसरे खाना के बीच लंबा अंतराल होने से भी एसिडिटी बनने लगती . एसिडिटी की वजह से हार्टबर्न हो सकता है ठंडा दूध या एक कटोरी दही पीने से एसिडिटी में राहत मिलती है इसके साथ ही एक कप अदरक की चाय भी राहत पहुंचा सकती है, केला खाने से भी इसमें फायदा होता है. थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार भोजन खाती रहें खाना को अच्छी तरह चबाकर खाएं, रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी है, कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना खाना खा लें,कई बार लेटने से भी छाती में जलन होने लगती है. खुब पानी पिय .
Answer: डियर . प्रेग्नेन्सी मे ये नॉर्मल है काय बार ऍसिडिटी के कारण भी सीने मे जलन की समस्या आती है .अगर जब भी आपको सीने में जलन की प्रॉब्लम हो तो आप तुरंत ठंडा पानी ya dhudh पिए और थोड़ी देर टहलने के लिए निकल जाएं इससे आपको बहुत आराम मिलेगा सीने की जलन को कम करने के लिए आप अपने रोज के आहार के बाद बादाम खाने स्टार्ट कर दें इससे भी आपको फायदा मिलेगा सीने mei होने वाली जलन को कम करने के लिए आप सुबह रोज एक केला और एक सेब सारा दिन में कभी भी खा सकते हैं आप अपने खाने में रोजाना अदरक का इस्तेमाल करें या अदरक वाली चाय le..यह आपको एसिडिटी कम करने में मदद करता है ओके डियर
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: hello dr m 19 weeo pregnent hu pr mujhe पेट me kuch bhi महसुस nh hota esa lgta h ki पेट me kuch m bhi ya nh koi bhi movement nh hoti it is normal
उत्तर: जैसे जैसे आपकी प्रेगनेंसी बढ़ेगी आपका बेबी बहुत फ़ास्ट ग्रो करने लगेगा । आपको बेबी का मूवमेंट ४सी५महिने में पता चलेग। फ़र्स्ट Pregnancy में ज्यादातर माँ को यह समझ नहीं आता. बेबी लगभग 4 inch से 4.5 inch तक बड़ा हो जाएग। तब तक आपके बेबी के छोटे छोटे हाथ पैर भी बन जायेंगे और बेबी किक करना भी स्टार्ट कर देंगे । तब आपका पेट भी हल्का दिखने लगेगा. आप बेबी के सही विकास की लिए बैलेंस्ड एंड हेल्थी डाइट लीजिय। अगर आपको किसी भी प्रकार का बेबी मूवमेंट अभी तक feel नहीं हुआ है तो आप एक बार डॉक्टर से मिलकर संपर्क कर सकते हैं जिससे वह आपका पेट चेक कर कर आपको बेहतर सलाह देंगे। शुरू शुरू में पहली बार मा बनने वाली माताओं को यह समस्या होती है कि वह बेबी का मूवमेंट और गैस के बुलबुले में थोड़ा सा कंफ्यूज हो जाती है इसलिए बिल्कुल घबराएंगे नहीं आप डॉक्टर के पास जाकर अपना चेकअप करा सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mai kuch bhi khati hu to mera पेट dard hone lagta h kya kru
उत्तर: हेलो डियर, प्रेगनेंसी में पेट दर्द कभी-कभी गैस ,अपच , एसिडिटी ,कब्ज आदि के कारण भी प्रेगनेंसी में पेट दर्द होता है सामान्य पेट दर्द के लिए अदरक का रस ,पुदीने का रस ले |हींग को पानी में घोलकर पेट के आसपास लगाएं |10 से 12 गिलास पानी पिए | छाछ , दही खाएं |हल्का गुनगुने पानी में नमक व नीबू का रस डालकर पीए ,खाना खाने के बाद सौंफ या जीरा खाए पेट दर्द में राहत मिलेगी |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैम मुझे पता नहीं चलता मैं परगंत हूँ मेरा 4मंथ कम्पलीट होने वाला ह वॉमिटिंग वगैरह कुछ नहीं होता इससे कोई दिक्कत तो नहीं है ...सब कुछ खाती पीती हूँ
उत्तर: प्रेगनेंसी के दौरान उल्टी होना चक्कर आना जी मिचलाना कमर और पेट में पेट के नीचे दर्द होना। किसी भी चीज का तेज गंध आना मॉर्निंग सिकनेस होना यह सारी प्रॉब्लम्स प्रेगनेंसी के दौरान रिलीज होने वाले एस्ट्रोजन हार्मोन के कारण होता है। अगर यह हारमोंस का लेवल अच्छा होता है तो यह सारे सिम्टम्स आते हैं। और इस हारमोंस का लेवल अगर सही नहीं है तो इन सिम्टम्स में कमी होती है या नहीं आती। इसके लिए डॉक्टर से चेकअप कराना पड़ता है और डॉक्टर फोलिक एसिड और आयरन सप्लीमेंट देते हैं जिसके कारण हारमोंस का लेवल सामान्य होता है। पहले तिमाही में इन सारे सिम्टम्स के नहीं होने पर प्रेगनेंसी मैं कॉम्प्लिकेशन आने का खतरा रहता है। डॉ जरूरी होने पर हार्मोन सप्लीमेंट भी देते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
Healofy Proud Daughter