35 weeks pregnant mother

Question: muje losse motion ho raha hai mai क्या karu

सवाल
Answer: प्रेगनेंसी में लूस मोशन का होना गैस का होना यह सारी समस्याएं हो सकती है ,क्योंकि प्रेगनेंसी में पाचन की प्रक्रिया कमजोर हो जाती है कुछ घरेलू उपचार करके आप अपने लूज मोशन पर कंट्रोल कर सकती हैं अगर आपको फिर भी आराम ना मिले तो डॉक्टर से जरूर दिखाएं जब भी लूज मोशन हो पानी बहुत पिए ताकि शरीर में पानी की कमी ना हो पाए लूस मोशन के लिए आप ब्लैक कॉफी पी सकते हैं जिसमें sugar ना डालें ,ब्लैक कॉफी से आपको जल्दी आराम मिल जाएगा आप एक पके हुए केले में चुटकी भर नमक और थोड़ा सा इमली का गूदा मिक्स करके दिन में दो-तीन बार खाएं आपको आराम मिलेगा जीरा पाउडर में थोड़ा सा शहद मिक्स करके दो तीन बार थोड़ी थोड़ी मात्रा में लें आपको जल्दी आराम मिल जाएगा अपना ध्यान रखें टेक केयर
Answer: हेलो डिअर प्रेगनेंसी के टाइम दिगेंस्टीवे सिस्टम थोड़ा वीक हो जाता है और फ़ूड जल्दी डाइजेस्ट नही होता है। और अगर स्पिकी, ऑयली फ़ूड खा ले तो प्रॉब्लम ज्यादा बढ़ जाती है। इसलिए लूज मोशन हो जाते है। जब तक लूज मोशन रहता है तब तक हल्का भोजन ही ले जैसे मूंग दाल खिचड़ी जो असानी से हजाम होती है और साथ में दही जरुर ले। दलीय और ओट्स भी हल्का भोजन है ले सकती है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: mujhe 3 din se losse motion ho rahe hai aur khayi डकार भि मेन क्या karu
उत्तर: गर्भावस्था में महिलाओं को अक्सर कब्ज और दस्त जैसी परेशानीयां हो सकती है। इसके पीछे की मुख्य वजह हार्मोन में बदलाव है। तो इस समय अधिक से अधिक लिक्विड और पानी लेने की कोशिश कीजिए, क्योंकि दस्त से पानी की कमी की हो सकती है। दस्त में आपको अधिक पानी पीने और अधिक से अधिक तरल सुप जुस आदि ले सकती हैं ओआरएस का घोल या फिर पानी पीने से पेट का इंफेक्‍शन काफी साफ हो सकता है। आप चाहे तो शहद में पानी मिला कर भी पी सकती हैं। इसमें अलावा उबला हुआ सेब और कच्‍चे केले खाने में ले सकते हैं।आयरन सप्‍पलीमेंट के कारन भी कभी कभी गर्भवती महिलाओं को सूट नहीं करता। लेकिन आपको डॉक्‍टर प्रेगनेंसी के आयरन सप्‍पलीमेंट दे सकते हैं। खाने में आप सुपाच्य भोजन और दाल चावल खिचडी़ दही आदी ले सकते हैं। अगर आपके दस्त दो-तीन दिनों के बाद खत्म नहीं होता तो अपने डॉक्टर से जरूर चेकअप करांए। ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe loose motion ho raha hai mai kya karu
उत्तर: डियर ...अगर आपके पेट में वायरस या फूड पाइज़निंग हो गयी है, तो हाइड्रेटेड रहने के लिए बहुत सारा पानी पिएं.. डेयरी खाद्य पदार्थों का सेवन न करें और केले, चावल, सूप या टोस्ट जैसे आसानी से पचने वाले खाद्य पदार्थों को खाएं..जब तक आपको दस्त में आराम महसूस न हो तब तक वसा युक्त खाद्य पदार्थ न खाएं.. इन सब बातों का पालन करने पर आपको 24 घंटों या उससे भी कम समय में बेहतर महसूस होगा..khub pani piye....or nariyal pani ,dahi ,chach,or ors ka ghol bhi lete rahna chahiye...esse asp ko dehydration nahi hoga..डॉक्टर को अपने लक्षणों के बारे में बताएं और पूछें कि ऐसे में कौन सी दवा लेना सुरक्षित होगा.. उसके अनुसार ही दवा लें...Ok take care dear
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mera 9 month chal raha h mujhe losse motion ho gaye hai kya bkru
उत्तर: गर्भावस्था में महिलाओं को अक्सर कब्ज और दस्त जैसी परेशानीयां हो सकती है। इसके पीछे की मुख्य वजह हार्मोन में बदलाव है। तो इस समय अधिक से अधिक लिक्विड और पानी लेने की कोशिश कीजिए, क्योंकि दस्त से पानी की कमी की हो सकती है। दस्त में आपको अधिक पानी पीने और अधिक से अधिक तरल सुप जुस आदि ले सकती हैं ओआरएस का घोल या फिर पानी पीने से पेट का इंफेक्‍शन काफी साफ हो सकता है। आप चाहे तो शहद में पानी मिला कर भी पी सकती हैं। इसमें अलावा उबला हुआ सेब और कच्‍चे केले खाने में ले सकते हैं।आयरन सप्‍पलीमेंट के कारन भी कभी कभी गर्भवती महिलाओं को सूट नहीं करता। लेकिन आपको डॉक्‍टर प्रेगनेंसी के आयरन सप्‍पलीमेंट दे सकते हैं। खाने में आप सुपाच्य भोजन और दाल चावल खिचडी़ दही आदी ले सकते हैं। अगर आपके दस्त दो-तीन दिनों के बाद खत्म नहीं होता तो अपने डॉक्टर से जरूर चेकअप करांए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें